पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Nodal Officer Does Not Even Listen To CS, Chandigarh Summoned On June 11, Action Will Be Taken If He Does Not Come To The Meeting

काम की अनदेखी:सीएस की भी नहीं सुनते नोडल अधिकारी, 11 जून को चंडीगढ़ तलब, मीटिंग में नहीं आने पर होगी कार्रवाई

राजधानी हरियाणा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रुप-डी में चयनित खेल कोटे से भर्ती युवाओं की बर्खास्तगी की सूचना नहीं भेज रहे विभाग

सरकारी महकमों में अधिकारी अपने प्रशासनिक बाॅस यानी मुख्य सचिव की भी नहीं सुनते हैं। कई बार मुख्य सचिव कार्यालय से जानकारी विभागों से मांगी गई तो बार-बार रिमाइंडर देना पड़ा है। अब मामला ग्रुप-डी में खेल कोटे से भर्ती हुए 1518 युवाओं की जानकारी से जुड़ा है। हाईकोर्ट ने ग्रुप-डी में पुराने ग्रेडेशन सर्टिफिकेट के आधार पर भर्ती हुए चयनितों को हटाने के आदेश दिए गए थे।

इसके बाद मुख्य सचिव ने सभी विभागों से ऐसे युवाओं को बर्खास्त कर उनकी रिपोर्ट मांगी थी। सबसे पहले इसके लिए 4 मार्च को पत्र लिखा गया, लेकिन अनेक विभागों ने कोई जवाब नहीं दिया। मामला कोर्ट से जुड़ा है, इसलिए ऐसे केसों के लिए विभागों मे नोडल अधिकारी भी हैं। इसके बाद 18 मार्च और फिर 27 अप्रैल को रिमाइंडर भेजे गए, लेकिन इसपर भी नोडल अधिकारियों ने मुख्य सचिव के पत्र को गंभीरता से नहीं लिया।

27 महकमे, बोर्ड व निगम ऐसे हैं, जिन्होंने सूचना नहीं भेजी है। अब सभी विभागों को मोस्ट अर्जेंट पत्र 27 नोडल अधिकारियों को चंडीगढ़ सचिवालय में 11 जून को चंडीगढ़ पूरी जानकारी के साथ बुलाया गया है। पत्र में लिखा गया कि जो नोडल अधिकारी नहीं आएगी, उसके खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

इन विभागों के अधिकारियों ने नहीं भेजी अब तक सूचना

सिंचाई, पुलिस, ट्रांसपोर्ट, एक्साइज एंड टैक्सेशन, हायर एजुकेशन, डेवलपमेंट एंड पंचायत, बागकवारी, रजिस्ट्रार कॉपरेटिव सोसायटी, हरियाणा बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन, वन, महिला एवं बाल विकास, श्रम, एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड, पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, स्टेट सीड सर्टिफिकेशन एजेंसी, होम गार्ड एंड सिविल डिफेंस, अर्बन एस्टेट, अर्बन एस्टेट, हाउसिंग बोड्र, एससी फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन, स्टेट विजिलेंस ब्यूरो, एनवायरमेंट, अर्बन लोकल बॉर्डी, पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ, ग्रामीण विकास, हरियाणा लेबर वेलफेयर बोर्ड, टूरिज्जम और साइंस एंड टेक्नॉलोजी डिपार्टमेंट ने सूचना नहीं भेजी है।

खबरें और भी हैं...