पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवरात्र:पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की, आज होगी मां ब्रह्मचारिणी की अर्चना

जींद14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जींद. जयंती देवी मंदिर में नवरात्र के पहले दिन पहुंचे श्रद्धालु। फोटो | भास्कर

शनिवार को नवरात्र के साथ फेस्टिवल सीजन की शुरुआत हो चुकी है। मंदिरों में नवरात्र के पहले दिन मां के भक्तों की कम ही भीड़ देखने को मिली है। पहले दिन मंदिरों में मां शैलपुत्री की पूजा-अर्चना व घटस्थापना की गई। सुबह शहर के प्रसिद्ध मंदिर जयंती देवी मंदिर, सोमनाथ मंश देवी मंदिर में श्रद्धालुओं ने मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मां के दर्शन किए और इस दौरान मंदिर परिसर में सेनिटाइज की भी व्यवस्था की गई। नवरात्र शुरू होने पर शहर में सभी मंदिरों में पुलिस ने भी पैनी नजर रखी और मंदिरों में गश्त कर जानकारी ली।

जयंती देवी के मंदिर के पुजारी पंडित नवीन कुमार शास्त्री ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओं की कम ही भीड़ रही और जो भी श्रद्धालु मंदिर परिसर में आया वह मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ही मंदिर में मां के दर्शन किए गए। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से मां के भक्तों तक पूजा अर्चना की वीडियो भेजकर मां के दर्शन करवाए गए। रविवार को मां ब्रह्मचारिणी की पूजा अर्चना की जाएगी।

मां ब्रह्मचारिणी की ऐसे करें पूजा-अर्चना
नौ दुर्गा में ब्रह्मचारिणी देवी का स्वरूप पूर्ण ज्योतिर्मय व अत्यंत भव्य है। इनके दाहिने हाथ में जप की माला व बाएं हाथ में कमंडल रहता है। साधक यदि भगवती के इस स्वरूप की आराधना करता हैं तो उसमें तप करने की शक्ति, त्याग, सदाचार, संयम और वैराग्य में वृद्धि होती है। जीवन के कठिन से कठिन संघर्ष में वह विचलित नहीं होता है। भगवती ब्रह्मचारिणी की कृपा से सदैव विजय प्राप्त होती है। मां ब्रह्मचारिणी को शक्कर का भोग लगाएं और घर के सभी सदस्यों को दें। इससे आयु में वृद्धि होती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें