पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • There Was No Agreement Between The Administration And The Farmers In Sirsa, Tomorrow The Farmers Will Jam All The Three Tolls For Two Hours

किसानों ने सिरसा में जाम किए टोल प्लाजा:पंजुआना, भावदीन, खुईया मलकान बैरियर 11 बजे तक बंद रहे; प्रशासन और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, गिरफ्तार किसानों की रिहाई की मांग

सिरसा/हिसार14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिरसा में टोल बैरियर जाम करते किसान। - Dainik Bhaskar
सिरसा में टोल बैरियर जाम करते किसान।

डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा के घेराव मामले में मंगलवार को किसानों और प्रशासन के बीच सहमति नहीं बन पाई। प्रशासन ने किसानों को बातचीत के लिए न्यौता भेजा था, लेकिन किसानों ने अस्वीकार कर दिया। दबाव बढ़ाने के लिए किसान बुधवार सुबह 9 बजे से 11 बजे तक जिले के तीनों भावदीन टोल, पंजुआना टोल, खुइयाँ मलकान टोल प्लाजा 2 घंटे के लिए जाम किए।

इस वजह से डबवाली से दिल्ली जाने वाले नेशनल हाइवे पर टोल जाम होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं प्रशासन के भेजे न्यौते पर किसानों का जवाब था कि इससे पहले भी वह दो बार प्रशासन के न्यौते पर मीटिंग कर चुके हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ। अब अगर प्रशासन को बातचीत करनी है तो किसानों के बीच आकर धरने पर करे, वह बार-बार प्रशासन के पास नहीं जाएंगे।

एसपी डॉ. अर्पित जैन ने किसानों से शांति बरतने व कानून हाथ में नहीं लेने की अपील की थी। वहीं दूसरी तरफ किसान संगठनों ने चेतावनी दी है कि अगर प्रशासन ने गिरफ्तार किसानों की रिहाई के बारे में जल्द कोई फैसला नहीं किया तो किसान जाम से भी ज्यादा सख्त कदम उठाने को मजबूर होंगे। मंगलवार को किसान कमेटी की डीसी, एसपी के साथ मीटिंग हुई थी जो बेनतीजा रह चुकी है।

इसके इलावा किसानों की रिहाई की मांग को लेकर किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा का आमरण अनशन भी जारी है। मंगलवार देर रात बलदेव सिंह की तबीयत थोड़ी बिगड़ गई थी, लेकिन वह अस्पताल नहीं गए। चेकअप टीम ने उनके यूरिन में इंफेक्शन बताया है।