पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Markets Will Open From 9 Am To 6 Pm, Will Be Able To Marry Outside The House, Allow Worship In Religious Places

लॉकडाउन 14 जून तक:सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुलेंगे बाजार, घर के बाहर भी कर सकेंगे शादी, धार्मिक स्थलों में पूजा की अनुमति

राजधानी हरियाणा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राेहतक | प्रदेश में कोरोना के नए केस कम होने पर लॉकडाउन में जैसे-जैसे छूट दी जा रही है, वैसे ही शहर के बाजारों में भीड़ बढ़ती जा रही है। यह तस्वीर रोहतक के गांधी कैंप स्थित सब्जी मंडी की है। यहां रविवार की शाम सब्जी खरीदने आए अधिकतर लोगों ने न तो मास्क लगा रखा था और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ। - Dainik Bhaskar
राेहतक | प्रदेश में कोरोना के नए केस कम होने पर लॉकडाउन में जैसे-जैसे छूट दी जा रही है, वैसे ही शहर के बाजारों में भीड़ बढ़ती जा रही है। यह तस्वीर रोहतक के गांधी कैंप स्थित सब्जी मंडी की है। यहां रविवार की शाम सब्जी खरीदने आए अधिकतर लोगों ने न तो मास्क लगा रखा था और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ।
  • हरियाणाा में ‘महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा’ यानी लॉकडाउन 14 जून सुबह 5 बजे तक बढ़ा, छूटें भी बढ़ीं
  • दुकानों के लिए ऑड व ईवन फॉर्मूला लागू रहेगा, शादी-अंतिम संस्कार में 21 लोग हो सकेंगे शामिल

प्रदेश में ‘महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा’ यानी लॉकडाउन 14 जून सुबह 5 बजे तक बढ़ा दिया गया है। लेकिन, इस बार सशर्त काफी छूट दी गई हैं। मुख्य सचिव विजय वर्धन की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार, अब बाजार सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुल सकेंगे। ऑड-ईवन का फॉर्मूला पहले की तरह लागू रहेगा। मॉल में रेस्टोरेंट व बार भी 50% क्षमता के साथ खोलने की छूट दी है।

धार्मिक स्थलों को भी खोल दिया है। इनमें एक समय में 21 लोगों को ही प्रवेश की अनुमति होगी। शादी व अंतिम संस्कार में 21 लोगों को शामिल होने की छूट दी है। शादी अब घर के बाहर बैंक्वेट व मैरिज हाॅल में भी की जा सकेगी। राज्य में 3 मई से लॉकडाउन लगाया गया था। इसे एक-एक सप्ताह बढ़ाया जा रहा है। अब 5वां सप्ताह शुरू होगा। हालांकि, तीसरे सप्ताह से ही ढील देनी शुरू कर दी गई थी।

कहां, किसको कितनी छूट मिली

  • बाजार: दुकानें ऑड-ईवन से सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुलेंगी। पहले 3 बजे तक छूट थी। गली-मोहल्लों की अकेली दुकानें रात 10 बजे तक खुलेंगी।
  • मॉल: सुबह 10 से रात 8 बजे तक खुलेंगे। पहले शाम 6 बजे तक छूट थी। मॉल में 50% क्षमता के साथ रेस्टोरेंट व बार भी खुलेंगे।
  • रेस्टोरेंट-बार: सुबह 10 से रात 8 बजे तक खुलेंगे। 50% क्षमता के साथ लोगों को एंट्री दे सकेंगे। रेस्टोरेंट, होटल आदि से रात 10 बजे तक होम डिलीवरी हो सकेगी।
  • धार्मिक स्थल: इस बार धार्मिक स्थल भी खोल दिए गए है। मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारों और चर्च आदि में एक बार में 21 लोगों को ही प्रवेश की अनुमति हाेगी।
  • प्राइवेट ऑफिस: 50% कर्मचारियों के साथ कॉर्पोरेट ऑफिस खोलने की छूट दी गई है। सभी प्राइवेट ऑफिस भी इस शर्त के साथ ही खुल सकेंगे।
  • शादियां : शादी समारोह व अंतिम संस्कार में 21 लोगों के शामिल होने की छूट दी है। अब शादी घर व कोर्ट के अलावा भी कहीं भी कर सकते हैं। बारात नहीं निकलेगी।
  • रैली-समारोह: रैली या अन्य कार्यक्रमों में 50 लोगों के इकट्‌ठा होने की छूट दी है। इससे ज्यादा की भीड़ के लिए डीसी से परमिशन लेनी होगी।
  • गोल्फ कोर्स: यहां क्लब हाउस रेस्टोरेंट, बार आदि सुबह 10 से रात 8 बजे तक 50% क्षमता के साथ खुलेंगे। यहां गोल्फ खेल सकेंगे।
  • ये अभी बंद रहेंगे: सिनेमा, थिएटर, स्वीमिंग पूल, पार्क आदि बंद रहेंगे। शिक्षण संस्थान 15 जून, अंगनबाड़ी, क्रेच 30 जून तक बंद करने की घोषणा की जा चुकी है।

क्योंकि 9 जिलों में अभी भी कोरोना बेकाबू

प्रदेश में कोरोना के नए पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा उम्मीद से भी ज्यादा तेजी से नीचे आया है। लेकिन, 9 जिलों में हालात अब भी बेकाबू हैं। इन जिलों में पॉजिटिविटी रेट 5 से 13% तक है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की 30 मई से 5 जून तक की साप्ताहिक समीक्षा रिपोर्ट में यह सामने आया है। सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट सिरसा, फतेहाबाद में 13% से भी ज्यादा है। भिवानी, पंचकूला, यमुनानगर, हिसार, रेवाड़ी, जींद, रोहतक में पॉजिटिविटी रेट 5 से 9% है।

यहां पॉजिटिविटी रेट 5 से 13% तक

जिला - पॉजिटिविटी रेट
सिरसा- 13.57%
फतेहाबाद- 13.34%
भिवानी- 8.98%
पंचकूला- 8.27%
यमुनानगर- 6.40%
हिसार- 6.14%
रेवाड़ी- 6.08%
जींद- 5.59%
रोहतक- 5.13%

टेस्टिंग घटी, 30% से ज्यादा एंटीजन टेस्ट

प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग 65 हजार से घटकर 45 हजार से नीचे आ चुकी है। अभी 30% से ज्यादा टेस्ट आरएटी से हो रहे हैं। भिवानी में 52%, गुड़गांव में 49%, सैंपल आरएटी से लिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...