• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Jind
  • Allegation Called From The Girl's Phone In Karnal And Called Home; Dead Body Thrown On The Roadside, Murder Case Against 5 People Including Girl

प्रेम संबंधों में दूधमुंही बच्ची के पिता का कत्ल:आरोप- करनाल में लड़की ने कॉल कर घर बुलाया; सड़क किनारे फेंकी लाश, 5 लोगों पर FIR

जींद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मारा गया प्रिंसपाल सिंह - Dainik Bhaskar
मारा गया प्रिंसपाल सिंह

जींद जिले में रविवार को सफीदों-असंध रोड पर डेरा सच्चा सौदा के पास एक युवक की लाश पड़ी मिली। युवक की पहचान 24 साल के प्रिंसपाल सिंह के रूप में हुई जो करनाल में असंध एरिया के डेरा गुजराखीया गांव का रहने वाला था। प्रिंसपाल के 2-3 साल से रामपुरा गांव की एक लड़की से प्रेम संबंध थे। प्रिंसपाल के परिवार ने लड़की और उसके परिवार पर हत्या का केस दर्ज करवा दिया है। प्रिंसपाल दूधमुंही बच्ची का पिता था।

सफीदों थाने में दी गई शिकायत में मृतक प्रिंसपाल की मां बलजीत कौर ने बताया कि उनका बेटा 16 अक्टूबर की शाम 4 बजे घर से यह कहकर निकला कि वह चाचा के लड़के के जन्मदिन पर जा रहा है। लगभग 5 घंटे बाद, रात साढ़े 9 बज तक जब वह घर नहीं लौटा तो उन्होंने फोन किया। तब प्रिंसपाल ने 10 मिनट में घर पहुंचने की बात कही। लगभग आधे घंटे बाद भी जब बेटा नहीं पहुंचा तो उन्होंने दाेबारा कॉल की मगर प्रिंसपाल ने फोन नहीं उठाया और उसके बाद मोबाइल स्विच ऑफ हो गया।

विलाप करती प्रिंसपाल सिंह की मां बलजीत कौर और परिवार की अन्य महिलाएं
विलाप करती प्रिंसपाल सिंह की मां बलजीत कौर और परिवार की अन्य महिलाएं

रात साढ़े 12 बजे दोस्त ने आकर बताया
बलजीत कौर ने बताया कि रात साढ़े 12 बजे प्रिंसपाल का दोस्त आकाशदीप उनके घर पहुंचा और बताया कि प्रिंसपाल अपने बाइक पर उसे लेकर रामपुरा गांव गया था जहां उसकी एक फ्रेंड रहती है। रामपुरा पहुंचने के बाद प्रिंसपाल ने अपनी फ्रेंड से मोबाइल पर चैट की और फिर घर के अंदर चला गया। वह बाहर इंतजार करने लगा। थोड़ी देर बाद उसे घर के अंदर से चीखें सुनाई दी तो वह घबरा गया और प्रिंसपाल के बाइक पर उनके पास चला आया।

बलजीत कौर के अनुसार, उन्होंने आकाशदीप से मिली जानकारी तुरंत अपने पति, देवर, जेठ और परिवार के अन्य सदस्यों को दी। उनके परिवार के 4-5 सदस्य उसी समय रामपुरा में रहने वाली लड़की के घर गए मगर वहां से उन्हें ठोस जवाब नहीं मिला। रविवार सुबह उन्हें प्रिंसपाल की लाश असंध रोड पर पड़े होने की जानकारी मिली। जब वह लोग मौके पर पहुंचे तो प्रिंसपाल के शरीर पर चोटों के निशान थे।

सड़क किनारे पड़ी मिली प्रिंसपाल की बॉडी।
सड़क किनारे पड़ी मिली प्रिंसपाल की बॉडी।

लड़की से फोन करवाकर बुलाया
बलजीत कौर के अनुसार, जब उन्होंने अपने लेवल पर पड़ताल की तो पता चला कि प्रिंसपाल को रामपुरा गांव में रहने वाली लड़की के परिवार के पिंदर सिंह, गुरफतेह सिंह, गुरनाम सिंह और उनके रिश्तेदार जसविंद्र सिंह उर्फ जस निवासी चौगामा ने साजिश के तहत अपने घर बुलाया। इसके लिए उन लोगों ने प्रिंसपाल को अपनी लड़की से कॉल करवाई। जब प्रिंसपाल वहां पहुंचा तो सभी ने मिलकर उसका कत्ल कर दिया और लाश जसविंद्र की कार में डालकर सड़क किनारे फेंक दी।

सड़क किनारे बॉडी मिलने की सूचना के बाद घटनास्थल पर लगी भीड़।
सड़क किनारे बॉडी मिलने की सूचना के बाद घटनास्थल पर लगी भीड़।

दो बहनों का इकलौता भाई था
प्रिंसपाल अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था। परिवार में उसकी पत्नी के अलावा दुधमंुही बेटी है। उसकी दो बहनों में से एक की शादी हो चुकी है। छोटी बहन की शादी अगले महीने होने वाली थी। प्रिंसपाल के पिता काफी समय से बीमार चल रहे हैं। सड़क किनारे युवक की लाश पड़ी होने की जानकारी मिलने के बाद डीएसपी साधुराम, सदर थाने के इंचार्ज कृष्ण कुमार और सिटी थाना इंचार्ज महेंद्र सिंह पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम ने घटनास्थल से सबूत इकट्‌ठा कर लिए। बलजीत कौर की शिकायत पर पुलिस ने रामपुरा गांव में रहने वाली लड़की और उसके परिवार के पिंदर सिंह, गुरफतेह सिंह, गुरनाम सिंह व रिश्तेदार जसविंद्र सिंह उर्फ जस के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 342, 201 और 120बी के तहत मामला दर्ज कर लिया।

खबरें और भी हैं...