वकील के चैंबर से युवती को नीचे फेंका:नरवाना में दहेज केस में कोर्ट ने किया था समझौते का प्रयास, भाई के ससुरालियों पर आरोप

जींद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के जींद के कस्बे नरवाना के कोर्ट परिसर में झगड़े के दौरान एक युवती को दूूसरे माले पर स्थित वकील के चैम्बर से नीचे फेंक दिया गया। घायल युवती के पिता ने बेटे की ससुराल पक्ष के 3 लोगों पर बेटी की हत्या के प्रयास आरोप लगाए हैं। घटना की सूचना के बाद एएसपी कुलदीप सिंह मौके पर पहुंचे। इस बीच युवती सीमा को गंभीर हालत में पीजीआई रेफर किया गया है।

घायल सीमा को अस्पताल लेकर जाते परिजन।
घायल सीमा को अस्पताल लेकर जाते परिजन।

नरवाना में घायल युवती सीमा के पिता टोहाना निवासी हनुमान ने बताया उसके बेटे सुरेश की शादी दूर्जनपुर गांव की सम्मी से फरवरी 2017 में हुई थी। वर्ष 2018 में सम्मी और सुरेश में मनमुटाव हो गया। सम्मी ने उसके, उसकी पत्नी सहित उसके बेटे सुरेश और बेटी सीमा के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया था। नरवाना की कोर्ट ने दोनों पक्षों को बुलाया था।

कोर्ट ने बेटा-बहू के बीच सझमौता हो सके, इसको लेकर वकील के चैम्बर में बैठकर बात करने की सलाह दी थी। हनुमान ने बताया कि वे चारों चैम्बर में बैठे थे। इसी दौरान उसके बेटे सुरेश के ससुराल पक्ष के लोगों ने उन पर हमला कर दिया। सम्मी रानी, साहिल और उसके मामा सुरेश ने बेटी सीमा को नीचे फेंक दिया। उनके साथ मारपीट भी की है।

घटना की सूचना के बाद अस्पताल पहुंचे एएसपी कुलदीप सिंह।
घटना की सूचना के बाद अस्पताल पहुंचे एएसपी कुलदीप सिंह।

युवती को नीचे फैंकने की घटना के बाद कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया। आनन फानन में पुलिस मौके पर पहुंची और घायल सीमा को अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस बुलाई गई। हनुमान का आरोप है कि उन पर हमला करने वालों में आरोपितों के अलावा और भी 6-7 लोग शामिल थे। एएसपी कुलदीप सिंह भी अस्पताल में पहुंचे और डॉक्टरों और परिजनों से बातचीत कर उचित कार्रवाई का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...