पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तीसरी लहर की तैयारी:सिविल अस्पताल को मिले 70 लाख के दो बड़े वेंटिलेटर, ऑक्सीजन प्लांट भी हो जाएगा तैयार, 20 के बाद आएंगी मशीनें

जींद19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जींद. सिविल अस्पताल में तैयार हुआ ऑक्सीजन प्लांट। - Dainik Bhaskar
जींद. सिविल अस्पताल में तैयार हुआ ऑक्सीजन प्लांट।

कोरोना की तीसरी के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारी तेज कर दी है। सिविल अस्पताल को दो बड़ी वेंटिलेटर मशीन दी गई है। एक मशीन की कीमत 35 लाख रुपए है। इसी सप्ताह इन मशीनों को इंस्टाल भी कराया जाएगा। बड़े आईसीयू वार्ड में लगेंगी।

बेबहतर इलाज व्यवस्था के लिए सिविल अस्पताल में मशीनें और सामान आ रहे हैं। अब तक मास्क व अन्य कई प्रकार की मशीनें आ चुकी हैं। वहीं सिविल अस्पताल में बन रहे ऑक्सीजन प्लांट में सिविल वर्क पूरा हो चुका है। अब केवल इलेक्ट्रिकल वर्क का काम बाकी है। डीआरडीओ की तरफ से सिविल अस्पताल प्रशासन को कार्यों की चेक लिस्ट भेजी है ताकि वह काम पूरा होने के बाद मशीन इंस्टॉल की जा सके।

इसमें मुख्य रूप से अंदर व बाहर बिजली की फिलिंग, कनेक्शन, जेनरेटर सेट, पाइप लाइन का काम है। यह सारा काम एनएचएआई की तरफ से किया जाना है। बुधवार काे बरसात होने की वजह से यह काम शुरू नहीं हो सका। गुरुवार या शुक्रवार से काम शुरू होगा। अगले 10 दिन में यह काम पूरा हो जाएगा। उसके बाद मशीन को यहां शिफ्ट कर इसे शुरू करने का प्रोसेस चालू होगा। कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा तेजी से प्रबंध किए जा रहे हैं, 30 जुलाई तक तमाम प्रबंध पूर्ण कर लिए जाएंगे।

22 लाख से खरीदा जाएगा जेनरेटर सेट : स्वास्थ्य विभाग की तरफ से ऑक्सीजन प्लांट को चलाने के लिए जेनरेटर सेट लगाया जाएगा। इसके लिए मुख्यालय की तरफ से 22 लाख रुपए का बजट जारी कर दिया गया है। नया सेट खरीदने में अभी समय लगेगा, तब तक पुराने जेनरेटर सेट से ऑक्सीजन प्लांट को जोड़ा जाएगा ताकि किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आए।

डॉक्टरों व नर्स को दी जाएगी ऑनलाइन ट्रेनिंग

स्वास्थ्य विभाग की तरफ से तीसरी लहर के चलते डॉक्टरों व स्टाफ नर्स को एक माह से ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जा रही है। अब इन्हें वेंटिलेटर चलाने की ट्रेनिंग भी मिलेगी। फिलहाल 80 स्टाफ सदस्यों को यह ट्रेनिंग दी जा चुकी है। कुल 125 स्टाफ सदस्यों को यह ट्रेनिंग दी जानी है।

एडीसी ने किया ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण

जींद, एडीसी साहिल गुप्ता बुधवार को सिविल अस्पताल स्थित दोनों ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया। एडीसी ने ऑक्सीजन प्लांट की क्षमताओं के बारे में जानकारी ली।

तीसरी संभावित लहर को रोकने के लिए सभी को मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग सहित कोविड नियमों की पालन करना चाहिए। इससे निपटने के लिए इंतजाम किए जा रहे हैं। नरवाना और जींद में ऑक्सीजन प्लांट तैयार हो रहे हैं। जिससे इसकी दिक्कत न हो। अस्पतालों में गैस सिलेंडर व अन्य चिकित्सा प्रबंध तेजी से पूरे किए जा रहे हैं। -डाॅ. आदित्य दहिया, डीसी, जींद।

सिविल अस्पताल को दो नए बड़े वेंटिलेटर मिले हैं। अन्य सामान भी आ रहा है। ऑक्सीजन प्लांट में इलेक्ट्रिक वर्क बाकी है। यह एक-दो दिन में शुरू होगा। अगले दस दिन में यह काम पूरा हो जाएगा। फिर मशीन शिफ्ट करके प्लांट चालू किया जाएगा। -डॉ. गोपाल गोयल, एमएस, सिविल अस्पताल, जींद।

खबरें और भी हैं...