पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:पुलिस नाके से 60 मीटर की दूरी पर चाकू से हमला कर पेंट व्यापारी से लूटे 35 हजार

जींद5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लूट की घटना के बाद दुकान के बाहर एकत्रित हुए लोग। - Dainik Bhaskar
लूट की घटना के बाद दुकान के बाहर एकत्रित हुए लोग।
  • दिन में ढाई बजे हुई लूट, दुकान में लगे सीसीटीवी की रिकार्डिंग 11 बजे तक की मिली
  • बाइक पर सवार हो आए थे 3 आरोपी, एक के हाथ में पिस्तौल, दूसरे आरोपी के हाथ में था चाकू

शहर में रानी तालाब पर पुलिस नाके से महज 60 मीटर की दूरी पर बाइक सवार तीन नकाबपोश बदमाशों ने दिनदहाड़े पिस्तौल व चाकू दिखाकर पेंट व्यापारी से 35 हजार रुपए लूट लिए। घटना को अंजाम देकर आरोपी रानी तालाब की तरफ भाग गए। बदमाशों ने मालिक पर चाकू से वार भी किया, जो उसके हाथ पर जा लगा, जिससे वह घायल हो गया। घायल को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलने पर पुलिस ने नाकेबंदी भी की, लेकिन आरोपियों का सुराग नहीं लग सका।

जिस समय वारदात हुई, उस समय दुकान पर मालिक और उसका एक लेबर कर्मी था। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दुकान में लगे सीसीटीवी खंगाले, लेकिन उनमें सुबह 11 बजे के बाद की फुटेज रिकार्ड नहीं मिली। पुलिस ने नजदीक बैंक की सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली, लेकिन उसमें भी ऐसा कोई सुराग नहीं लगा, जिससे आरोपियों का पता लग सके।

गांधी नगर निवासी योगेंद्र की गोहाना रोड पर रानी तालाब के नजदीक फतेहचंद जैन एंड संस के नाम से पेंट की दुकान है। शुक्रवार दोपहर को योगेंद्र जैन अपनी दुकान पर बैठा हुआ था। लगभग अढ़ाई बजे बाइक पर सवार होकर तीन नकाबपोश युवक आए। वह सीधा अंदर गए और दुकान में बैठे योगेंद्र से एमसिल मांगी।

जैसे ही योगेंद्र एमसिल देने लगा तो एक आरोपी ने कहा कि वह पीछे हट जाए और गल्ले में जो राशि वह दे दे। इस दौरान एक आरोपी ने योगेंद्र पर चाकू से हमला कर दिया। चाकू सीधा योगेंद्र के हाथ पर जा लगा। आरोपी गल्ले में रखे लगभग 35 हजार रुपए की नकदी निकाल बाइक पर सवार होकर रानी तालाब की तरफ फरार हो गए।

इसकी सूचना योगेंद्र ने 100 नंबर पर दी। सूचना मिलने पर कुछ ही देर में पुलिस मौके पर पहुंच गई और स्थिति का जायजा लिया। घायल योगेंद्र जैन को सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई।

विरोध में दुकानें की बंद

लूट की वारदात के चलते आसपास के दुकानदारों ने विरोध स्वरूप अपनी दुकानें बंद कर ली। लगभग आधे घंटे तक दुकानें बंद रखी गई। दुकानदारों ने मांग की कि लूट के आरोपियों का जल्द से जल्द पता लगाया जाए। दिनदहाड़े हुई लूट की घटना से शहर के व्यापारियों में रोष है।

खबरें और भी हैं...