संक्रमण की समीक्षा:जींद, अम्बाला और करनाल में सीएम ने देखी स्वास्थ्य सेवाएं, सीएम से बोले परिजन- मरीजों को सुबह से पानी तक नहीं मिला

जींद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जींद | सीएम के समक्ष पानी न मिलने की शिकायत करते परिजन। - Dainik Bhaskar
जींद | सीएम के समक्ष पानी न मिलने की शिकायत करते परिजन।

प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल कोरोना संक्रमण की समीक्षा को लेकर गुरुवार को जींद पहुंचे। वह सिविल अस्पताल की नई बिल्डिंग में पहुंचे और ब्लड बैंक के अलावा पीपी सेंटर में वैक्सीनेशन का निरीक्षण किया। सीएम निरीक्षण कर जैसे ही बाहर निकले तो जनता के पास पहुंच गए। उन्हाेंने लोगों से पूछा कि सब कुछ ठीक तो है।

इस पर वहां खड़े अर्बन एस्टेट निवासी नरेंद्र दलाल ने सीएम से कहा कि आपके दौरे के चलते सुबह से मरीजों को पानी तक नसीब नहीं हुआ। पूरी तरह अव्यवस्था बनी हुई है। किसी तरह बाहर से व्यवस्था कर पानी लेकर आए हैं। इसी प्रकार से खरल गांव निवासी सुभाष ने सीएम को बताया कि उसके मरीज का सीटी स्कैन हो चुका है, लेकिन अब तक रिपोर्ट नहीं आई।

इस पर सीएम ने सुभाष से कागज मांगे तो सीएम ने उसे देखने पर कहा कि अभी तो 15 से 20 मिनट ही हुई है। रिपोर्ट आने में समय लगता है। कुछ देर इंतजार करो। जल्द रिपोर्ट मिल जाएगी। इस पर सीएम ने डीसी को कार्रवाई के निर्देश दिए।

मनोहर लाल के सामने परिजनों ने सुनाई आपबीती तो अधिकारियों के छूटे पसीने, व्यवस्था करने के निर्देश

सीएम ने माना रेमडेसिविर व टोक्सली दवा की कमी

अम्बाला सिटी, सीएम मनोहर लाल ने माना कि रेमडेसिविर और टोक्सली दवा की कमी है। उन्होंने कहा कि रेमडेसिविर और टोक्सली इंजेक्शन के लिए डॉक्टरों के तीन सदस्यीय बोर्ड का गठन किया है। जब भी किसी प्राइवेट अस्पताल से डिमांड आती है तो बोर्ड के तय करने के बाद इंजेक्शन की आपूर्ति होती है।

कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

करनाल, सीएम ने कहा कि महामारी में कालाबाजारी करने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई होगी। राजनीतिक लोग भी महामारी में राजनीति को बढ़ावा दे रहे हैं, जबकि सभी एकजुट होकर महामारी में सहयोग करें, ताकि कोरोना को हराया जा सके। सीएम गुरुवार को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में अधिकारियों की बैठक ले रहे थे।

खबरें और भी हैं...