पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का दिल्ली कूच:जींद-रोहतक राजमार्ग पर लगा रहा जाम, पुलिस ने रूट डायवर्ट कर निकाले वाहन

जींद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के किसानों के दिल्ली कूच के चलते शनिवार को जुलाना के आसपास के एरिया में जींद-रोहतक राजमार्ग पर दोपहर तक जाम के हालात बने रहे। राजमार्ग पर सुबह सैकड़ों वाहन जाम में फंस गए। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने रोहतक की ओर जाने वाले वाहनों का गतौली गांव से रूट डायवर्ट किया। इसके बाद ही राजमार्ग पर यातायात सुचारू हो पाया।

राजमार्ग पर लगे जाम के कारण अनेक वाहन चालकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। दिल्ली जाने के लिए पंजाब के किसानों का जत्था शुक्रवार रात को किनाना, गौंसाईखेड़ा गांव के आसपास रुका हुआ था। शनिवार अल सुबह ही किसानों का जत्था ट्रैक्टर-ट्राॅलियों में सवार होकर दिल्ली के लिए रवाना हुआ। इस दौरान किसानों को रात में कई गांवों के किसानों ने मिलकर मौके पर ही भोजन का प्रबंध किया हुआ था।

सुबह भी पंजाब के किसानों को ग्रामीणों ने चाय-दूध पिलाकर नाश्ता करवाया। पंजाब से दिल्ली कूच के लिए आए किसानों को जिले की सीमा पार करने में 73 घंटे लग गए। पहले दातासिंहवाला बॉर्डर पर पुलिस के नाकाबंदी के चलते दो दिन तक किसान वहीं फंसे रहे।

किसानों ने आंदोलन के लिए किया 5 लाख चंदा एकत्र
पंजाब के किसानों की मदद के लिए जिले के किनाना, गौंसाखेड़ा, बुराडैहर, गतौली, शामलोकलां, पौली, किलाजफरगढ़ सहित कई गांवों के किसान आगे आए। पंजाब के किसानों द्वारा शुक्रवार रात को किनाना व गौंसाईखेड़ा गांव के पास डाले गए पड़ाव के चलते आसपास के गांवों के किसानों द्वारा मौके पर ही नहाने से लेकर खाने पीने तक की व्यवस्था की गई। पौली गांव में किसानों ने पंजाब के किसानों की मदद के लिए 5 लाख रुपए चंदा एकत्र किया गया। इस चंदा राशि से दिल्ली में किसानों को धरने के दौरान खाने-पीने की वस्तुएं खरीद कर मुहैया करवाई जाएंगी। ग्रामीण रोहताश, कुलबीर ने बताया कि इसके लिए एक कमेटी गठित की गई है।

पंजाब के किसान बोले- आने वाली पीढ़ियाें को काले कानूनों से दिक्कत न हो उसके लिए लड़ रहे हैं लड़ाई

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली कूच कर रहे पंजाब के किसानों का कहना था कि जब तक काले कानून को वापस नहीं लिया जाता उनकी लड़ाई जारी रहेगी। संगरूर के किसान बलविंद सिहं ने कहा कि जो कानून सरकार ने लागू किए हैं वो किसी लिहाज से भी किसान के हित में नही हैं। आने वाली पीढ़ियां इन काले कानूनों पर उनको कोसेंगी। आने वाली पीढ़ियाें उन्हें कोई दोष न दे इसके लिए वे ये आंदोलन कर रहे हैं। पटियाला के सरबजीत सिंह ने कहा कि बच्चों के सिर पर आखिरी बार हाथ रखकर आया हूं और बोलकर आया हूं कि अगर वो जीतकर आए तो ही गांव में कदम रखेंगे नहीं तो दिल्ली में ही रहेंगे।

जिले की सीमा से शांतिपूर्वक निकाला काफिला

रात के समय किसान जुलाना क्षेत्र में रुके हुए थे। सुबह से ही किसान दिल्ली की ओर रवाना होने शुरू हो गए थे। प्रशासन के आदेशानुसार किसानों को दिल्ली के लिए शांतिपूर्वक तरीके के साथ जाने दिया गया है। -मनोज कुमार, ड्यूटी मजिस्ट्रेट एवं तहसीलदार जुलाना।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उत्तम व्यतीत होगा। खुद को समर्थ और ऊर्जावान महसूस करेंगे। अपने पारिवारिक दायित्वों का बखूबी निर्वहन करने में सक्षम रहेंगे। आप कुछ ऐसे कार्य भी करेंगे जिससे आपकी रचनात्मकता सामने आएगी। घर ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser