पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेवाड़ी में पांच हजार का इनामी बदमाश हत्थे चढ़ा:मर्डर के मामले में पैरोल पर आने के बाद से था फरार, लूट की तीन वारदातों को दिया अंजाम

17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रेवाड़ी में पुलिस की गिरफ्त में मर्डर के मामले में पैरोल जम्प करके लूट की वारदात अंजाम देने का आरोपी। - Dainik Bhaskar
रेवाड़ी में पुलिस की गिरफ्त में मर्डर के मामले में पैरोल जम्प करके लूट की वारदात अंजाम देने का आरोपी।

रेवाड़ी जिले के कोसली थाने की पुलिस ने बुधवार को किडनैपिंग और मर्डर के मामले में सजायाफ्ता पांच हजार रुपए के इनामी बदमाश गोविंद को काबू कर लिया है। गोविंद गांव रतनथल का रहने वाला है। सजा के बाद 2015 में पैरोल पर बाहर आकर उसने लूट की तीन वारदतों को अंजाम दिया था। पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी वह हत्थे नहीं चढ़ पा रहा था। बीती शाम कोसली थाना पुलिस ने उसे काबू कर लिया। बदमाश गोविंद को कोर्ट में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

कोसली के गांव झाल में वर्ष 2013 में बदमाश गोविंद ने एक लड़की का अपहरण किया था। किडनैपिंग के दौरान बीच बचाव में आई लड़की की मां को गोविंद ने गाड़ी चढ़ाकर मौत के घाट उतार दिया था। इस मामले में उस वक्त तत्कालीन एसपी की गाड़ी को गुस्साएं लोगों ने तोड़ दिया था। मर्डर के इस मामले में कुछ समय बाद ही गोविंद को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। वर्ष 2015 में वह कोर्ट से पैरोल लेकर जेल से बाहर आया था। लेकिन उसके बाद वापस जेल नहीं पहुंचा।

आरोप है कि गोविंद ने फरारी के दौरान ही वर्ष 2017 में गुड़ियानी, सुर्खपुर के अलावा रोहड़ाई थाना में लूट की वारदातों को अंजाम दिया था। पुलिस लंबे समय से उसे तलाश कर रही थी। इसी बीच उसके सिर पर पांच हजार रुपए का इनाम भी रखा गया था। देर शाम पुलिस को गोविंद के बारे में सूचना मिली थी। जिसके बाद गोविंद को धर दबोचा गया।

खबरें और भी हैं...