• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Haryana Panchayat Election Third Phase | Live Voting, Haryana Panchayat Chunav Voting Perentage, Panchayat Election Voting Result

हरियाणा पंचायत चुनाव का अंतिम चरण:4 जिलों में 6 बजे तक 70% वोटिंग; फतेहाबाद सबसे आगे, फरीदाबाद पिछड़ा

चंडीगढ़2 महीने पहले

हरियाणा पंचायत चुनाव के अंतिम चरण की वोटिंग का समय समाप्त हो गया है। शाम 6 बजे तक 4 जिलों में 70% वोटिंग हुई है। यह मतदान हिसार, फरीदाबाद, फतेहाबाद और पलवल जिले में हुआ। वोटिंग में फतेहाबाद सबसे आगे रहा, यहां 75.7 फीसदी वोट पड़े। जबकि फरीदाबाद में मतदान सबसे कम रहा, यहां 65.2 प्रतिशत लोगों ने ही मतदान में प्रतिभाग किया।

मंत्री ने फतेहाबाद में वोट डाला
हरियाणा के पंचायती राज मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने फतेहाबाद जिले में मतदान बंद होने से एक घंटे पहले वोट डाला। बबली ने टोहाना स्थित अपने गांव बढ़ईखेड़ा में परिवार के साथ मतदान किया।

पंचायत चुनाव में मतदान करते मंत्री देवेंद्र बबली।
पंचायत चुनाव में मतदान करते मंत्री देवेंद्र बबली।

फतेहाबाद में हंगामा करती भीड़ को खदेड़ा
वहीं, फतेहाबाद के गांव भिरडाना में 6 नंबर वार्ड से जिला परिषद के प्रत्याशी ज्योति रानी के पति दीपक ने बूथ के बाहर किया हंगामा किया। इसका पता चलते ही भारी पुलिस फोर्स वहां पहुंच गई। वहां कहा गया कि कुछ एक व्यक्ति लोगों को खास निशान पर वोट डालने के लिए कह रहा था। जिसके बाद बवाल मचा। पुलिस ने बाद में वहां जमा भीड़ को खदेड़ दिया।

हिसार में जिला परिषद उम्मीदवार भिड़े
हिसार में मतदान से पहले जिला परिषद के उम्मीदवारों में झगड़ा हो गया। वार्ड नंबर दस के उम्मीदवार भगत सिंह ने अपने प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार आशीष गोदारा पर फायर करने व अपहरण का प्रयास करने के आरोप लगाया।

पुलिस ने भगत सिंह की शिकायत पर आशीष गोदारा और उसके साथी बजीर पर मामला दर्ज कर लिया है। भगत सिंह ने कहा कि आरोपी आशीष गोदारा के खिलाफ पहले भी हत्या का मुकदमा दर्ज है और वह नामी बदमाश है। इसके साथी भी हिस्ट्रीशीटर थे। आरोपी मुझे मारकर क्षेत्र में दहशत पैदा करके चुनाव जीतना चाहते हैं।

चारों जिले में कुल 22 लाख 9 हजार 949 मतदाताओं में से शाम 6 बजे तक 15 लाख 66 हजार 753 मतदाताओं ने ही वोट डाला। 27 नवंबर को प्रदेश भर की जिला परिषद और पंचायत समितियों की सीटों के परिणाम घोषित होगा।

जिलावाइज मतदान की स्थिति..

जिलाकुल वोटरमतदान कर चुके वोटरमतदान
हिसार9,06,3466,150,05167.8%
फरीदाबाद2,27,7961,48,64265.2%
फतेहाबाद5,30,2444,01,15875.7%
पलवल5,62,4194,01,90264.0%

मतदान की तस्वीरें:-

हिसार में मतदान के लिए कतार में खड़ी महिलाएं।
हिसार में मतदान के लिए कतार में खड़ी महिलाएं।
हिसार में मतदान केंद्र के बाहर खड़े मतदाता।
हिसार में मतदान केंद्र के बाहर खड़े मतदाता।
मतदान केंद्र में वोटिंग कर बाहर निकलते स्वामी सच्चिदानंद गिरी महाराज
मतदान केंद्र में वोटिंग कर बाहर निकलते स्वामी सच्चिदानंद गिरी महाराज
फतेहाबाद में मतदान केंद्र के बाहर लाइन में खड़ी महिलाएं।
फतेहाबाद में मतदान केंद्र के बाहर लाइन में खड़ी महिलाएं।
मतदान के बाद बाहर आते बुजुर्ग मतदाता।
मतदान के बाद बाहर आते बुजुर्ग मतदाता।

781 हाइपर सेंसिटिव बूथ
इन चारों जिलों में 615 सेंसिटिव और 781 हाइपर सेंसिटिव बूथ हैं। हिसार में 265 संवेदनशील और 360 अतिसंवेदनशील बूथ हैं। इसी प्रकार पलवल में 211 व 295, फरीदाबाद में 84 व 84 और फतेहाबाद जिले में 55 सेंसिटिव और 42 बूथ हाइपर सेंसिटिव हैं। नियमों के मुताबिक संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों पर पुलिस के अतिरिक्त जवानों को तैनात किया जाता है।

महिलाओं के लिए 19 सीटें आरक्षित
जिला परिषद की कुल 78 सीटों हैं, इनमें फरीदाबाद की 10, फतेहाबाद की 18, हिसार की 30 और पलवल की 20 हैं। इनमें से कुल 19 सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित हैं, इनमें अनुसूचित जाति की महिलाएं भी शामिल हैं। इनमें फरीदाबाद में 2, फतेहाबाद 6, हिसार 7 और पलवल में 4 सीटें हैं। इसके अलावा, चारों जिलों में कुल 7 सीटें BC-A वर्ग के लिए आरक्षित की गई हैं।