एनकाउंटर लाइव / वारदात के बाद रोहतक रोड स्थित भगवान नगर में छिपे थे बदमाश, हमले में 4 पुलिसकर्मी घायल, गोहाना के दो पुलिस कर्मचारियों की हत्या का मामला

पुलिस कर्मी को लगे बदमाशों के चाकू। पुलिस कर्मी को लगे बदमाशों के चाकू।
X
पुलिस कर्मी को लगे बदमाशों के चाकू।पुलिस कर्मी को लगे बदमाशों के चाकू।

  • अपराधिक मामलों में लिप्त हैं आरोपी, संदीप पर हत्या का केस, पुलिस के पहुंचते चाकू लेकर टूट पड़े बदमाश
  • प्रशांत को लगे चाकू और अनिल को कान पर लगा पत्थर
  • लोग आए बचाने को इंस्पेक्टर बोले- आप दूर रहो, ये बदमाश हैं आपको भी मार सकते हैं, 15 मिनट तक बदमाशों से उलझते रहे

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:00 AM IST

जींद. गोहाना के बुटाना पुलिस चौकी के एसपीओ जींद निवासी कप्तान सिंह और रवींद्र की हत्या कर भागे बदमाश शहर के रोहतक रोड स्थित भगवान नगर में मकान में छिपे थे। संदीप पर हत्या का मामला दर्ज है। यह घर पकड़े गए बदमाश संदीप का है। उनकी लोकेशन के आधार पर मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे को सोनीपत सीआइए, साइबर टीम ने घेर लिया। साइबर सेल की लोकेशन के आधार पर पता चला बदमाश जींद में रोहतक रोड के पास स्थित एक मकान में छिपे हुए हैं।

जैसे ही टीम मकान के अंदर दाखिल हुई, मकान में मौजूद कई बदमाशों ने पुलिस पर चाकुओं से हमला बोल दिया। जवाबी कार्रवाई ने पुलिस ने बदमाशों पर गोली चलाई। इसमें जींद के भिवानी रोड िनवासी अमित गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस कर्मियों ने बीबीपुर निवासी संदीप व एक अन्य बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। जबकि विकास नाम का एक बदमाश भागने में सफल हो गया।

उधर बदमाशों के हमले में सोनीपत साइबर क्राइम के इंचार्ज इंस्पेक्टर प्रशांत, सीआईए टू के इंचार्ज अनिल कुमार, एएसआई मनजीत व कांस्टेबल राजेश घायल हो गए। सभी घायलों को सिविल अस्पताल लाया गया जहां अमित की मौत हो गई। सिर में लगी चोट के कारण इंस्पेक्टर अनिल की हालत गंभीर बनी हुई थी और उसे चिकित्सकों ने पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया।

बदमाशों के हमले में घायल हुए इंस्पेक्टर प्रशांत और अनिल को लोग बचाने के लिए आगे आए तो घायल होने के बावजूद दोनों ने लोगों से दूर भगाया। बोले ये बदमाश हैं आपको गोली भी मार करते हैं। 15 मिनट दोनों पुलिस अधिकारी बदमाशों से उलझते रहे। अंत में बदमाशों को मोटरसाइकिल छोड़कर भागना पड़ा।

जहां मुठभेड़ हुई वहां के निवासियों ने बताया कि शाम करीब साढ़े छह बजे काफी शोर-शराबा होने पर बाहर निकले तो दो युवक दो व्यक्तियों पर हमला कर रहे थे। एक युवक के हाथ में चाकू था तो दूसरा युवक ईंट और पत्थर से हमला कर रहा था। युवकों को जब काॅलोनीवासियों ने रोकने की कोशिश की तो घायल व्यक्तियों ने कहा कि ये बदमाश हैं और आप दूर रहें ये आपको भी मार सकते हैं। चारों के बीच 15 मिनट तक मुठभेड़ चलती रही।

आखिरकार दोनों युवक वहां से चाकू लहराते हुए फरार हो गए। एक व्यक्ति के कान पर बड़ा पत्थर लगा तो वहीं दूसरे व्यक्ति को कई जगहों पर चाकू लगे थे। बाद में घायल व्यक्ति ने बताया कि वह पुलिस से हैं और उसे फोन चाहिए ताकि वह आगे खड़ी अपनी टीम को बुला सके।

संदीप के घर आए थे दोनों युवक
भगवान नगर में रहने वाले संदीप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उसी के घर दोनों युवक आए थे। परंतु युवकों के वहां पहुंचने से पहले ही सोनीपत सीआईए टू व साइबर क्राइम के अधिकारी वहां पहुंच चुके थे। जैसे ही युवक संदीप के घर पहुंचे तो पुलिस अधिकारियों के साथ उनका सामना हो गया। संदीप की मां शीला ने पुलिस को बताया कि संदीप पर पहले से ही हत्या का मुकदमा दर्ज है और वह जमानत पर बाहर आया है।

बदमाशों के बाकी साथी खड़े थे गली के बाहर
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दोनों बदमाशों के साथ उनके लगभग पांच-छह साथी गली के बाहर मुख्य सड़क के साथ खड़े थे। जब दोनों बदमाश पुलिस अधिकारियों पर हमला करके बाहर की ओर भागे तो उन्होंने अपने अन्य साथियों को भी वहां से भागने का इशारा किया था। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि मुख्य सड़क पर पुलिस व बदमाशों का आमना-सामना हुआ था।

ऐसे पता चली बदमाशों की लोकेशन
बुटाना में पुलिस की जहां पर हत्या की गई उस जगह के पुलिस ने मोबाइल लोकेशन डंप की। सूत्रों के अनुसार इस दौरान मृतकों के अलावा 3 मोबाइल और उस जगह पर उस समय काम करते पाए गए। उन्हीं मोबाइल नंबर की लोकेशन साइबर टीम को जींद की मिली। इसी के आधार पर सोनीपत साइबर व सीआईए टू टीम शहर के भगवान नगर में पहुंची थी। जहां बदमाशों से उनकी मुठभेड़ हो गई। 

गंभीर घायल हैं पुलिस कर्मी पर खतरे से बाहर
डाॅ. राजेश भोला, डिप्टी एमएस सिविल अस्पताल जींद ने कहा कि बदमाशों के हमले में घायल हुए सोनीपत पुलिस के दोनों इंस्पेक्टरों की हालत गंभीर है, मगर दोनों खतरे से बाहर हैं। इसमें से एक को रोहतक पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। पुलिस की गोली लगने से अमित नामक युवक की मौत हो गई है। उसे कितनी गोलियां लगी, इसका पता पोस्टमार्टम के समय ही लग पाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना