पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध प्रदर्शन:12 किमी दूर से पुलिस नहीं रोक पाई; झड़पों के बीच से जींद पहुंचे किसान, चार घंटे रेस्ट हाउस पर दिया धरना

जींद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जींद. शुगर मिल के पास पुलिस व किसानों के बीच हुआ विवाद। - Dainik Bhaskar
जींद. शुगर मिल के पास पुलिस व किसानों के बीच हुआ विवाद।
  • पुलिस छावनी बना रहा गोहाना रोड, किसानों के साथ महिलाओं ने पहले सरकार को कोसा
  • किसान बोले- हमने ऐलान किया है कि भाजपा- जजपा नेताओं का करेंगे विरोध तो डिप्टी सीएम क्यों आ रहे

वाह री हरियाणा पुलिस, करीब 12 किलोमीटर दूर से किसानों को जींद आने से रोक नहीं पाई। जींद में अस्पताल में मरीजों का हाल चाल जानने व अस्पताल में सुविधाओं का जायजा लेने के लिए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला आ रहे हैं और पहले वे पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस पहुंचेंगे, इसकी किसानों को जैसे ही सूचना मिली वे ट्रैक्टर ट्रालियों व कैंटर में सवार होकर जींद की ओर चल पड़े।

पुलिस प्रशासन को भी इसकी भनक लगी तो उन्होंने जींद नरवाना मार्ग पर शुगर मिल के पास ही किसानों को रोकने के लिए बेरिकेड्स लगाकर पुलिस बल को तैनात किया। लेकिन किसानों की ज्यादा संख्या होने के कारण पुलिस उन्हें रोक नहीं पाई। किसान बेरिकेड्स तोड़कर रवाना हो गए।

रास्ते में अमरहेड़ी मोड, हैबतपुर पुल, महिला थाना, स्टेडियम, पुलिस लाइन के सामने व एसपी की कोठी के सामने भारी पुलिस बल ने किसानों को रोकने का भरसक प्रयास किया और पुलिस व किसानों की खूब झड़प हुई। किसानों का आरोप है कि पुलिस ने लाठी चार्ज किया, जबकि पुलिस सिर्फ झड़प बताती रही। बाद में किसान रेस्ट हाउस के सामने आ डटे। यहां पर पहले ही पुलिस फोर्स तैनात की गई थी ताकि रेस्ट हाउस में न जाएं। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने बाकायदा रेस्ट हाउस का मेन गेट पर भी ताला लगवा दिया और गोहाना रोड से एंट्री पर बेरिकेड्स लगाए।

विरोध जारी : तपती दोपहरी में किसानों व महिलाओं ने सड़क पर दिया धरना

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला का विरोध करने आए किसानों व महिलाओं ने तपती दोपहरी में गोहाना रोड की सड़क पर ही धरना देना शुरू किया। वहीं सुरक्षा किट के साथ भारी पुलिस बल तैनात रहा। महिला पुलिस भी काफी संख्या में मौजूद रही। यहां पर महिलाओं ने काले झंडे हाथ में लेकर सरकार को खूब कोसा।

जब डिप्टी सीएम नहीं आए तो किसानों ने उसका पुतला फूंका और बाद में वे घरों को रवाना हुए। पूरे जिले की पुलिस को जींद में इकट्ठा किया तो गोहाना रोड पुलिस छावनी के रूप में नजर आया। जींद व सफीदों के एसडीएम के अलावा एएसपी नितिश अग्रवाल समेत कई डीएसपी समेत काफी पुलिस प्रशासन मौजूद रहा। सुरक्षा व्यवस्था के लिए पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान भी मुस्तैद दिखे। उन्हें मौके पर दोपहर का लंच व फल आदि वितरित किए गए।

खबरें और भी हैं...