पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आउटसोर्सिंग भर्ती विवाद मामला:सांसद ने हिदायत दी तो सीएमओ ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई के लिए एसपी को दी शिकायत

जींदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिविल अस्पताल में धरना देते आउटसोर्स के कर्मचारी। फोटो |भास्कर - Dainik Bhaskar
सिविल अस्पताल में धरना देते आउटसोर्स के कर्मचारी। फोटो |भास्कर
  • सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में 50-60 हजार रिश्वत लेने के लगाए हैं आरोप
  • डीजी हेल्थ के हस्तक्षेप के बाद भी नहीं सुलझा विवाद, कर्मचारियों ने ठेकेदार पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

स्वास्थ्य विभाग में आउटसोर्सिंग भर्ती विवाद मामले में सोनीपत लोकसभा क्षेत्र के सांसद रमेश कौशिक ने मंगलवार को जिला प्रशासन के अधिकारियों की वर्चुअल मीटिंग लेकर हिदायत दी तो सिविल सर्जन ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई को लेकर एसपी को लिखित शिकायत दी है।

वहीं डीजी हेल्थ द्वारा दो बार मीटिंग बुलाने के बाद मामले का पटाक्षेप नहीं हो पाया है। कर्मचारी कंपनी ठेकेदार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए ब्लैक लिस्टेड व एफआईआर दर्ज कराने की मांग कर रहे हैं। कर्मचारियों के आरोप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिनमें भर्ती के नाम पर 50 से 60 हजार रुपए तक की डिमांड की जाने की बात कही जा रही है।

इसके अलावा उचाना व सफीदों एसएमओ को कर्मचारियों ने शिकायत देकर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। सिविल सर्जन ने इन शिकायतों के आधार पर पुलिस प्रशासन को भ्रष्टाचार मामले में कानूनी कार्रवाई की मांग की है। जिले में स्वास्थ्य विभाग में लगभग 628 कर्मचारी आउटसोर्सिंग पर लगे हुए थे।

एमजे सोलंकी कंपनी ठेकेदार ने इन कर्मचारियों की दोबारा जाॅइनिंग के लिए लिस्ट नहीं दी है। इसके विरोध में कर्मचारी 25 दिनों से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं। कर्मचारियों की मांग है कि उक्त कंपनी को ब्लैक लिस्टेड करते हुए इसका ठेका रद्द किया जाए।

हालांकि कंपनी द्वारा अब तक कुल 174 कर्मचारियों को लगाने की लिस्ट सिविल सर्जन को सौंपी थी, जबकि कर्मचारी सभी 628 कर्मचारियों की बहाली के साथ जाॅइनिंग की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा 100 से अधिक और कर्मचारी विभिन्न नेशनल स्कीमों की तकनीकी पोस्ट पर कार्यरत हैं, जिन्हें नहीं हटाया गया है।

मामले की जांच कराकर कार्रवाई अमल में लाएंगे

सिविल सर्जन की ओर से भ्रष्टाचार मामले में कानूनी कार्रवाई की शिकायत मिली है। जल्द ही मामले की जांच कराकर आगामी कार्रवाई अमल में लाएंगे। -वसीम अकरम, एसपी, जींद।

कर्मचारियों का धरना जारी

स्वास्थ्य कर्मचारी संघ संबंधित (हरियाणा राज्य कर्मचारी संघ एवं भारतीय मजदूर संघ) की जिला समिति के आह्वान पर स्वास्थ्य विभाग व एमजे सलंकी आउटसोर्सिंग कंपनी की कर्मचारी ने सिविल सर्जन कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना देकर रोष जताया।

धरने को विनोद शर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष हरियाणा राज्य कर्मचारी संघ, सतबीर बूरा जिला मंत्री भारतीय मजदूर संघ ,जितेंद्र वत्स जिला कोषाध्यक्ष स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा, शीतल, जितेंद्र सफीदों, रविंद्र जुलाना, बीरभान व मंजू ने संबोधित किया।

विनोद शर्मा ने कहा कि सभी कर्मचारियों की मूल स्थान पर नियुक्ति, सभी हटाए गए कर्मचारियों को बहाल करने, स्वास्थ्य मंत्री के किसी भी कर्मचारी को न हटाने के आदेशों को लागू करने, समय पर वेतन सहित सभी मांगों को जल्द पूरा किया जाए।

खबरें और भी हैं...