पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Factors Will Also Have To Be Registered This Time, The Amount Should Not Go To Other Accounts, Hence The Decision Taken

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फसल खरीद:आढ़तियों को भी इस बार कराना होगा पंजीकरण, राशि दूसरे खातों में न जाए, इस कारण लिया निर्णय

राजधानी हरियाणा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

रबी सीजन की खरीद प्रक्रिया को लेकर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस बार आढ़तियों के लिए भी खरीद से पहले पंजीकरण कराना होगा। किसानों और आढ़तियों के लिए पोर्टल 11 जनवरी को खोल दिया जाएगा। ऐसा इसलिए किया है, ताकि पिछले साल की तरह अनाज की राशि दूसरे खातों में न पहुंचने जाएं।

आढ़तियों को अपना खाता नंबर देना होगा। इनको विभाग पहले से वेरिफाई कराएगा, ताकि अप्रैल-मई में गेहूं या सरसों की राशि सही खातो में जाए। प्रदेश में करीब 17 हजार सक्रिय आढ़ती हैं। इस बार करीब 300 अनाज मंडियों में किसानों से रबी की खरीद की जाएगा। पिछले साल कोरोना की वजह से 1800 से अधिक खरीद केंद्र खोले थे।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि रबी फसलों की खरीद के समय किसानों को मंडियों में अपनी फसल बिक्री के दौरान किसी प्रकार की समस्या नहीं आनी चाहिए।

उन्होंने इसको लेकर अधिकारियों की बैठक ली। निर्देश दिए कि प्रदेश में जौ की फसल का भी सर्वे करवाया जाए। किसान की फसल की खरीद होने के बाद उनकी पेमेंट निर्धारित अवधि में उनके खाते में ट्रांसफर हो जानी चाहिए। फसल की तुलाई से लेकर पैकिंग और ट्रांसपोर्ट किए जाने तक हर प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी ली व सुझाव भी दिए।

गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रुपए तय

सरकार ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रुपए, जौ का 1600 रुपए, सरसों का 4650 रुपए और सूरजमुखी का 5327 रुपए प्रति क्विंटल न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया हुआ है।

31.92 लाख हेक्टेयर में रबी की फसलों की बिजाई

इस बार 31.92 लाख हेक्टेयर में रबी की फसलों की बिजाई की गई है। जबकि, पिछली बार प्रदेश में 31.10 लाख हेक्टेयर में फसलें थीं। यानी अबकी बार प्रदेश में करीब 82 हजार हेक्टेयर अधिक रबी की फसलें हैं।

गेहूं 25.20 लाख हेक्टेयर जौ 20 हजार हेक्टेयर चना 38 हजार हेक्टेयर सरसों 6.10 लाख हेक्टेयर

11 जनवरी से खुलेगा मेरी फसल मेरा ब्योरा का पोर्टल

इस बार आढ़तियों को भी पंजीकरण कराना होगा। अपना खाता नंबर बताना होगा। ताकि राशि सही खाते में जाए। किसानों के लिए 11 जनवरी से मेरी फसल मेरा ब्योरा का पोर्टल खोला जा रहा है। किसान इस पर पंजीकरण करा सकेंगे। इसी दिन आढ़तियों के लिए भी पंजीकरण शुरू हो जाएगा।
-पीके दास, अतिरिक्त मुख्य सचिव, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser