पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सागर धनखड़ हत्याकांड:बढ़ सकती हैं सुशील की मुश्किलें, पेशेवर अपराधियों से भी पूछताछ; काला जठेड़ी, नीरज बवाना और असौदा समेत कई गैंगस्टरों से लिंक

नई दिल्ली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दिल्ली पुलिस सुशील अपराधियों के साथ कनेक्शन के लिंक को खंगालने में लगी है। - Dainik Bhaskar
दिल्ली पुलिस सुशील अपराधियों के साथ कनेक्शन के लिंक को खंगालने में लगी है।

सागर धनखड़ मर्डर केस में फंसे सुशील कुमार की मुश्किलें आने वाले दिनों में और बढ़ सकती हैं। क्योंकि दिल्ली पुलिस उसके अपराधियों के साथ कनेक्शन के लिंक को खंगालने में लगी है। इस सिलसिले में स्पेशल सेल ने अलग-अलग राज्य की जेलों में बंद खतरनाक गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई, संपत मेहरा, जग्गू भगवान पुरिया व राजू बसोदी से रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ भी की है। यह इसलिए ताकि उनसे सुशील से संबंधों का पता लगाया जा सके।

काला जठेड़ी पर मकोका लगा हुआ है, जिस पर सात लाख का इनाम है। उसके अभी दुबई में होने की आशंका है। पुलिस सूत्रों का कहना है अभी तक की जांच में यह साफ हो गया है सुशील के काला जठेड़ी, नीरज बवाना व असौदा समेत कई कुख्यात गैंगस्टरों से लिंक है।

सुशील का उनके साथ किस तरह का कनेक्शन है, इसका अपराधियों की कुंडली खंगाल जानने का प्रयास किया जा रहा है। सुशील पर मकोका को लेकर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। क्योंकि सुशील का कोई पुराना आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। वह देश के लिए दो ओलिंपिक मेडल भी जीत चुका है, इसलिए जब तक उसके खिलाफ अपराधियों के साथ सांठ गांठ कर अपराध के पुख्ता सबूत नहीं मिल जाते, तब तक पुलिस इसके तहत कार्रवाई नहीं करेगी।

7 साल पहले पूर्व विधायक पर लगा था मकोका

सात साल पहले स्पेशल सेल ने नीरज बवाना के मामा व पूर्व विधायक रामवीर शौकीन पर भी मकोका लगाया था। वह नीरज को शरण देता था। उगाही करने के संगठित अपराध में शामिल था। मकोका के कारण शौकीन का राजनीतिक व सामाजिक पतन हो गया।

सूत्रों के मुताबिक सुशील को दिल्ली के सभी टोल का ठेका निजी कंपनियों से मिला था। इन टोलों पर गैंगस्टरों के जरिये वसूली का काम करता था। पुलिस सुशील के कारनामें का पता लगाने में लगी है। सागर की हत्या में असौदा, काला जठेड़ी व नीरज बवाना गिरोह के बदमाशों के शामिल होने का खुलासा हो चुका है। क्योंकि वारदात में शामिल बदमाशों को सुशील पहलवान ने ही बुलाया था। यह भी पता चला है सुशील बदमाशों की मदद विवादित प्रॉपर्टी औने पौने दाम में खरीदता था।

खबरें और भी हैं...