पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Jind
  • From Lighting, Radium, Sign Boards, Dustbins, There Will Be Better Arrangements For Cleaning On The Model Road ... So That The Drivers Can Learn All The Traffic Rules

मिलेगी सुविधा:मॉडल रोड पर लाइटिंग, रेडियम, साइन बोर्ड, डस्टबिन से लेकर सफाई की होगी बेहतर व्यवस्था...ताकि वाहन चालक सीख सकें सभी ट्रैफिक नियम

जींद4 दिन पहलेलेखक: प्रदीप घोघड़ियां
  • कॉपी लिंक
जींद . सफीदों में जींद बाईपास की सड़क, जिसे मॉडल बनाया जाएगा। - Dainik Bhaskar
जींद . सफीदों में जींद बाईपास की सड़क, जिसे मॉडल बनाया जाएगा।
  • जिले में पांच सड़कों को मॉडल के रूप में किया जाएगा तैयार
  • पीडब्ल्यूडी बीएंडआर, एनएचएआई, नगर परिषद, मार्केटिंग बोर्ड, नगर पालिका द्वारा एक-एक सड़क को बनाया जाना है मॉडल सड़क

वाहन चालकों को ट्रैफिक के सभी नियमों से अवगत करवाने और बेहतर रोड नेटवर्क बनाने के उद्देश्य से जिले में पांच सड़कों को मॉडल के तौर पर तैयार किया जाएगा। यह सड़कें ट्रैफिक के 100 प्रतिशत नियमों पर खरा उतरेंगी। इन सड़कों पर लाइटिंग, रेडियम, साइन बोर्ड, डस्टबिन, साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था होगी। लोक निर्माण विभाग (बीएंडआर), नेशनल हाईवे अथाॅरिटी, नगर परिषद और मार्केटिंग बोर्ड अपने अधीन आने वाली एक-एक सड़क को मॉडल के तौर पर तैयार करेगा।

लोक निर्माण विभाग द्वारा इसे लेकर सड़क की तलाश कर ली गई है। सफीदों शहर में जींद बाईपास तक करीब सवा पांच किलोमीटर की सड़क को मॉडल के तौर पर तैयार किया जाएगा। प्रदेश में यूं तो रोड नेटवर्क बेहतर होता जा रहा है लेकिन नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे को छोड़ दिया जाए तो बाकी सड़कों की हालत किसी से छिपी नहीं है। सड़कों में गहरे गड्ढे नजर आते हैं तो ज्यादातर जगहों पर सफेद पट्टी ही गायब मिलती है।

सड़कों पर कहीं पर जेब्रा क्रॉसिंग समेत दूसरे यातायात नियमों की जानकारी नहीं होती तो सड़क में घुमाव आने पर साइड में संकेतक भी नजर नहीं आते। इसके अलावा सड़कों पर यातायात नियमों के संबंध में भी और कई खामियां दिख जाती हैं, जिनका वाहन चालकों को पता ही नहीं होता। वाहन चालक को यातायात नियमों से संबंधित हर तरह की जानकारी हो, इसके लिए राज्य सरकार की योजना है कि हर शहर में एक-एक सड़क मॉडल के तौर पर तैयार किया जाए। इस सड़क पर सभी यातायात नियम फॉलो होंगे। हर साल इसका ऑडिट करवाया जाएगा, जिसके आधार फीडबैक भी लिया जाएगा।

यह होगी मॉडल सड़क की विशेषता
जो सड़क मॉडल के तौर पर तैयार की जाएगी, इस पर सभी यातायात मानदंड जेब्रा क्रॉसिंग, लाइटिंग, डस्टबिन, रेडियम, साइन बोर्ड, आई कैट बनाए जाएंगे। डस्टबिन पाॅइंट के साथ हरियाली भी रखी जाएगी। साफ-सफाई और सुंदरता का विशेष ध्यान रखा जाएगा। हर साल लोक निर्माण विभाग के साथ राज्य सरकार की कमेटी द्वारा ऑडिट करवाया जाएगा और उसके अनुरूप इसमें सुधार करवाया जाएगा। मॉडल सड़क की एक खास बात यह भी होगी कि आम सड़कों की तरह समानांतर पटरी कच्ची नहीं होगी, इसे आरसीसी डालकर बेहतर बनाया जाएगा। पानी निकासी का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

सड़क का निर्माण आधुनिक तरीके से होगा

  • सड़क का निर्माण आधुनिक तरीके से एजेंसी द्वारा किया जाएगा।
  • सड़क दोनों तरफ अतिक्रमण नहीं होगा।
  • सड़क के दोनों तरफ फूल लगाने के लिए व्यवस्था होगी।
  • रोड साइड पार्किंग की व्यवस्था होगी।
  • नो पार्किंग जोन साइनेज होगी, स्ट्रीट लाइटें होंगी।
  • सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

लोक निर्माण विभाग ने किया सड़क का चयन

5 सड़कों को मॉडल बनाने को लेकर एनएचएआई, नगर परिषद, मार्केटिंग बोर्ड ने अभी तक किस सड़क को मॉडल बनाया जाएगा, यह फाइनल नहीं किया है लेकिन लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क का चयन कर लिया गया है। सफीदों में जींद बाईपास से लेकर असंध रोड तक करीब पांच किलोमीटर की सड़क को बीएंडआर मॉडल सड़क के तौर पर तैयार करेगा। फिलहाल इस सड़क की स्थिति अच्छी नहीं है और कहीं पर भी संकेतक नहीं लगे हैं।

विभाग द्वारा एक सड़क को मॉडल के रूप में तैयार करना है। जींद-सफीदों रोड को चौड़ा करने का प्रस्ताव है, इसलिए सफीदों शहर में बाईपास से लेकर पानीपत रोड तक सड़क को मॉडल के रूप में विकसित करने के लिए अप्रूवल मांगी गई। यातायात के मानदंडों को यह सड़क पूरा करेगी। इसे डेमो के रूप में बनाया जाएगा, अगर योजना कामयाब रहेगी तो पूरे जिले में सड़कें इसी तर्ज पर बनाई जाएंगी। -अरुण खुराना, एसडीओ, बीएंडआर, जींद।

खबरें और भी हैं...