पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शराब के लिए हैवान बना पिता:बेटे को बचाने के लिए पत्नी ने कमरा कर लिया था बंद, पिता ने बेटी को काट डाला

बेरी23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेड पर पड़ी मासूम दीपिका की लाश। - Dainik Bhaskar
बेड पर पड़ी मासूम दीपिका की लाश।
  • डीघल में दिल दहलाने वाली वारदात, 10 साल की बेटी की कुल्हाड़ी से वार कर हत्या

डीघल गांव में दिल दहला देने वाली घटना हुई है। एक पिता ने अपनी दस साल की मासूम बेटी की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी। वारदात के पीछे नशे के लिए हैवान बने पिता की कहानी है। आरोपी डीघल गांव का आनंद शराब पीने से रोकने पर अपने पूरे परिवार को खत्म करना चाहता था। सुबह 5 बजे ही उसने परिवार पर हमला किया। सबसे पहले उसने अपने 8 साल के बेटे पर कुल्हाड़ी से हमला किया। लेकिन आरोपी की पत्नी की आंख खुल गई और उसने बेटे को बेड से खींच लिया।

बेटे के कुल्हाड़ी कंधे के पास लगी। इसके बाद आरोपी की पत्नी बेटे को लेकर पास के कमरे में चली गई और दरवाजा बंद कर लिया। इसी बीच आरोपी ने बेड पर सो रही 10 साल की बेटी की गर्दन पर कुल्हाड़ी मार दी। मासूम की बेड पर ही मौत हो गई। शोर शराब सुन परिवार के अन्य लोग जब वहां पहुंचे आरोपी फरार हो गया। घायल बच्चे को अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

पुलिस ने डीघल निवासी व आरोपी की पत्नी ललिता के बयान पर केस दर्ज किया है। पुलिस ने शनिवार को मासूम बच्ची दीपिका के शव का नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया। वहीं सूचना ये भी है कि आधी रात के बाद पुलिस ने आरोपी आनंद को गिरफ्तार कर लिया।

रात को बस ये कहा था... पापा शराब छोड़ दो, ये बर्बाद करेगी

डीघल में हुई वारदात को लेकर आरोपी की पत्नी ने पुलिस को बयान दर्ज कराते हुए रोते समय बताया कि उसकी मासूम बेटी ने अपने पापा को रात के समय इतना ही कहा था कि पापा शराब छोड़ दो ये बर्बाद करती है। मम्मी सही कह रही है। इसके बाद दीपिका सो गई थी। लेकिन आंख खुलने से पहले ही उसने दुनिया छोड़ दी।

घायल बेटे का अस्पताल में चल रहा इलाज, शराब पीने से रोकने पर हुई थी बहस

कंट्रोल रूम से सूचना पर पहुंची पुलिस

डीघल चौकी इंचार्ज सुरेन्द्र सिंह का कहना था कि सुबह कंट्रोल रूम से सुचना मिली थी कि डीघल गांव में आन्नद ने अपनी दस साल की बेटी की हत्या कर दी है। उसने अपने बेटे पर वार किया था जो घायल हो गया है। अाराेपी की तलाश की जा रही है। फिलहाल परिवार से ये ही बात सामने आई है कि आनंद शराब का आदी था और उसने इसी तैश में हत्या की है।

पढ़ाई में होनहार थी दीपिका: साल 2009 में आरोपी आनन्द और उसके भाई प्रवीन की शादी हुई थी। आनन्द नशे का आदी था और अपने हिस्से की चार एकड़ जमीन बेच चुका था। दीपिका पढ़ाई में होनहार थी। सरकारी स्कूल में क्लास में प्रथम स्थान पर रहतीं थीं। अबकी बार परिवार वालों ने दीपिका को प्राइवेट स्कूल में दाखिल कराया था। परिजनों की मानें तो दीपिका और रौनक रात साढ़े 9 बजे तक अपना होमवर्क करके सोए थे। दीपिका के चाचा ने अपने भाई को कोसते हुए बताया कि दीपिका होनहार बेटी थी।

मां बेटे को उठा दूसरे कमरे में ले गई तो बची जान

पुलिस को दिए बयान में आरोपी आनंद की पत्नी ललिता ने बताया कि शुक्रवार रात को उसके पति आनंद ने शराब पीकर झगड़ा किया था। उसने शराब पीने से आनंद को रोका तो उनके बीच झगड़ा हो गया। 10 साल की बेटी दीपिका ने भी पिता को शराब पीने पर टोक दिया। इसके बाद आनंद तैश में आ गया। उसने पूरे परिवार को खत्म करने की बात कही।

ललीता के अनुसार उसने आनंद को काफी समझाया कि वो शराब छोड़ दे और अपनी गृहस्थी पर ध्यान दे। इसके बाद आनंद उससे झगड़ा करते हुए भला बुरा कहने लगा और दूसरे कमरे में जाकर सो गया। ललिता के अनुसार शनिवार अलसुबह करीब 5 बजे आनंद उसके कमरे में घुसा। उस समय उसके हाथ में कुल्हाड़ी थी। उसने कमरे में घुसते ही बेड पर सो रहे बेटे रौनक पर कुल्हाड़ी से हमला किया।

कुल्हाड़ी का वार उसके कंधे पर लगा। इसी बीच उसने रौनक को बिस्तर से खींच लिया और पति को धक्का देकर दूसरे कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया। इसी बीच आनंद ने दीपिका की हत्या कर दी। घायल रौनक को निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। डीघल चौकी इंचार्ज सुरेंद्र सिंह का कहना है कि आरोपी आनंद की तलाश में पुलिस टीम लगी है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें