लिखा पत्र:सिविल अस्पताल में बायोसेफ्टी कैबिनेट जल्द उपलब्ध करवाने की उठाई मांग

जींदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्लेटलेट्स सुविधा शुरू करने के बारे में सिविल सर्जन ने इस शिकायत पर अमल करते हुए पंचकूला स्थित हरियाणा स्टेट ब्लड ट्रांसफ्यूजन काउंसिल के मेंबर सेक्रेटरी को पत्र लिखा है, जिसमें सिविल हॉस्पिटल के ब्लड बैंक में लेमिनार एयर फ्लो (बायोसेफ्टी कैबिनेट) जल्द उपलब्ध करवाने की मांग की है। जिले में डेंगू का प्रकोप इस साल बढ़ा है।

सिविल अस्पताल में संबधित मरीजों की संख्या बढ़ी है। जींद के प्राइवेट अस्पताल डेंगू जैसे बुखार से पीड़ित मरीजों से भरे पड़े हैं। इस तरह के बुखार में मरीजों की प्लेटलेट्स घट रही है। जिन मरीजों को प्लेटलेट्स चढ़वाने की जरूरत पड़ती है, उन्हें न तो सिविल अस्पताल से यह सुविधा मिल पा रही है और न ही किसी भी प्राइवेट अस्पताल में यह सुविधा है। ऐसी स्थिति में मरीज को दूसरे शहरों की ओर भागना पड़ रहा है।

अब सिविल अस्पताल प्रशासन हरकत में आया। सरकार की तरफ से आदेश आने के बाद सिविल अस्पताल के सिविल सर्जन ने इस शिकायत पर अमल करते हुए 6 दिसंबर को पंचकूला स्थित हरियाणा स्टेट ब्लड ट्रांसफ्यूजन काउंसिल के मेंबर सेक्रेटरी को पत्र लिखा है, जिसमें सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक में लेमिनार एयर फ्लो (बायोसेफ्टी कैबिनेट) जल्द उपलब्ध करवाने की मांग की है। इसकी मांग जींद विकास संगठन व अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने सिविल अस्पताल प्रशासन व डिप्टी सीएम से की थी।

बायोसेफ्टी कैबिनेट जल्द मिलने की उम्मीद
ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. अजय चालिया ने बताया कि इस मामले में एचएसबीसी को पत्र लिखा गया है, जिसमें बायोसेफ्टी कैबिनेट जल्द भेजने की मांग की गई है। उनकी काउंसिल में इस बारे में बात भी हुई है। उन्हें उम्मीद है कि जींद के सरकारी अस्पताल में जल्द ही यह कैबिनेट उपलब्ध होगी। उसके बाद ब्लड कम्पोनेंट सुविधा शुरू करने के लिए लाइसेंस अप्लाई किया जाएगा। उसके बाद जींद में यह सुविधा शुरू हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...