पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का चक्काजाम:42 जगहों पर लगाया जाम, कई कच्चे रास्ते भी रोके, एंबुलेंस और जरूरी काम से जाने वालों को दिया रास्ता

जींदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उचाना. खटकड़ टोल पर जाम लगाकर नारेबाजी करते किसान। - Dainik Bhaskar
उचाना. खटकड़ टोल पर जाम लगाकर नारेबाजी करते किसान।
  • तीन घंटे तक रोडवेज सेवा रही बंद, यात्रियों को करना पड़ा दिक्कतों का सामना
  • जिले में किसानों का शांतिपूर्वक रहा चक्काजाम, शहर में तीन घंटे तक सड़कें रहीं वीरान
  • वाहन चालकों को 2 से 3 किमी. अतिरिक्त दूरी तय कर जाना पड़ा

कृषि कानूनों के विरोध में शनिवार को जिले में किसानों ने 42 जगहों पर रास्ते रोक कर रोष जताया। कई जगहों पर युवाओं द्वारा कच्चे रास्तों पर भी अवरोध डालकर वाहन चालकों को रोका गया। वाहन चालकों को मुख्य मार्गों के जाम होने के कारण दो से तीन किलोमीटर अतिरिक्त दूरी तय करके लिंक मार्गों से होकर अपने गंतव्य तक जाना पड़ा।

जाम के दौरान किसानों ने एंबुलेंस व जरूरी काम से जाने वालों के लिए भी अवरोध हटाकर रास्ते खोले। जिले में किसानों के चक्काजाम के चलते 3 घंटे तक रोडवेज सेवा बंद रही। इससे यात्रियों को दिक्कतों करना पड़ा। दोपहर 12 बजे से लेकर शाम 3 बजे विभिन्न जगहों पर लगे जाम का शहर में भी असर देखने को मिला। इस दौरान सड़कें वीरान नजर आईं। हालांकि जाम का बाजार पर कोई असर नहीं पड़ा और आम दिनों की तरह सभी बाजार व दुकानें शहर में खुली रहीं।

प्रमुख मार्ग रहे बाधित, कई जगहों पर 11:30 बजे से लगाया जाम

जिले के सभी प्रमुख मार्गों पर शनिवार को जाम लगा। कई जगहों पर सुबह साढ़े 11 बजे ही किसानों ने जाम लगा दिया था। इस दौरान किसानों ने जहां सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया। वहीं सड़क पर ही गाना-बजाना कर मनोरंजन किया। जाम की एक बड़ी खास बात यह थी कि इस दौरान कोई हो-हल्ला नहीं था।

कहीं पर भी पुलिस के साथ कोई नोकझोंक नहीं हुई। वाहन चालकों से भी इस दौरान किसी तरह की कोई बहस नहीं हुई। यदि कोई वाहन चालक जरूरी काम या फिर मौत पर शोक जताने जा रहा है तो उसके लिए रास्ते बिना बहस किए ही किसानों द्वारा खोले जा रहे थे। जाम के दौरान कहीं पर एंबुलेंस को भी कोई दिक्कत नहीं हुई।

जिले में इन जगहों पर लगे जाम

  • जींद-कैथल रोड : कंडेला, शाहपुर, नगूरां व पेगां गांव के बस अड्डे पर।
  • जींद-हांसी रोड : ईक्कस गांव के चौक पर।
  • जींद-बरवाला रोड : ईंटल गांव में।
  • जींद-रोहतक रोड : किनाना, पड़ाना, गतौली, जुलाना अनाज मंडी के सामने, किलाजफरगढ़ गांव में।
  • जींद- भिवानी रोड : बीबीपुर अाैर ईगराह गांव के बस अड्डे पर।
  • जींद-सफीदों रोड : निर्जन, मनोहरपुर, लोहचब, तलौडा, जामनी चौंक, सफीदों के पास जींद रोड पर, सफीदों खानसर चौक।
  • जींद-गोहाना रोड : सिंधवीखेड़ा, निडानी, निडाना, ललितखेड़ा।
  • जींद-असंध रोड : अलेवा चौक पर।
  • जींद-नरवाना-पटियाला रोड : खटकड़ टोल प्लाजा, उचाना थाना के पास।

सुबह 11:30 बजे ही बंद होनी शुरू हो गईं बसें

बस स्टैंड के बाहर निजी वाहनों की राह देखते रहे यात्री, 3 घंटे इंतजार के बाद मिला

किसान आंदोलन के चलते शनिवार को रोडवेज सेवा पर काफी असर देखना को मिला। सुबह 11:30 बजे ही रोडवेज सेवा बंद होनी शुरू हो गई और 12 बजे तक सभी रूट बंद हो गए। इसके बाद यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। सुबह से ही लंबे रूट की बसों को ब्रेकडाउन किया गया और आसपास के डिस्ट्रिक में ही बसें जा सकी।

यात्रियों ने अपने गंतव्य तक जाने के लिए निजी वाहनों का रूख करना पड़ा, लेकिन वह भी नहीं मिल सके। ऐसे में यात्रियों ने गोहाना रोड पर सड़क पर खड़े होकर घंटों निजी वाहनों का इंतजार किया। इसके बाद ही आसपास के लोग जा सके और दूसरे डिस्ट्रिक के लोग दोपहर 3 बजे ही जा सके। इससे काफी परेशानी हुई।

जिन लोगों को लंबे रूट के लिए जाना था। उन्होंने बस स्टैंड परिसर के बाहर ही बैठकर बस चलने का इंतजार किया। रोडवेज डिपो के जीएम बिजेंद्र सिंह का कहना है कि दोपहर 3 बजे फिर से बस स्टैंड परिसर के हालात सामान्य हो गए।ऐसे बंद हुए रूट

  • चंडीगढ़ मार्ग : सुबह 11:30 बजे ही चंडीगढ मार्ग जाम हो गया और रूट को बंद करना पड़ा।
  • हांसी-हिसार मार्ग : सुबह 11:45 मिनट पर हाईवे जाम हो गया और फिर रूट को बंद करना पड़ा
  • रोहतक मार्ग : सुबह 11:50 मिनट पर किनाना गांव में जाम लग गया, जिसके कारण रूट को बंद करना पड़ा।
  • पानीपत मार्ग : सुबह 11:50 मिनट पर मनोहरपुर गांव के पास जाम लग गया, जिसके कारण रूट बंद कर दिया गया।
  • गोहाना मार्ग : दोपहर 12:00 बजे कई गांव के लोगों ने मार्ग को बाधित कर दिया।

हिसार जाना था, नहीं मिली बस

गोहाना की रहने वाली हूं और हिसार जाने के लिए बस जींद बस स्टैंड पहुंची, लेकिन फिर आगे रूट बंद मिले। प्राइवेट वाहन भी नहीं मिल रहें।
-भतेरी, यात्री गोहाना निवासी।

पानीपत जाना था, नहीं मिली

नरवाना का रहने वाला हूं, पानीपत जाना था। सुबह बस स्टैंड परिसर आकर पता चला कि आज हड़ताल है। इससे काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।
-महेंद्र, यात्री नरवाना निवासी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें