हरियाणा एंटी करप्शन इम्पावर्ड कमेटी पुनर्गठित:पॉलिसी बनाने के साथ भ्रष्टाचार विरोधी उपायों को लागू कराएगी, 7 सदस्य होंगे

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल - Dainik Bhaskar
हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल

हरियाणा में भ्रष्टाचार पर ब्रेक लगाने के लिए एंटी करप्शन इम्पावर्ड कमेटी का पुनर्गठन किया गया है। यह कमेटी राज्य में भ्रष्टाचार को रोकने के लिए नीतियां बनाने के साथ ही पॉलिसी भी बनाएगी। इसके साथ ही कमेटी भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (1988) की धारा 19 के तहत मुकदमे की स्वीकृति के लिए अधिकारियों के पास रूके हुए आवेदनों की प्रगति की समीक्षा करेगी।

करप्शन के अपराधों में राज्य सतर्कता ब्यूरो और मंडल सतर्कता ब्यूरो द्वारा की गई जांच की प्रगति के अलावा ऐसे अपराध जिनके साथ एक ही मुकदमे में एक लोक सेवक पर आरोप लगाया जा सकता है, की समीक्षा भी करेगी। यह समिति CM फ्लाइंग स्क्वाड के पास लंबित जांच और उसकी निगरानी, मुख्य सतर्कता अधिकारियों के पास लंबित जांच और जिला सतर्कता समितियों के पास लंबित जांच भी पूरी करेगी।

ऐसा होगा कमेटी का स्ट्रक्चर

एंटी करप्शन इम्पावर्ड कमेटी का चेयरमैन मुख्य सचिव को बनाया गया है। महाधिवक्ता को आमंत्रित सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। विजिलेंस विभाग के सचिव को सदस्य सचिव की जिम्मेदारी दी गई है।

कमेटी में 7 सदस्य

कमेटी में 7त सदस्यों को रखा गया है। इनमें वित्त एवं राजस्व आपदा प्रबंधन विभाग और गृह एवं प्रशासन न्याय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव, DGP, राज्य सतकर्ता ब्यूरो महानिदेशक, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (CID) और अभियोजन विभाग के निदेशक को शामिल किया गया है।

खबरें और भी हैं...