हरियाणा में पंचायत चुनाव जल्द:सोमवार को चंडीगढ़ में चुनाव आयोग करेगा घोषणा; 4 चरणों में 71,763 पदों के लिए वोटिंग होगी

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा में पंचायत चुनाव की सोमवार को घोषणा होने जा रही है। राज्य चुनाव आयोग के चुनाव आयुक्त धनपत सिंह चंडीगढ़ में इसकी घोषणा करेंगे। इस बार सूबे में 71,763 पदों पर चुनाव होने हैं। राज्य में पहली बार चुनाव आयोग (EC) चार चरणों में पंचायत चुनाव कराने जा रहा है।

राज्य निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार, मतदान पार्टी में 4 अधिकारी शामिल होंगे, जिनमें एक पीठासीन अधिकारी तथा 3 मतदान अधिकारी होंगे, ताकि शांतिपूर्वक ढंग से चुनाव करवाएं जा सकें। इसके लिए संबंधित अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी, जिन्हें निष्पक्षता से मतदान करवाना होगा।

पंचायतों के इन पदों पर मतदान
हरियाणा में पंचायतों के 71,763 पदों पर चुनाव होने हैं।। इनमें 6,226 पद सरपंचों के हैं ग्राम पंचायतों में पंच के 62,040 पद हैं। 143 पंचायत समितियों में 3086 सदस्यों का चुनाव होगा। वहीं 22 जिला परिषदों में 411 सदस्य हैं। पंचायत समितियों और जिला परिषदों में बाद में चेयरमैन चुने जाएंगे।

मतदान प्रक्रिया की होगी वीडियोग्राफी
पंचायत चुनाव के दौरान अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर वीडियोग्राफी कराने के आवश्यक प्रबंध किए जा रहे हैं। संवेदनशील व अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों की पहचान करके उनकी सुरक्षा के लिए व्यवस्था की जा रही है, ताकि मतदान केंद्रों पर हिंसा, लूट व बूथ कैप्चरिंग आदि की घटनाएं न हों।

इस बार जहां पर सामान्य वर्ग की आबादी ज्यादा है, वहां पर भी 4 गांवों में BC वर्ग के सरपंच बनेंगे। बहादुरगढ़ खंड के 44 गांवों में से 4 गांव ऐसे रहेंगे, जहां BC वर्ग के ही सरपंच होंगे।
इस बार जहां पर सामान्य वर्ग की आबादी ज्यादा है, वहां पर भी 4 गांवों में BC वर्ग के सरपंच बनेंगे। बहादुरगढ़ खंड के 44 गांवों में से 4 गांव ऐसे रहेंगे, जहां BC वर्ग के ही सरपंच होंगे।

पंचायत चुनाव में हार-जीत के मायने

भाजपा : विधानसभा चुनाव से पहले खट्टर की परीक्षा
दिवाली के बाद होने वाले पंचायत चुनाव CM मनोहर लाल लाल के किसी परीक्षा से कम नहीं होंगे। वहीं प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ के लिए भी सूबे के पंचायत चुनाव की कसोटी से कम नहीं होंगे। कुल मिलाकर हरियाणा भाजपा के लिए यह चुनाव काफी अहम होने वाले हैं।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर।

कांग्रेस : विरोधियो के बीच तय होगा हुड्डा का कद
भाजपा की तरह सूबे की कांग्रेस के लिए भी यह पंचायत चुनाव विधानसभा चुनाव से कम नहीं होंगे। साथ ही कांग्रेस में विरोधियों के बीच चुनाव जीतकर अपना कद तय करेंगे।

भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा।
भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा।

जजपा : चौटालों का तय होगा भविष्य
पंचायत चुनाव से हरियाणा में चौटालों का राजनीतिक भविष्य तय होगा। खासकर जब दुष्यंत चौटाला सूबे की सरकार में डिप्टी CM की कुर्सी पर बैठे हुए हैं। उनकी पार्टी अकेले दम पर राज्य में पैर पसारना चाहती है। पंचायत चुनाव के परिणाम से उनके सियासी समझ-बूझ का भी पता चलेगा।

इनेलो : तीसरे मोर्चे के गठन से पहले सियासी टेस्ट
इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला की देश में तीसरे मोर्चे के गठन की योजना भले ही अभी साकार रूप नहीं ले सकी, लेकिन उनके छोटे बेटे इनेलो महासचिव अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश में ऐसे मोर्चे के गठन की प्रक्रिया आरंभ कर दी है। इस राज्‍यस्‍तरीय मोर्चा को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता बीरेंद्र सिंह पर भी नजर है। पंचायत चुनाव में अब उनकी इस मुहिम का क्या असर होगा यह देखना होगा।

इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला।
इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला।

EC का सरकार ने माना आग्रह
हरियाणा में पंचायत चुनाव अब 30 नवंबर तक ही होंगे। हरियाणा सरकार ने राज्य चुनाव आयोग (EC) का आग्रह मान लिया है। हरियाणा के विकास एवं पंचायत विभाग ने चुनाव को लेकर नया नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है। 10 अक्टूबर के आसपास चुनाव की घोषणा होने के साथ ही राज्य चुनाव आयोग इलेक्शन शेड्यूल जारी कर देगा। कुछ पंचायतों में वार्ड बंदी और आरक्षण तय करने में देरी के कारण चुनाव आयोग ने मोहलत मांगी थी।