पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना मुक्त हो रहे, लेकिन सतर्क रहें:राहत : नहीं आया कोई नया पॉजिटिव, तीन एक्टिव मरीज बचे, खतरा: 80% नहीं लगाते मास्क, पड़ोसी जिलों में बढ़ रहे केस

जींद10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना मुक्त हो रहे, लेकिन सतर्क रहें }इस माह कोरोना के 24 केस आए, मई में 29 और अप्रैल में 2 केस आए थे
  • करनाल में एक सप्ताह में रोजाना 14 के औसत से 95 केस आए, पानीपत में भी बढ़े

धीरे-धीरे जिला अब कोरोना मुक्त हो रहा है। पिछले 8 माह में सबसे कम कोरोना के केस इस माह में आए हैं। फिर भी हमें एहतियात बरतने की जरूरत है, क्योंकि आसपास के जिलों करनाल और पानीपत में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। यह लापरवाही भारी पड़ सकती है, इसलिए हमें दो गज की दूरी और मास्क का प्रयोग जरूरी करना है।

यदि लोग थोड़ी सी और सावधानी बरतें तो जल्द ही जिला कोरोना मुक्त हो सकता है। कोरोना कॉल में जहां मास्क व सेनिटाइजर की मांग एक दुकान पर 200 से 300 तक थी, वह आज 5 से 10 तक रह गई है। जिले में दस बार ऐसा हुआ है जब एक भी कोरोना का केस नहीं आया है।

उधर पड़ोसी जिलों मे केस बढ़ रहे हैं। करनाल में बीते सात दिन में 95 केस आए हैं । जबकि फरवरी के 15 दिनों में मात्र 77 केस थे। इसी तरह पानीपत में केसों की संख्या बढ़ी है। सोमवार को भी कोई पाॅजिटिव रिपोर्ट नहीं आई। अभी भी 301 सैंपलों की रिपोर्ट आना बाकी है।

जिले में एक्टिव केसों की संख्या भी मात्र 3 रह गई है। हालात यह हैं कि जिले में अब जहां कोरोना संक्रमण में कमी आई है। यानि अब पॉजिटिव केसों से होने वाले संक्रमण का खतरा काफी हद तक टल गया है। इससे पहले कोरोनाकाल की शुरुआत में मई में ऐसे हालात थे।

जब एक्टिव केसों की संख्या 10 के आसपास होती थी। इसके बाद कोरोना संक्रमण बढ़ा और एक्टिव केसों की संख्या जिले में 400 तक पहुंच गई थी। जिले में अब तक कुल 5198 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 88 लोगों की जान जा चुकी हैं।

जींद के बस स्टैंड पर लोगों की प्रतिदिन भीड़ रहती है। लोग न तो मास्क लगाते हैं और न ही सोशल डिस्टेंस का ध्यान रख रहे हैं

जिले में नवंबर, दिसंबर से इसकी तुलना करें तो जिले में अब उसके मुकाबले आधी सैंपलिंग भी नहीं हो रही। पहले रोजाना एक हजार से अधिक लोगों के जिले में सैंपल लिए जाते थे। लेकिन अब रोजाना 300 से भी कम लोगों के सैंपल लिए जा रहे हैं। इसका बड़ा कारण अब कोरोना पॉजिटिव केसों के संपर्क में आए लोगों की संख्या काफी कम होना है।

वैक्सीनेशन : दूसरे चरण में 12 % ने लगवाई वैक्सीन
वैक्सीन की दूसरी डोज देने का काम शुरू हो चुका है। पहले चरण में 9585 को डोज लगनी थी, जिसमें से 4400 ने डोज लगवाई। जो लगभग 65 प्रतिशत था। अब दूसरी डोज लगनी शुरू हो चुकी है। दूसरे चरण में 2885 को टीका लगना है, जिसमें से 350 ने ही टीका लगवाया है। मंगलवार को 8 जगहों पर टीकाकरण किया जाएगा। बुधवार को 16 जगहों पर टीका लगाया जाएगा।

24 से खुलेंगे तीसरी से पांचवीं के स्कूल

शिक्षा विभाग ने 24 फरवरी से तीसरी से पांचवीं कक्षा के स्कूल खोलने का निर्णय लिया और इसके आदेश सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को भेज दिए हैं। स्कूल प्रतिदिन तीन घंटे के लिए 10 से डेढ़ बजे तक ही लगाए जाएंगे। स्कूल आने से पहले विद्यार्थियों को माता-पिता की अनुमति पत्र लाना होगा। जो बच्चे आॅनलाइन पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं, उनके लिए आॅनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। ऐसे विद्यार्थियों को स्कूल में आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।

अब तक मात्र 12.52 प्रतिशत लोगों की हुई सैंपलिंग

जिले की आबादी लगभग 14 लाख है। मार्च 2020 से लेकर अब तक केवल 12.52 प्रतिशत लोगों की सैंपलिंग हो सकी है। जिले में कुल 1 लाख 75 हजार 287 लोगों की सैंपलिंग अब तक हुई है। इसमें से 5198 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। सोमवार को 241 लोगों के सैंपल लिए गए, जबकि 301 लोगों के सैंपलों की रिपोर्ट आनी बाकी है।

प्रतिदिन बिना मास्क वाले 100 लोगों के हो रहे चालान

जिले में कोरोना संक्रमण कम होने का असर अब लोगों पर भी साफ दिखाई देने लगा है। सिविल अस्पताल, बाजार, बस स्टैंड, शिक्षण संस्थान व अन्य सार्वजनिक जगह जहां पर कोरोना संक्रमण होने का खतरा बना रहता है। लोगों की भीड़ लगी रहती है, वहां पर भी अब 80 प्रतिशत लोग बिना मास्क के पहुंच रहे हैं।

इस लापरवाही से जिले में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण बढ़ सकता है। इसके लिए लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है। जिले में प्रतिदिन बिना मास्क लगाकर घूमने वाले 100 लोगों के चालान काटे जा रहे हैं और इनसे प्रति चालान 500 रुपए वसूले जा रहे हैं, फिर भी लोग मास्क नहीं लगा रहे।

जानिए... जिले में कोरोना के किस महीने कितने केस आए

  • महीना केस
  • अप्रैल 2020 02
  • मई 29
  • जून 79
  • जुलाई 199
  • अगस्त 432
  • सितंबर 1586
  • अक्टूबर 893
  • नवंबर 1269
  • दिसंबर 897
  • जनवरी 2021 137
  • फरवरी अब तक 24

2020 में जिले में इन 4 महीनों में एक्टिव केस रहे सबसे ज्यादा

  • महीना एक्टिव केस
  • सितंबर 400
  • अक्टूबर 300
  • नवंबर 400
  • दिसंबर 200

फरवरी में 10 बार ऐसा हुआ है, जब कोई भी पॉजिटिव केस नहीं आया है। केवल सावधानी जरूर बरतें। लोग मास्क, सेनिटाइजर व सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखे। डॉ. पालेराम कटारिया, डिप्टी सीएमओ, जींद।
24 फरवरी से तीसरी से पांचवीं की कक्षाएं लगाने के निर्देश मिले हैं। कोविड-19 के नियमों का पूरा पालन कराया जाएगा। सुशील जैन, खंड शिक्षा अधिकारी, जींद।

कोरोना कॉल में जहां प्रतिदिन 300 से 500 मास्क और 200 से 300 सेनिटाइजर एक दुकान पर प्रतिदिन बिक जाते थे, वहीं आज इसकी मांग बिल्कुल कम हो गई है। अब प्रतिदिन 5 से 10 मास्क और 2 से 3 सेनिटाइजर मुश्किल से बिक पाते हैं। अरविंद कुमार, प्रधान, मेडिकल स्टोर एसोसिएशन, जींद।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें