• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Entry Of Paddy Of Uttar Pradesh On The Portal Of Karnal, Local Farmers Bringing Their Crops To The Mandis, No Checking, Action On Disturbances In Karnal, Purchase Agency's Purchase Officer Changed

धान खरीद में भ्रष्टाचार:करनाल के पोर्टल पर उत्तर प्रदेश के धान को एंट्री, मंडियों तक उनकी फसल ला रहे स्थानीय किसान, कोई चेकिंग नहीं, खरीद एजेंसी के परचेज अधिकारी बदले

हरियाणा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनाजमंडी में ट्रैक्टर-ट्रॉली से धान उतारता यूपी का किसान। - Dainik Bhaskar
अनाजमंडी में ट्रैक्टर-ट्रॉली से धान उतारता यूपी का किसान।
  • राइस मिलर्स को धान देना बंद
  • मार्केट कमेटी ने बाहरी राज्यों के 20 वाहन पकड़े थे

करनाल की मंडियों में चल रही गड़बड़ी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यहां के पोर्टल में यूपी के धान को एंट्री मिल रही है। फसल किसी और की, लेकिन स्थानीय किसान उनके वाहनों पर बैठकर आ रहे हैं। इतना ही नहीं, मंडी का गेटपास दिलवाकर वापस चले जाते हैं। अहम बात है कि इनकी चेकिंग तक नहीं की जा रही। मार्केट कमेटी के अधिकारियों को सूचना भी दी गई, लेकिन वह फिर भी चेकिंग के लिए नहीं पहुंचे। घीड़ अनाजमंडी में पकड़े गए भ्रष्टाचार के मामले में केस दर्ज होने के 24 घंटे के बाद भी मार्केट कमेटी के अधिकारी गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं। यह गड़बड़ी पूरे जिले में हो रही है।

अधिकारियों का तर्क है कि इस तरह की गड़बड़ी कैसे पकड़ें। गेटपास पर लोकल किसान का आधार कार्ड दिखाते हैं। इधर, घीड़ अनाजमंडी गड़बड़ी के मामले में खरीद एजेंसी के परचेज अधिकारी और राइस मिलर पर कार्रवाई की गई है।

दूसरी तरफ, अब तक राज्य भर में हैफेड को आवंटित 127 मंडियों और खरीद केंद्रों से 6.24 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद की जा चुकी है, जो राज्य में 19.83 लाख मीट्रिक टन धान की कुल खरीद का लगभग 32 प्रतिशत है। खरीद 15 नवंबर तक चलेगी।

हैफेड के प्रबंध निदेशक ए श्रीनिवास ने बताया कि प्रदेश में धान की खरीद सुचारू रूप से चल रही है। उनका दावा है कि मंडियों से अब तक 50 प्रतिशत धान उठा लिया गया है। अब तक 439 करोड़ रुपए सीधे किसानों के बैंक खाते में डाले गए हैं। वहीं, कुछ क्षेत्रों में किसानों को आ रही दिक्कतों को देखते हुए मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल को खोला गया है। इस पोर्टल पर किसान 17 अक्टूबर तक रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

दोनों खरीद एजेंसी के परचेज अधिकारियों को बदला गया

घीड़ मंडी में भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते सरकारी खरीद एजेंसी खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के नियंत्रक अशोक रावत ने कार्रवाई करते हुए दोनों परचेज अधिकारियों को तुरंत प्रभाव से हटा दिया है। उनको नोटिस जारी किए गए। 5 राइस मिलर्स का काम बंद कर दिया है। हैफेड के डीएम अनिल अहलावत इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं।

अधिकारियों ने भी माना यूपी का धान मंडियों में आ रहा

मार्केट कमेटी के सचिव चंद्रप्रकाश का कहना है कि यूपी का धान करनाल मंडी में आने की सूचना मिली है। जिनके नाम पोर्टल पर हैं, वहीं किसान फसल के साथ आते हैं। इसकी जानकारी प्रशासन को दे दी गई है। पलवल, होडल समेत दूरदराज जिले के पोर्टल का धान भी आया था। ऐसे 20 वाहन हमने मंडी में एंट्री नहीं करने दिए।

खबरें और भी हैं...