पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धर्मं:भागवत सुनने मात्र से ही जन्म-जन्म के पापों से मिलती है मुक्ति : आशानंद शास्त्री

जुलाना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भागवत कथाओं के माध्यम से मनुष्य में अध्यात्म ज्ञान की उत्पति होने के साथ जन्म-जन्म के पापों से भी मुक्ति मिल जाती है। यह शब्द बाल विदुषी साध्वी आशानंद शास्त्री ने हनुमान मंदिर के प्रांगण में चल रही कथा के दौरान श्रद्धालुओं को कही। जुलाना के हनुमान मंदिर में आयोजित श्री भागवत कथा के चौथे दिन रविवार को कथा वाचक साध्वी आशानंद शास्त्री ने कहा कि पृथ्वी लोक पर बार-बार परमात्मा का अवतरण होता है। उनकी लीलाएं होती हैं और गुणगान करते हुए कर्म धर्म के साथ ही महायज्ञ होते हैं। ऐसे में परमात्मा स्वयं यहां पर जन्म लेते हैं। वे जीव के प्रेम उसकी करुण पुकार को जरूर सुनता है।

साध्वी आशानंद शास्त्री ने भागवत सुनाते हुए कहा कि जब भी परमात्मा का गुणानुवाद इस पृथ्वी पर होता है या परमात्मा स्वयं आकर यहां पर तरह-तरह की लीलाएं करते हैं तो देवतागण भी पृथ्वी पर जन्म लेने के लिए लालायित रहते हैं। भागवत पुराण कथा को श्रवण करने वाले भक्त निश्चित रूप से मोक्ष को प्राप्त कर लेते हैं।

जिस प्रकार राजा परीक्षित श्राप से मुक्त हो गए अनेकानेक राक्षस और पापी भी उस परमात्मा की कृपा से मुक्ति पा गए, ऐसे सभी पुराणों और ग्रंथों में महापुराण की संज्ञा पाने वाला श्रीभागवत पुराण है। जिसकी कथाओं का श्रवण करने के लिए इतने बड़े-बड़े आयोजन किए जाते हैं। भक्तों के मन की वांछित कल्पनाओं से परे हटकर पुण्य फल प्रदान करने वाला यह महात्म्य होता है।

वास्तव में श्रोता ही भागवत कथा के प्राण हैं। जिसके कल्याण के लिए इस प्रकार के अनुष्ठान किए जाते हैं। इस मौके पर हनुमान मन्दिर सभा के प्रधान तुलसीराम सिंगला, मन्दिर के महंत रमेश शर्मा, कपड़ा मार्केट के प्रधान रामलाल सिंगला, व्यापार मंडल प्रधान पतराम तायल, रमेश जिंदल, रोशनलाल सिंगला, आनन्द लाठर, विश्वनाथ सिंगला, राजकुमार गोयल, किरण जिंदल सुनील शर्मा, ऋषि सिंगला आदि मौजूद थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें