• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Municipal Corporation Faridabad Clerk Suspended For Demanding Bribe Of Rs 1.5 Lakh In Exchange For Renewal Of CSC Center Agreement

रिश्वतखोर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई:CSC सेंटर का एग्रीमेंट रिन्यू कराने के बदले डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत मांगने का आरोपी निगम क्लर्क सस्पेंड

फरीदाबादएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रिश्वत मांगने के आरोप में सस्पेंड किया गया आरोपी क्लर्क दशरथ कुमार। - Dainik Bhaskar
रिश्वत मांगने के आरोप में सस्पेंड किया गया आरोपी क्लर्क दशरथ कुमार।
  • निगम कमिश्नर के सामने आया था मामला, ज्वॉइंट कमिश्नर से करवाई थी जांच

हरियाणा के बल्लभगढ़ जोन में CSC सेंटर का एग्रीमेंट रिन्यू कराने के बदले महिला से डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत मांगने वाले निगम कर्मचारी को कमिश्नर यशपाल यादव ने सस्पेंड कर दिया है। उन्होंने ये कार्रवाई खुद के संज्ञान में आने और ज्वॉइंट कमिश्नर से जांच कराने के बाद रिपोर्ट के आधार पर की है। कहा तो यहां तक जा रहा है कि जब मामला कमिश्नर के पास पहुंचा तो उक्त कर्मचारी ने महिला से लिए पैसे सोमवार को ही वापस कर दिए थे। बता दें कि बल्लभगढ़ में मोहना रोड यादव कॉलोनी निवासी रितु सिंघल नगर निगम की बिल्डिंग में वर्ष 2018 से CSC सेंटर चलाती हैं।

उन्होंने निगम से इसके लिए जगह लेकर एग्रीमेंट करा रखा है। उन्होंने तीन साल में 24 हजार सुविधाएं सरल पोर्टल पर उपलब्ध कराई हैं। 35 हजार लोगों के आधार कार्ड वे बना चुकी हैं। इस कार्य के लिए उन्हें SDM ने भी सम्मानित किया है। अब साल 2021 में उस जगह का एग्रीमेंट फिर से रिन्यू किया जाना है। आरोप है कि इसको लेकर उन्होंंने नगर निगम कर्मचारियों को फरवरी 2021 में एक पत्र लिखा। लेकिन उनका एग्रीमेंट रिन्यू नहीं हुआ। उनका कहना है कि टैक्सेशन ब्रांच में तैनात एक क्लर्क दशरथ कुमार ने इसके बदले डेढ़ लाख रुपए की रिश्वत मांगी। उन्होंने पैसे भी दे दिए, लेकिन फिर भी काम नहीं हुआ।

कमिश्नर के पास पहुंची शिकायत फिर हुई कार्रवाई

पीड़िता रितु सिंघल ने इसकी शिकायत निगम पार्षद दीपक यादव के माध्यम से निगम कमिश्नर यशपाल यादव से की। कमिश्नर ने बल्लभगढ़ ज्वॉइंट कमिश्नर को जांच करने को आदेश दिए। जांच रिपोर्ट के आधार पर मंगलवार देर शाम निगम कमिश्नर ने बल्लभगढ़ जोन में तैनात क्लर्क दशरथ कुमार को सस्पेंड कर दिया। निगम सूत्रों ने बताया कि दशरथ कुमार वर्ष 2003 में एक्स ग्रेसिया पॉलिस में फोर्थ क्लास पर नियुक्त हुए थे। इसके बाद उन्हें वर्ष 2018 में प्रमोशन देकर क्लर्क बना दिया गया। वह म्यूनििसपल इंप्लाइज फेडरेशन के सचिव भी रह चुके हैं।

खबरें और भी हैं...