पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar (Haryana): Armyman Gone Killed In A Road Accident In Hisar, He Just Left The Home To Join Duty

हिसार में दर्दनाक हादसा:बस का इंतजार कर रहे फौजी को एम्बुलेंस ने रौंदा, मौत; छुट्‌टी के बाद ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए घर से निकला था

हिसार7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हिसार के उकलाना में फौजी को टक्कर मारने के बाद घटनास्थल पर खड़ी एंबुलेंस और वहां जमा लोग। इस हादसे में फौजी की जान चली गई। - Dainik Bhaskar
हिसार के उकलाना में फौजी को टक्कर मारने के बाद घटनास्थल पर खड़ी एंबुलेंस और वहां जमा लोग। इस हादसे में फौजी की जान चली गई।

हिसार में शुक्रवार को भारत मां का एक लाडला हादसे का शिकार हो गया। एक महीने की छुट्‌टी काटकर श्रीनगर में तैनात ये फौजी ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए घर से निकला ही था। इंतजार बस का हो रहा था और उससे पहले ही एंबुलेंस काल बनकर आ गई। एम्बुलेंस के नीचे फंसे फौजी के पार्थिव शरीर को बड़ी मुश्किल से निकाला गया। सूचना के बाद पुलिस ने मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

35 साल के बिरेंद्र जिले के गांव मिर्चपुर का रहने वाला था। बिरेंद्र पिछले 15 साल से सेना में था। इन दिनों श्रीनगर में GRIP में तैनात यह बिरेंद्र पिछले 1 महीने से छुट्‌टी पर आया हुआ था। शुक्रवार को सुबह ड्यूटी पर जाने के लिए राजस्थान से आकर यहां से गुजरकर जम्मू जाने वाली बस पकड़नी थी।

गांव मिर्चपुर के रहने वाले फौजी बिरेंद्र की फाइल फोटो।
गांव मिर्चपुर के रहने वाले फौजी बिरेंद्र की फाइल फोटो।

इस बारे में बिरेंद्र के चचेरे भाई सुरेंद्र ने बताया कि क्योंकि यह बस बरवाला में नहीं रुकती, इसलिए बिरेंद्र उकलाना के सूरेवाला चौक बाईपास चौक पर पहुंच गया। वहां बस का इंतजार कर रहा था तो उसी दौरान एक तेज रफ्तार एम्बुलेंस ने आकर टक्कर मार दी। इससे बिरेंद्र की मौके पर ही जान चली गई और पार्थिव शरीर एम्बुलेंस में बुरी तरह से फंस गया। आसपास के लोगों और सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बड़ी मुश्किल से उसे निकाला।

घटना के बारे में जानकारी देता फौजी बिरेंद्र का चचेरा भाई सुरेंद्र।
घटना के बारे में जानकारी देता फौजी बिरेंद्र का चचेरा भाई सुरेंद्र।

सुरेंद्र ने बताया कि बिरेंद्र के पिता सतपाल हरियाणा रोडवेज से रिटायर्ड थे, जिनकी और दूसरे भाई नरेंद्र की कुछ वक्त पहले मौत हो चुकी है। अब बिरेंद्र अपने पीछे पत्नी और तीन बच्चे छोड़ गया है। इनमें दो लड़के और एक लड़की है। हादसे के बाद परिवार का बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं...