पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जींद:सात माह से एक इंच भी नहीं सरकी किलोमीटर स्कीम की बसें, ऋण नहीं भरने से अब बस मालिक हुए डिफाॅल्टर

जींद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जींद. बस परिसर में खड़ी किलोमीटर स्कीम की बसें। फोटो |भास्कर
  • बसों के संचालक बोले- प्राइवेट व रोडवेज बसें चल रहीं तो किलोमीटर स्कीम की भी चलाई जाएं बसें
  • अब तक एक करोड़ का हो चुका नुकसान, फाइनेंस कंपनी ने बसों को जब्त करने की तैयारी की

किलोमीटर स्कीम के तहत चलने वाली बसों के पहिए अभी भी थमे हुए हैं। कहां तो इन्हें किलोमीटर के हिसाब से चलाया जाना था और कहां स्कीम शुरू होने के बाद 7 माह से इंच भर भी नहीं सरकी। बसों के पहिए थमने से बस मालिकों को घाटा हो रहा है। ऐसे में बस संचालक फाइनेंस की किस्तें व ऋण नहीं भर पा रहे हैं। अभी तक पिछले कई माह का 2992500 रुपए भरे गए हैं। ऐसे में बैंक ने अब बस मालिकों के खाते को डिफाॅल्टर घोषित कर दिया है और अब बसों को फाइनेंस कंपनी द्वारा जब्त करने की तलवार लटक रही है।

बता दें कि एक बस की किस्त प्रतिमाह 66500 रुपए भरनी होती है। जींद डिपो में 15 बसें किलोमीटर स्कीम की है और 22 मार्च से कोरोना महामारी के बाद देश में लॉकडाउन शुरू हो गया था। महामारी के मद्देनजर सरकार ने बस बंद करने के आदेश दिए थे। बावजूद इसके अनलॉक वन में रोडवेज की बसों का संचालन 30 सवारियों के साथ शुरू कर दिया।

वहीं अनलॉक दो से प्राइवेट बसाें के भी पहिए घूम रहे हैं लेकिन अब तक किलोमीटर बसों को चलाने की मंजूरी नहीं दी जा रही है। इससे बस संचालकों को परेशानी हो रही है। घर का गुजारा चलाना मुश्किल हो रहा है। वहीं रोडवेज ने मुख्यालय को पत्र लिखकर मार्ग दर्शन मांगा है। अभी तक यह पता नहीं चल सका है कि कब तक बसें चल सकेंगी।

किलोमीटर स्कीम के तहत डिपो से 15 बसों का संचालन होता है। एक बस हर रोज एक लाख रुपए की आमदनी लेकर आती थी लेकिन अब तक बसों के पहिए न चलने से तकरीबन एक करोड़ रुपए की आमदनी का नुकसान हो चुका है। लॉकडाउन के समय से ही बसें बस स्टैंड पर ही खड़ी हुई हैं। बसों को चलाने के लिए विभाग की तरफ से कोई आदेश नहीं आए हैं।

अभी तक नहीं आई मुख्यालय से कोई गाइडलाइन
किलोमीटर स्कीम की बसों को चलाने को लेकर मुख्यालय से मार्ग दर्शन मांगा गया है और अभी तक कोई गाइड लाइन नहीं आई है। इससे अभी किलोमीटर स्कीम की बसों को नहीं चलाया जा सकता। आदेश होते ही बसें चालने के आदेश दे दिए जाएंगे।-योगेंद्र आसरी, ट्रैफिक मैनेजर जींद डिपो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें