पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झमाझम बारिश से जलभराव:शहर की काॅलोनियां व सड़कें लबालब, निकासी के लिए जुटे रहे कर्मचारी, चार घंटे में निकल सका सड़कों से पानी

जींद19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जींद. पटियाला चौक पर बरसात के बाद बाढ़ जैसे बने हालात। बरसाती पानी के चलते कई वाहन बीच में भी बंद हो गए और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। - Dainik Bhaskar
जींद. पटियाला चौक पर बरसात के बाद बाढ़ जैसे बने हालात। बरसाती पानी के चलते कई वाहन बीच में भी बंद हो गए और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

दो दिन से माॅनसून सक्रिय हो गया है, जिसके चलते बुधवार को भी जींद में झमाझम बारिश हुई। दोपहर को करीब एक घंटा बदरा जमकर बरसे और पूरे शहर में पानी ही पानी दिखाई दिया। जींद में 24 एमएम बारिश से शहर की दो दर्जन काॅलोनियां व सड़कें लबालब हो गईं।

पानी निकासी के पुख्ता इंतजाम न होने के चलते शहर के पटियाला चौक, पुरानी सब्जी मंडी मोड़, एसडी स्कूल मोड़, सब्जी मंडी रोड, भिवानी रोड, रानी तालाब रोड समेत कई मुख्य मार्गों पर तीन से चार घंटे बाद भी पानी भरा दिखाई दिया। हालांकि नगर परिषद के कर्मचारी पानी निकासी करते हुए दिखाई दिए। शहर में सीवरेज ठप होने व बरसाती नालों की सफाई का कार्य पूरा न होने के कारण पानी निकासी नहीं हो पा रही है।

इससे राहत के साथ बारिश लोगों के लिए आफत भी बनकर बरसी है। भिवानी रोड, सब्जीमंडी मोड समेत कई जगहों पर मंगलवार को हुई बारिश का पानी की निकासी नहीं हो पाई थी, अब फिर से बारिश होने के कारण हालात और बदतर हो गए। जिले के जुलाना में 12 एमएम तो उचाना में 2 एमएम बारिश हुई। इसके अलावा अलेवा व पिल्लूखेड़ा में बूंदाबांदी हुई है। नरवाना में बुधवार को बरसात नहीं हुई।

तापमान में गिरावट से बिजली की डिमांड कम हुई

दो दिन की बारिश ने मौसम में ठंडक घोल दी है और तापमान में छह डिग्री की कमी आई है। बुधवार को अधिकतम तापमान 33 डिग्री तो न्यूनतम 25 डिग्री के आसपास रहा। इसके चलते बिजली की खपत कम होने लगी है। पिछले तीन दिन में जिले में करीब 28 लाख यूनिट कम खपत हुई। 11 जुलाई को यह आंकड़ा 114.64 लाख यूनिट खपत का था जो 13 जुलाई को 86.39 यूनिट खपत पर आ पहुंचा। बिजली निगम के एसई श्यामवीर सैनी ने बताया कि बारिश के बाद अब बिजली की खपत कम हो गई है।

तीन दिन में बिजली खपत में 28 लाख यूनिट की आई कमी

5 जुलाई 102.29 लाख यूनिट 6 जुलाई 106.89 लाख यूनिट 7 जुलाई 109.14 लाख यूनिट 8 जुलाई 110.31 लाख यूनिट 9 जुलाई 109.05 लाख यूनिट 10 जुलाई 113.28 लाख यूनिट 11 जुलाई 114.64 लाख यूनिट 12 जुलाई 105.39 लाख यूनिट 13 जुलाई 86.39 लाख यूनिट

जींद में दूसरे दिन भी अच्छी बारिश हुई। यह किसानों के लिए बहुत फायदेमंद है। एक दो दिन भी बरसात होने के आसार हैं। अगर तेज बारिश होती है तो धान की फसल के लिए काफी कारगर रहेगी। -डाॅ. सुरेंद्र मलिक, कृषि उपनिदेशक, जींद।

खबरें और भी हैं...