• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ram Rahim's Daughter And Son in law Left The Dera Tweet; God Bless Everyone, Be It A Supporter Or A Hater

राम रहीम की बेटी-दामाद ने छोड़ा डेरा:यूरोप पहुंच अमरप्रीत ने किया ट्वीट- भगवान सबका भला करे, सपोर्टर हो या हेटर

चंडीगढ़एक महीने पहले

सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की बेटी और दामाद डेरे को छोड़कर विदेश चले गए हैं। यूरोप पहुंचने के बाद डेरा प्रमुख की बेटी अमरप्रीत ने अपना घर छोड़ने का दुख जाहिर किया है।

अमरप्रीत ने एक वीडियो भी शेयर किया है, इसमें दिख रहा है कि उनके घर छोड़ने के समय पूरा परिवार भावुक हो गया। इस वीडियो में मौके के अनुसार एक पंजाबी गीत भी बैकग्राउंड में चल रहा है।

डेरा प्रमुख राम रहीम की बेटी अमरप्रीत और दामाद रूह ए मीत 18 मई को विदेश चले गए थे। अमरप्रीत ने यूरोप पहुंचकर ट्वीट किया कि, ''मेरे परिवार के सभी सदस्यों ने सपोर्ट किया। हमारे लिए घर और परिवार छोड़ना मुश्किल पल था। हालांकि, जानती हूं कि परिवार मेरे साथ है और मैं परिवार के साथ। भगवान सबका भला करे, यह मैटर नहीं करता कि वो सपोर्ट करने वाले हैं या नफरत करने वाले। अपने तो अपने ही होते हैं।''

यूरोप पहुंच राम रहीम की बेटी अमरप्रीत ने किया ट्वीट।
यूरोप पहुंच राम रहीम की बेटी अमरप्रीत ने किया ट्वीट।

न डेरा प्रबंधन से कोई सदस्य था न हनीप्रीत

अमरप्रीत ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें डेरा प्रमुख की मां नसीब कौर, पत्नी, बेटा जसमीत, बहू हुसनमीत और बाकी सदस्य उन्हें नम आंखों से विदाई दे रहे हैं। हालांकि, इस मौके पर डेरा प्रमुख की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत और प्रबंधन का कोई भी सदस्य नहीं था। ऐसे में यह बात एक बार फिर स्पष्ट हो गई है कि डेरा प्रमुख के परिवारिक सदस्यों के हनीप्रीत और प्रबंधन के साथ रिश्ते बेहतर नहीं है।

राम रहीम की नौवीं चिट्‌ठी से उजागर हुए थे मतभेद

राम रहीम ने 28 मार्च 2022 को सुनारिया जेल से 9वीं चिट्‌ठी डेरा प्रेमियों के लिए भेजी थी। इस चिट्‌ठी में मतभेद की चर्चाओं के बीच पहली बार डेरा प्रमुख ने पारिवारिक सदस्यों और हनीप्रीत का जिक्र किया। उसने पारिवारिक रिश्तों में तल्खियों की बात पर विराम लगाने का प्रयास किया। साथ ही कहा कि उसका परिवार अब विदेश में सैटल होने जा रहा है। डेरा प्रमुख के तीनों बच्चों और दामाद सहित पूरे परिवार का विदेश जाना तय है। डेरा प्रमुख की मां नसीब कौर और उसकी पत्नी हरजीत कौर भी विदेश में ही रहेंगी। अब डॉ. पीआर नैन को डेरे का नया चेयरपर्सन बना दिया गया है। डेरा मैनेजमेंट में भी कुछ बदलाव किए हैं। इसमें हनीप्रीत के समर्थकों को ही नई जिम्मेदारी सौंपी गई है।

डेरा छोड़ते हुए उनके समर्थकों की आंखों नम हाे गई।
डेरा छोड़ते हुए उनके समर्थकों की आंखों नम हाे गई।

चिट्‌ठी में सभी परिजनों का लिया नाम

डेरा प्रमुख ने चिट्‌ठी में पहली बार अपने परिवार के सदस्यों के नाम लिए, साथ ही जिक्र किया कि सभी लोग उन्हें लेने आए। पत्र के माध्यम से डेरा प्रेमियों को संदेश देते हुए राम रहीम ने लिखा कि हमारे सारे सेवादार, एडमिन ब्लॉक सेवादार, जसमीत, चरणप्रीत, हनीप्रीत, अमरप्रीत सब एक हैं। सभी हमारे वचनों पर चलते हैं। चारों हमें रोहतक इकट्ठे छोड़ने आए और वापस भी चारों इकट्‌ठे गए। राम रहीम ने लिखा था कि जसमीत, चरणप्रीत और अमरप्रीत ने हमसे आज्ञा ली है कि बच्चों की 'उच्च शिक्षा' प्राप्ति के लिए वो विदेश जाएंगे। इसलिए प्यारी साध-संगत आपने किसी के भी बहकावे में नहीं आना है।

परिवार के विदेश जाने के बाद अब हनीप्रीत ही सर्वेसर्वा

डेरा प्रमुख के परिवार के बाहर जाते ही राम रहीम के बाद हनीप्रीत पावरफुल हो जाएगी। प्रबंधन में भी धीरे धीरे हनीप्रीत के समर्थक शामिल हो रहे हैं। हालांकि डेरे की अरबों रुपयों की प्रॉपर्टी ट्रस्ट के नाम पर है। डेरे के पास सिरसा में ही करीब 900 एकड़ जमीन है। इसके अलावा पूरे देश में शहरी प्रॉपर्टी और रिहायशी कोठियां अलग है। डेरा प्रमुख का परिवार में बेटियां और दामाद के पास जिम्मेदारी नहीं थी। हालांकि हनीप्रीत डेरे पर कब्जे को लेकर इंकार करती रही है।

सुनारिया जेल में बंद है राम रहीम

2017 से साधवी यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख सजा काट रहा है। उसे पत्रकार छत्रपति और रणजीत हत्याकांड में भी उसे सजा हो चुकी है। राम रहीम को इसी साल पंजाब चुनाव से ठीक पहले 7 फरवरी को 21 दिन की फरलो मिली थी।