पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Instructions In The Official Guideline Do Not Leave The House Without Reason, But Everyone Should Count Their Own Reasons.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लॉकडाउन का पहला दिन:सरकारी गाइडलाइन में निर्देश- बिना कारण घर से न निकलें, पर सबने गिनवाए अपने-अपने कारण

हरियाणा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला सिटी के शंभू बाॅर्डर पर बिना निगेटिव रिपोर्ट व कोरोना की दोनों डोज नहीं लगवाने वालों को वापस भेजते पंजाब के पुलिस कर्मी। - Dainik Bhaskar
अम्बाला सिटी के शंभू बाॅर्डर पर बिना निगेटिव रिपोर्ट व कोरोना की दोनों डोज नहीं लगवाने वालों को वापस भेजते पंजाब के पुलिस कर्मी।
  • बेवजह घूमने से बाज नहीं आ रहे लोग, जबकि प्रदेश में अब तक 4882 लोग गंवा चुके जान
  • गृहमंत्री विज ने कहा- लोगों ने नियमों का पालन किया होता तो लॉकडाउन की जरूरत न होती
  • निगेटिव रिपोर्ट और वैक्सीन की दो डोज लगवाए बिना पंजाब में नो एंट्री

प्रदेश में लॉकडाउन के पहले दिन करियाना, दवाइयां व अन्य जरूरी वस्तुओं को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहीं। सुबह-शाम सब्जी मंडी के बाहर रेहड़ी वालों ने सब्जियां बेची, जिनपर काफी भीड़ रही। यहां लॉकडाउन जैसी स्थिति नहीं दिखी। शहरों में लोग पैदल व वाहनों पर घूमते नजर आए। उन्हें किसी ने नहीं रोका।

नाकों पर पुलिस तैनात जरूर थी, लेकिन बेवजह घूम रहे लोगों से पूछताछ नहीं की गई। लोग अपनी मर्जी के हिसाब से आते-जाते रहे। लगभग सभी बस स्टैंड पर यात्रियों की संख्या बहुत कम थी, जिसके चलते कम बसें चलीं। निजी बसें बंद रही। अब प्रदेश के लोगों को भी संक्रमण रोकने के लिए आगे आना होगा। सरकार के निर्देश हैं कि बिना कारण घर से न निकलें, लेकिन जहां भी किसी को पुलिस ने रोका तो सबने अपने-अपने कारण गिनवा दिए, जिसके बाद फटकार लगाकर घर भेजा गया।

खुद नहीं रुके तो सख्ती को तैयार रहें: अम्बाला कैंट में लाॅकडाउन में बाहर घूम रहे लाेगाें काे उठक-बैठक करवाते पुलिस कर्मी। चेतावनी दी कि दोबारा बाहर दिखे तो केस दर्ज करेंगे।
खुद नहीं रुके तो सख्ती को तैयार रहें: अम्बाला कैंट में लाॅकडाउन में बाहर घूम रहे लाेगाें काे उठक-बैठक करवाते पुलिस कर्मी। चेतावनी दी कि दोबारा बाहर दिखे तो केस दर्ज करेंगे।

सोमवार को गृहमंत्री अनिल विज ने इशारा किया कि यदि लोगों ने नियमों का पालन नहीं किया तो और सख्ती की जा सकती है। विज ने कहा- यदि लोगों ने कोरोना के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया होता तो प्रदेश में एक सप्ताह के लॉकडाउन की जरूरत नहीं पड़ती।

उन्होंने कहा कि सरकार ने संक्रमण का चक्र तोड़ने के लिए लॉकडाउन लगाया है। विज ने यह भी कहा कि कोरोना काल में बहुत सारे लोग भोजन, दवाइयां आदि को लेकर लोगों की मदद कर रहे हैं तो कुछ लोग (उनका इशारा विपक्षी नेताओं की तरफ था) केवल बातें कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जो लोग दवाइयों की कालाबाजारी कर रहे हैं, उनके ऊपर कई जगहों पर कार्रवाई की की गई है। यह कार्रवाई जारी रहेगी। रेमडेसिवीर को लेकर कमेटियां बना दी गई हैं।

हरियाणा के सभी शहरों में ढिलाई का फायदा उठाकार बाहर घूमते रहे लोग, इससे ज्यादा पंजाब के बॉर्डर पर दिखी सख्ती

अम्बाला: सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना से बाजार खुला

लॉकडाउन की गाइड लाइन को लेकर कई जगह भ्रम की स्थिति दिखी। अम्बाला प्रशासन रविवार देर रात तक भी गाइडलाइन जारी नहीं कर पाया था लेकिन सोशल मीडिया पर भ्रामक जानकारी फैल गई। अम्बाला सिटी में दाल बाजार में बहुत सी करियाना की दुकानें सुबह 6 बजे ही खुल गई। सोशल मीडिया पर गलत जानकारी दी गई थी कि करियाना की दुकानें सुबह 6 से 11 बजे तक खुल सकेंगी। बाद में पुलिस ने बाजार बंद करवाया।

गलती को दोहराया: रेवाड़ी में लोगों ने रेहड़ी वालों से सामान खरीदते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया।
गलती को दोहराया: रेवाड़ी में लोगों ने रेहड़ी वालों से सामान खरीदते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया।

अम्बाला कैंट में सड़कों पर आवाजाही दिखी, हालांकि प्रमुख बाजार बंद रहे। सड़कों पर बेवजह घूम रहे कुछ लोगों को पुलिस ने कान पकड़ कर उठक-बैठक लगवाई। वहीं, शंभू बाॅर्डर पर पंजाब पुलिस के कर्मचारियों ने हरियाणा की गाड़ियों को वापस लौटाया।

करनाल: सामान लेने की कही, बहाना न सुन काटे चालान

करनाल में दो युवकों ने कहा- सर, करियाना का सामान खत्म हो गया। इसलिए कमेटी चौक पर सामान लेने आए हैं। पुलिस ने 2 युवकों के बहाने को नजरअंदाज कर 500-500 रुपए का चालान कर दिया है। पुलिस ने चेतावनी दी कि दोबारा लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर भी मिले तो एफआईआर करवा दी जाएगी।

ट्रैफिक पुलिस चौकी के पास लगाए नाके पर एक महिला को रोका गया। महिला ने बताया कि मेडिकल स्टोर से दवाई लेने जा रही है। पुलिस ने डॉक्टर की पर्ची मांगी तो नहीं मिली। महिला को चेतावनी देकर वापस भेज दिया। लॉकडाउन के पहले दिन पुलिस ने सख्ताई रखी। पुरानी सब्जी मंडी में दुकानें खुली तो पुलिस कर्मियों ने मौके पर जाकर दुकानें बंद करवाई।

हिसार: कइयों से कारण पूछा व बाकी जगह हुई खानार्पूति

हिसार में फव्वारा चाैक पर सुबह 11 बजे कार में सवार हाेकर 3 युवक जा रहे थे। पुलिस ने कारण पूछा ताे बताया कि परिवार का सदस्य अस्पताल में भर्ती है, उसके लिए इंजेक्शन लेकर जा रहे हैं, जबकि यहीं से गुजर रहे बाइक सवार ने बताया कि उसकी मां बीमार है। घर पर ही उसके लिए इंजेक्शन और दवाई लेकर जानी है।

इसी तरह जिंदल चाैक पर दाेपहर 12 बजे यहां से 40 से 50 की संख्या में दोपहिया और तिपहिया वाहन निकल रहे थे। नाके पर 6 पुलिसकर्मी ताे तैनात थे, मगर किसी ने भी जा रहे वाहन सवाराें से पूछताछ करना तक मुनासिब नहीं समझा। हालांकि यहां पर तैनात एसअाई चालक काे लाॅकडाउन के दाैरान ऑटाे नहीं चलाने की अपील जरूर कर रहा था।

कैथल: 160 के चालान कटे, घरों से न निकलने की अपील

कैथल में शहर की सड़कों पर आवाजाही रही। मुख्य सड़कों और बाजारों में लोग अपने कामों के लिए घरों से निकल रहे थे। हालांकि पुलिस ने शहर के मुख्य मार्गों करनाल रोड, अम्बाला रोड, कुरुक्षेत्र रोड, पिहाेवा चौक पर नाके लगाए हुए थे। घरों से बिना कारण निकलने वाले लोगों को समझा कर वापस भेजा रहा था।

वहीं, पुलिस ने 160 लोगों के चालान किए। इसमें 110 लोगों को बिना मास्क पहने घर से निकलने पर जुर्माना भुगतना पड़ा, जबकि 50 वाहन चालकों पर यातायात नियमों के तहत चालान किए गए। घरों से कार व बाइक में शहर में निकलने वाले लोग पुलिस को सामान खरीदने, अस्पताल में जाने की बात कह रहे थे। आज शहर में घरों में रहने की अपील की, ताकि संक्रमण की चेन तोड़ी जा सके।

फतेहाबाद: आधा शटर खोलकर सामान बेचते रहे

फतेहाबाद में लॉकडाउन का पालन कराने को पुलिस ने शहर की बाजारों का दौरा किया। पुलिस ने पैदल मार्च कर लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी। वहीं, फतेहाबाद में जहां शराब की बिक्री को लेकर शराब ठेके के कारिंदे नियमों को ताक पर रखकर चोरी छिपे शराब बेचते रहे। टोहाना व रतिया में दुकानदार ने अपनी दुकानों के शटर को आधा गिराकर सामान बेचा।

इसकी जानकारी मिलने पर नगर परिषद की टीम ने 7 दुकानदारों के चालान भी काटे। इसके अलावा सड़कों पर भी लोग घूमते रहे। कोई दवा लेने तो कोई सब्जी के बहाने सड़क पर आता रहा, जिन्हें पुलिस खदेड़ती रही। लॉकडाउन के पहले दिन शहर में रही आवाजाही, पुलिस समझा भी रही, चालान भी कर रही।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें