• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonali Phogat's Taunt On Kuldeep; Look At Chautala Hooda's Area And Bhajan Lal's, MLA Did Not Work

सोनाली फौगाट का कुलदीप बिश्नोई पर तंज:'चौटाला-हुड्‌डा का एरिया देखो और भजन लाल का देख लो, काम ही नहीं किया'

हिसार5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोनाली फौगाट। - Dainik Bhaskar
सोनाली फौगाट।

हरियाणा के हिसार जिले में आदमपुर के चिकनवास गांव में सोनाली फौगाट ने शनिवार को एक कार्यक्रम में कहा कि जो भी नेता आता है, वह अक्सर कहता है कि मैं आपके काम करवाता हूं। पिछले 60 साल में जो हुआ वह आपको पता है। मैं अपने 7 साल का विकास बताउंगी। सीएम मनोहर लाल किसी के साथ भेदभाव नहीं करते। कांग्रेस के किसी विधायक ने आदमपुर में काम नहीं किया। कभी मिलने का समय दिया, कभी आपकी समस्या सुनी। इस विधानसभा को विकास कार्यों से वंचित रखा गया। सीएम का एरिया देख लो। चौटाला, हुड्‌डा का देख लो और भजन लाल का देख लो।

आज भी उनके परिवार का व्यक्ति विधायक है। सोचने की बात है। कुलदीप जी विधायक रहे। जो भी विधायक बिश्नोई समाज से आता है, पिछले 7 साल का रिकॉर्ड देख लो, हमारी सरकार ने भेदभाव नहीं किया। यह भी हमारा हिस्सा है। आपने देखा होगा कि सबसे ज्यादा काम सदरपुर, सारंगपुर में रखे गए। उन्हें प्राथमिकता पर रखा गया। सोनाली फौगाट ने कहा कि मैं बिजली मंत्री रणजीत सिंह से मिली थी, परतु श्रेय किसी ओर को दिया जाता है। काम भाजपा सरकार ने किया। ऐसा मुख्यमंत्री पाना सौभाग्य की बात है। आपने भाजपा का विधायक नहीं दिया। वे भेदभाव नहीं करते। पूरी ईमानदारी से काम किया।

मैंने घुटने टिकवा दिए

सोनाली ने कहा कि मैंने एक शेर लिखा था कि मेरी मेहनत का असर देख ए जमाने, जमीन जो खिसकाई, उसके पैरों तले से, उसे आसरा मांगने, मेरे ही दर पर आना पड़ा। सोनाली ने कहा कि आने वाली पीढ़ियां याद रखेंगी। घुटने टिकवा दिए, उसे आना ही पड़ा। उसके लिए कोई जगह नहीं बची। सामना करने की हिम्मत नहीं है। आदमपुर में आज चुनाव करवाकर दिखा लो जीत किसकी होगी। मैं डटी हुई हूं। कोई कहीं जाए, उससे कोई फर्क नहीं पड़ता। जिसे काम करना है वह कहीं नहीं जाता, जो जहां खड़ा होता है उसकी जगह बन जाती है।

मेरा चप्पल कांड पूरे देश में फेमस

गांव वासियों ने सोनाली को पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया तो उन्होंने कहा कि महारानी लक्ष्मी भाई जैसा फील कर रही हूं। जैसे वह युद्ध के मैदान में लड़ी थी और वीरगति प्राप्त की थी। मैं मर भी जांऊ तो कोई परवाह नहीं । मैं आप लोगों की समस्याओं का समाधान करवाऊंगी। मेरा केस जो हुआ था, चप्पल कांड पूरे देश में फेमस है। मैंने किसानों के हक की लड़ाई लड़ी थी। ऐसे सैंकड़ों केस भुगत सकती हूं। मेरा संगठन मेरी ताकत है। आप लोग मेरा हौंसला बढ़ाते रहते हैं। कोई आए जाए, हमें कोई फर्क नहीं पड़ता। किसानों के लिए हमेशा खड़ी रहूंगी। आप लोग मेरी ताकत हैं।