कोरोना संक्रमितों की मदद को बढ़े हाथ:जरूरतमंदों को पहुंचा रहे मदद, बुरे दौर में एक-दूसरे का सहारा बनकर खड़े हुए लोग

हरियाणा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुरुक्षेत्र में खाना पैक करते होटल कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
कुरुक्षेत्र में खाना पैक करते होटल कर्मचारी।
  • भिवानी, रोहतक, कुरुक्षेत्र और पानीपत में संक्रमितों की सहायता के लिए आगे आए लोग, उठा रहे खाने की जिम्मेदारी

अनेक लोग ऐसे हैं, जो दिन में कमाई कर शाम को खाना खाना पाते हैं। जब ऐसे लोग कोरोना की चपेट में आते हैं तो उनके सामने भोजन की भी दिक्कतें आ रही हैं। ऐसे समय में कुछ लोग हैं, जो जरूरतमंदों के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं, ऐसी ही कई संस्था है, जो अब कोरोना से लड़ने में लोगों की मदद कर रही है। कई संस्थाओं ने मुहिम शुरू कर जरूरतमंदों के घर तक भोजन पहुंचाने का बीड़ा अपने सिर उठाया है।

संस्थाओं के प्रधान बोले- हर जरूरतमंद के लिए 24 घंटे खुले हैं दरवाजे, सिर्फ मैसेज से सूचना दें, पहुंचेगी मदद

कोई भी जरूरतमंद खाने को नंबर पर मैसेज करें

भिवानी, संस्था के संस्थापक लोकेश का कहना है कि आमजन बहुत बुरे दौर से गुजर रहा है। सभी के सामने अनेक समस्याएं हैं। ऐसे में जरूरी है कि सब एक-दूसरे का सहारा बनकर बुरे दौर से लड़ें। भिवानी में संस्था कोरोना मरीज के लिए डाइट की व्यवस्था कर रही है। इसके लिए संस्था ने हेल्पलाइन नम्बर 8607407867 जारी किया है। जिस पर कोई भी कोविड पेशेंट की डिटेल व खाने की मात्रा के संबंध में मैसेज भेज सकता है। संस्था की तरफ से तुरंत प्रभाव से उक्त कोविड पेशेंट के पास भोजन पहुंचा दिया जाता है। अन्य कोई जरूरतमद व्यक्ति नि:संकोच होकर भोजन के लिए मैसेज कर सकता है।

होम आइसोलेट मरीजों के लिए शुरू की भोजन सेवा

रोहतक, सति भाई साई दास सेवा दल की ओर से होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के लिए भोजन सप्लाई करने का फैसला लिया है। बुधवार को जरूरतमंद लोगों के घर तक भोजन पहुंचाने के लिए गाड़ी को रवाना किया गया। सेवा दल के प्रधान नरेश आनंद ने बताया कि पीजीआई मेडिकल में एडमिट सभी कोरोना पीड़ितों को भोजन सेवा उपलब्ध कराई जा रही है। दोपहर व शाम का भोजन दिए जाने की सुविधा है। संक्रमिताें के लिए निशुल्क आवास, भोजन, दवा, काढ़ा, फल, दूध व भाप की व्यवस्था है।

कुरुक्षेत्र में मरीजों को फ्री भोजन की होम डिलीवरी

कुरुक्षेत्र, कोरोना काल मे सामाजिक धार्मिक संगठन मदद को हाथ बढ़ाने लगे हैं। कोई फ्री भोजन मुहैया करा रहा है तो कोई ऑक्सीजन सिलेंडर का बंदोबस्त करने में मरीजों के परिजनों की मदद कर रहा है। शहर के सैफरॉन होटल ने मरीजों को फ्री में भोजन देने की शुरुआत की है। रोज 40-50 लोगों को खाना उनके घर पहुंचाया जा रहा है। होटल संचालक विजय बजाज के मुताबिक होटल की तरफ से उन मरीजों को खाना दिया जाएगा, जो आर्थिक या अन्य दिक्कत में हैं। होटल की तरफ से एक नंबर भी जारी किया है। इस पर रिपोर्ट व नाम-पता एड्रेस देना होगा। जिसके बाद उनके घर तक खाना भिजवाया जाएगा।

प्लाज्मा डोनर - जान बचाने की जद्दोजहद

संक्रमित मरीज के लिए 100 किमी दूर से आकर प्लाज्मा देकर निभाया फर्ज

पानीपत, पानीपत में पिछले 8 दिनाें में 70 से ज्यादा लाेगाें की जान जा चुकी है, जिसमें 38 लाेग पानीपत के हैं, बाकी अन्य शहराें या राज्याें के निवासी हैं। इस दाैर में कुछ लाेग मानवता का फर्ज निभाने के लिए अागे अा रहे हैं। काेराेना संक्रमित मरीज के लिए 100 किमी दूर से आकर उत्तर प्रदेश के सौरभ ने प्लाज्मा दान कर मानवता का फर्ज निभाया है। आठ मरला स्थित रविंद्रा अस्पताल में दिल्ली का रहने वाला एक व्यक्ति भर्ती है, जाे काेराेना से ग्रस्त है। उनके परिजनों ने पानीपत निवासी हैल्पिंग यूथ सोसायटी के प्रधान प्रवीण वर्मा से संपर्क किया।

इसके बाद पानीपत के दाे डाेनर रिजेक्ट हुए हाेने के बाद यूपी में जयहिंद सामाजिक संस्था के संस्थापक उमंग शर्मा से संपर्क किया गया। संस्था ने सौरभ सिंह से संपर्क किया गया, जो मार्च में संक्रमित होकर रिकवर हुए थे। शुभम बुधवार सुबह 10 बजे निजी वाहन से अस्पताल पहुंचे। सौरभ सिंह ने पहला प्लाज्मा दान किया।

खबरें और भी हैं...