धान के रेट ने तोडे चार साल के रिकॉर्ड:बंपर उत्पादन के बाद भी धान के रेट ने चार साल के तोड़े रिकॉर्ड, 3700 पार पहुंचा 1121 का भाव

जींदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले दो तीन सालों से घाटे का सौदा साबित हो रही धान की खेती इस बार किसानों को मालामाल कर रही है। खासकर पूसा किस्म 1121 के अच्छे भाव मिलने से किसान काफी खुश हैं। शुक्रवार को भी किस्म 1121 के जींद की अनाज मंडी में प्रति क्विंटल भाव 3700 पार पहुंच गए, जबकि पिछले दो दिनों तक 150 रुपए तक की गिरावट आई हुई थी। पिछले वर्ष जो यह धान मुश्किल से 3000 का आंकड़ा भी नहीं छू पाई थी वह इस सीजन में 3791 रुपए प्रति क्विंटल तक बिक चुकी है।

वहीं पीआर की आवक अब कम होने लगी है और बारीक धान को लेकर किसान पहुंच रहे हैं। मंडी में आए किसान धर्मपाल, रमेश कुमार, सतीश और थांबूराम का कहना है कि उन्होंने इस बार पीआर की बजाय पूसा 1121 लगाई हुई थी जो 24 से 25 क्विंटल प्रति एकड़ तक निकली है। भाव अच्छे मिलने से इस बार उन्हें काफी फायदा पहुंचा है। इससे वे कुछ उभर पाएंगे। द न्यू फूडग्रेन डीलर एसोसिएशन के प्रधान सुशील सिहाग और व्यापारी नेता महाबीर कंप्यूटर ने कहा कि इस बार मंडी में किसानों को धान की फसल के अच्छे दाम मिल रहे हैं। अच्छी पैदावार वाले किसान आर्थिक तौर पर मजबूत हो जाएंगे।

खबरें और भी हैं...