पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि कानून विरोध:किसान आंदोलन को वकीलों ने दिया समर्थन, राष्ट्रपिता की प्रतिमा के सामने दिया धरना

जींद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जल्द ही किसानों के समर्थन के लिए शिष्टमंडल जाएगा टीकरी बाॅर्डर पर

तीन कृषि अध्यादेश के विरोध में किसानों द्वारा किए जा रहे आंदोलन का वकीलों ने समर्थन किया है। बुधवार को जिला बार एसोसिएशन ने किसानों के समर्थन में कोर्ट परिसर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना देकर सरकार के खिलाफ रोष जताया। धरने की अध्यक्षता जिला बार एसोसिएशन के प्रधान राजेश गोयत ने की। इस दौरान वकीलों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। बाद में वकीलों ने तीन कृषि कानूनों को रद्द करने को लेकर राष्ट्रपति के नाम का एक ज्ञापन सीटीएम होशियार सिंह को सौंपा वकीलों ने फैसला लिया है जल्द ही एक शिष्टमंडल किसानों के आंदोलन को समर्थन करने के लिए टीकरी बार्डर भी पहुंचेगा।

सरकार करे किसानों की मांगों को पूरा : राजेश गोयत

बार एसोसिएशन के प्रधान राजेश गोयत ने कहा कि तीन कृषि अधिनियम के विरोध में किसान पिछले एक माह से दिल्ली बॉर्डर पर कड़ाके की ठंड के बीच डेरा डाले हुए हैं। सरकार किसानों की मांगों की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि जब अन्नदाता बेहाल है तो देश खुशहाल कैसे हो सकता है। उन्होंने कहा कि अगर तीन कृषि अधिनियम किसानों का हितैषी है तो सरकार किसानों को समझाने में नाकाम क्यों है।

तीन कृषि अधिनियम में खामी है तो किसान आंदोलन करने को मजबूर हैं। सही मायने में कृषि अधिनियम किसानों के खिलाफ है। सरकार को चाहिए कि किसानों की भावनाओं को देखते हुए तीन कृषि अधिनियम को तुरंत प्रभाव से निरस्त करे। इस मौके पर एडवोकेट देशराज सरोहा, विनोद श्योकंद, चांदराम दूहन, बलबीर ढूल, जसबीर कुंडू, दयासिंह, अशोक बत्तरा, ईश्वर सिंह, देवेंद्र ढुल, रामरूप चहल सहित कई बार एसोसिएशन के सदस्य मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

    और पढ़ें