पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • In Tohana, Tikait Stayed On A Dharna In The Police Station For 2 Days, Took The Convoy From Ambala To Chadhuni Kundli, The Siege Of The Police Stations Today

बबली विवाद:टोहाना में 2 दिन से थाने में धरने पर टिके टिकैत, अम्बाला से काफिला ले चढ़ूनी कुंडली पहुंचे, थानों का घेराव आज

टोहाना/राई/अम्बाला13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला सिटी| शंभु बाॅर्डर से रवाना हाेने के दाैरान जाम में फंसे वाहन। इस बार किसान ट्रैक्टर के बजाए कारों में दिखाई दिए।फाेटाे: राजेश कश्यप - Dainik Bhaskar
अम्बाला सिटी| शंभु बाॅर्डर से रवाना हाेने के दाैरान जाम में फंसे वाहन। इस बार किसान ट्रैक्टर के बजाए कारों में दिखाई दिए।फाेटाे: राजेश कश्यप
  • किसान आंदोलन तेज करने की तैयारी - मंदसौर पुलिस फायरिंग के शहीदों की याद में मनाया संकल्प दिवस
  • तीन जिलों के किसान टोहाना में जुटेंगे, बाकी अपने-अपने जिलों में करेंगे घेराव

प्रदेश में किसान आंदोलन गेहूं सीजन के बाद फिर तेजी पकड़ने लगा है। दूसरी ओर टोहाना में बबली विवाद थमने का नहीं ले रहा। वहां 2 दिन से किसान नेता राकेश टिकैत डटे हुए हैं। इधर, अम्बाला के शंभू बॉर्डर से भाकियू प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी किसानों का काफिला लेकर कुंडली बॉर्डर पहुंचे।

संयुक्त किसान मोर्चा की कुंडली बॉर्डर पर बार-बार मीटिंग हो रही हैं। सरकार के हर सवाल का मुंहतोड़ जवाब देने की रणनीति बनाई जा रही है। संयुक्त किसान मोर्चा ने 7 जून को प्रदेश के सभी थानों का घेराव करने का भी wलान कर दिया है। चढ़ूनी ने कहा कि ऐसे काफिले हर जिले से निकाले जाएंगे। वे सरकार को दिखा देंगे कि किसान आंदोलन कमजोर नही हुआ है, बल्कि किसानों ने केंद्र व प्रदेश की सरकार को कमजोर कर दिया है।

किसानों का जोश पहले से भी अधिक है और जैसे-जैसे आंदोलन आगे बढ़ेगा, किसान आंदोलन को मजबूत करेंगे। सभी नागरिकों से स्थानीय पुलिस थानों में विरोध प्रदर्शन में शामिल होने की अपील की जा रही है। फतेहाबाद, जींद और हिसार के किसान सामूहिक शक्ति दिखाने के लिए टोहाना थाने में बड़ी संख्या में इकट्ठा होंगे।

अन्य जिलों के किसान अपने-अपने स्थानीय थानों में प्रदर्शन करें। संयुक्त किसान मोर्चा ने 2017 में मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस की बर्बरता में मारे गए छह शहीदों की याद में संकल्प दिवस मनाया। इस दौरान आंदोलन स्थलों कार्यक्रम किए गए।

ट्रैक्टर गायब, कारें पहुंची कुंडली
ट्रैक्टर गायब, कारें पहुंची कुंडली

अम्बाला से टोहाना आना था काफिला, जो कुंडली भेजा

स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि गिरफ्तार किसानों की रिहाई के लिए प्रशासन के साथ रात 1 बजे से ढाई बजे तक बातचीत हुई, जिसमें कोई निर्णय नहीं हुआ। रविवार को अम्बाला से दिल्ली जाने वाला एक हजार गाड़ियों के काफिले की टोहाना आने की भनक लगी तो प्रशासन ने सुबह 11 बजे बैठक शुरू कर दी। 4 घंटे की बातचीत बेनतीजा रही। आरोप लगाया कि प्रशासन ने सोचा होगा काफिला तो दिल्ली चला गया।

टोहाना में टिकैत बोले- दिल्ली को बचाने का प्रयास न करे सरकार

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि प्रशासन के रवैये को देखकर लगता है कि यह मामला लंबा चलने वाला है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार नहीं मानेगी तो मजबूरन टोहाना में तीसरा पक्का मोर्चा लगाना पड़ेगा जो उनके लिए आसान होगा क्योंकि यहां मोर्चा लगने से हरियाणा व पंजाब के लोग आसानी से संघर्ष कर सकेंगे। उन्होंने प्रदेश सरकार से कहा कि वह दिल्ली को बचाने का प्रयास न करे।

टोहाना थाने में गाय लेकर पहुंचे किसान बोले- यहीं बांधेंगे पशु

टोहाना| थाने में धरने पर एक किसान अपनी गाय को लेकर पहुंच गया। किसान ने कहा कि पुलिस ने मांगें नहीं मानी तो यहां पक्का मोर्चा बनाकार लगातार धरना दिया जाएगा। अपने पशु भी यहीं ले आएंगे।
टोहाना| थाने में धरने पर एक किसान अपनी गाय को लेकर पहुंच गया। किसान ने कहा कि पुलिस ने मांगें नहीं मानी तो यहां पक्का मोर्चा बनाकार लगातार धरना दिया जाएगा। अपने पशु भी यहीं ले आएंगे।

टोहाना में टिकैत बोले- दिल्ली को बचाने का प्रयास न करे सरकार

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि प्रशासन के रवैये को देखकर लगता है कि यह मामला लंबा चलने वाला है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार नहीं मानेगी तो मजबूरन टोहाना में तीसरा पक्का मोर्चा लगाना पड़ेगा जो उनके लिए आसान होगा क्योंकि यहां मोर्चा लगने से हरियाणा व पंजाब के लोग आसानी से संघर्ष कर सकेंगे। उन्होंने प्रदेश सरकार से कहा कि वह दिल्ली को बचाने का प्रयास न करे।

खबरें और भी हैं...