पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • National Green Tribunal Seeks Detail Report In 10 Days Regarding Bird Flu Spread In Haryana

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बर्ड फ्लू:हरियाणा में फैले बर्ड फ्लू को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने 10 दिन में मांगी डिटेल रिपोर्ट

राजधानी हरियाणा2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो
  • 15 को चंडीगढ़ में हरियाणा, पंजाब व हिमाचल में फ्लू को लेकर किए प्रयासों की होगी समीक्षा

हरियाणा में फैले बर्ड फ्लू को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने हरियाणा से 10 दिन में डिटेल रिपोर्ट मांगी है। पहले एनजीटी ने हरियाणा से दो दिन में रिपोर्ट तलब की थी, लेकिन चूंकि बर्ड फ्लू का प्रकोप पंचकूला के अलावा दूसरे जिलों में भी हो गया है। ऐसे में कुछ अन्य जिलों में भी मुर्गियां मरी हैं। अन्य जिलों की रिपोर्ट भी संबंधित विभागों को कंपाइल करनी है।

सारी रिपोर्ट को लेकर ही 10 दिन का समय दिया गया है। अब एनजीटी की बैठक 15 जनवरी को चंडीगढ़ में बुलाई गई है। इस बैठक में हरियाणा, पंजाब और हिमाचल प्रदेश के अलावा चंडीगढ़ में बर्ड फ्लू को लेकर किए गए प्रयासों की समीक्षा की जाएगी। एनजीटी ने फिलहाल एक्सपर्ट मैंबर डॉ. बाबू राम को सभी जिलों में सरकार की ओर से किए गए प्रयासों का पता लगाने को कहा है। ताकि बैठक में इन पर गहनता से विचार किया जा सके। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की एग्जीक्यूटिव कमेटी के चेयरमैन जस्टिस प्रीतमपाल सिंह के अनुसार प्रदेश सरकार को और समय दिया गया है। ताकि 10 दिन में रिपोर्ट तैयार हो सके। क्योंकि दूसरे जिलों में भी कई जगह मुर्गियां मरने की खबरें हैं।

यही नहीं जो विदेशी पक्षी हैं, उनकी रिपोर्ट भी संबंधित विभाग से मांगी गई है। इनमें किसी तरह की बीमारी है या नहीं इस पर भी बैठक में विचार किया जाएगा। गौरतलब है कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने हरियाणा के अधिकारियों से यह रिपोर्ट भी मांग रखी है कि अभी तक कितनी मुर्गियां वास्तव में मारी जा चुकी हैं।

24 घंटे सर्विलांस पर 60 हजार विदेशी पक्षी

हरियाणा में बर्ड फ्लू को लेकर वन्य प्राणी विभाग पूरी तरह से चौकसी बरत रहा है। सुल्तानपुर में करीब 40 हजार विदेशी पक्षियों और भिंडावास में करीब 20 हजार पक्षियों पर नजर है। 24 घंटे विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी नजर रखे हुए हैं। अब तक किसी पक्षी में इस तरह के लक्षण नहीं मिले हैं। वन्य प्राणी विभाग के चीफ कंजरवेटर एमएल राजवंशी के अनुसार जिन कव्वों की मौत हुई थी, उनकी जांच रिपोर्ट अभी आना बाकी है। जालंधर लैब से रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जू में वन्य प्राणियों को अब चिकन की जगह मीट दिया जा रहा है, ताकि बर्ड फ्लू से बचे रहें। हर रोज की जू से भी रिपोर्ट ली जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser