पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

यातायात बंद:किसान आंदोलन से 18000 करोड़ रुपए का हैंडलूम कारोबार प्रभावित

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंसार बाजार के कंबल मार्केट में छाया सन्नाटा। - Dainik Bhaskar
इंसार बाजार के कंबल मार्केट में छाया सन्नाटा।
  • 65 दिन से जीटी रोड बंद होने से पानीपत के कारोबार पर असर
  • किसान भी परेशान, बोले- ‌20-22 किलो हरा धनिया बेचता था, ‌2 बेच रहा हूं

कृषि कानून के विरोध में किसानों ने 65 दिन से जीटी रोड हाईवे बंद कर रखा है, जिससे हैंडलूम उद्योग का करीब 18000 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ है। दिल्ली के रास्ते होने वाला पूरा का पूरा कारोबार प्रभावित है। यातायात बंद होने से बाजारों में सन्नाटा है। सिर्फ लोकल खरीदारी ही बची है। रही-सही कसर दो दिनों से बंद इंटरनेट ने पूरी कर दी।

शनिवार को 19000 के करीब ई-वे बिल नहीं कटे। 9 माह से लग रही ऑनलाइन क्लासेस शनिवार को नहीं लगी। दिल्ली जाने वाले राहगीर परेशान हैं। परेशान तो ट्रांसपोर्टर भी हैं, क्योंकि कारोबार बंद होने का सीधा असर इन्ही पर पड़ा है। किसान भी कहां खुश हैं।

प्रति कार्टून बढ़ गया 130 रुपए खर्च: जूते के थाेक व्यापारी साैरभ ली का कहना है कि जूते व चप्पल से संबंधित सारा माल दिल्ली से ही मंगाते हैं। इन महीनाें में प्रति दिन 10 से 12 कार्टून मंगवाते थे, लेकिन अब 2 या 3 ही मुश्किल से अा पाते हैं। पहले 70 से 80 रुपए प्रति कार्टून रेट हाेता था, अब 200 रुपए प्रति कार्टून तक लग रहा है। शहर में जूते-चप्पलाें की छाेटी बड़ी करीब 2000 दुकान हैं। ज्यादातर दुकान खाली हाे चुकी हैं।

इंटरनेट बंद होने से और बढ़ी परेशानी, 19000 ई-वे बिल नहीं कटे

3 पॉइंट से जानिए, उद्योग क्यों सबसे अधिक प्रभावित

105 हजार करोड़ वाले हैंडलूम उद्योग को रोजाना 270 करोड़ का नुकसान पानीपत इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रधान उद्यमी प्रीतम सिंह सचदेवा ने कहा कि दो माह से कारोबार बड़े स्तर पर प्रभावित है। राजधानी दिल्ली से जुड़ी खरीदारी कम हो गई। रॉ मटीरियल आने में परेशानी हो रही। पानीपत का सालाना 105 हजार करोड़ का पूरा कारोबार है। इस आंदोलन से रोजाना 270 करोड़ का नुकसान हो रहा है।

दिल्ली से जाने वाले माल से जुड़ा कारोबार ठप: डायर्स एसोसिएशन के प्रधान भीम सिंह राणा ने कहा कि उड़ीसा हो या असम, कर्नाटक हो या झारखंड़, अन्य राज्यों में दिल्ली से बड़े लेवल पर माल जाते हैं। कारोबारी हर जगह से कलेक्शन करके दिल्ली से मंगाते थे। पानीपत से जो माल दिल्ली में जमा होते थे। वे दो माह से पूरी तरह से बंद हैं। इसका बड़ा असर पड़ा है।

बाजारों में सन्नाटा, क्योंकि सिर्फ लोकल खरीदार बचे: पंचरंगा बाजार शॉल एसोसिएशन के प्रधान अशोक नारंग ने कहा कि दूसरे शहरों से लोग माल सलेक्ट करने पानीपत आते थे। इस बार वे लोग गायब हैं। कौन आएगा, दिल्ली से आने में 9 घंटे लग रहे हैं। नारंग ने कहा कि एक-दो उद्यमी तो आए, उसके बाद से आना बंद हो गया।

किसान बोले- 2 से 3 में बिक रही सब्जियां

दिल्ली में हाे रहे किसान आंदाेलन का असर पानीपत की सब्जी मंडियाें व किसानाें पर भी देखने काे मिल रहा है। पिछले साल के मुकाबले किसानाें काे उनकी सब्जियाें के दाम 10 गुना तक कम मिल रहे हैं। जाे सब्जियां किसान की पिछले साल 20 से 25 रुपए में बिक रही थी, वाे सब्जियां किसानाें की 2 से 3 रुपए में बिक रही है। करहंस गांव के किसान राजबीर ने बताया कि पहली बार हरा धनिया लगाया था। जाे 2 से 3 रुपए किलाे बिक रहा है। 2 एकड़ में लगाकर हमने अपना नाश कर लिया है।

दुकानदारों को भी नहीं मिल रहे ऑर्डर

बाजाराें में रेडिमेंड गारमेंट्स का कामकाज सबसे प्रभावित है। रेडिमेंड गारमेंट्स के थाेक काराेबारी एवं प्रेम मंदिर बाजार एसोसिएशन प्रधान इंद्रजीत कथूरिया का कहना है कि हर साल इन्हीं महीनाें में सर्दी के कपड़ाें का पूरा माल निपटाकर गर्मी के कपड़ाें का माल का स्टाक शुरू कर देते थे। इस बार कुछ भी माल नहीं मंगवा पाए। 10 ऑर्डर में से मात्र 2 भी पूरे नहीं हाे रहे।

यातायात: दिल्ली की सेवा पूरी तरह बंद

पानीपत-दिल्ली की बस सेवा इस समय पूरी तरह से बंद है। स्टैंड इंचार्ज शमशेर सिंह ने बताया कि सामान्य दिनाें में सुबह 2 बस और दाेपहर बाद 3 बस चलती थी। एक सप्ताह पहले इन्हें पानीपत से बहालगढ़ से नरेला रूट से गांवाें से घूमते हुए दिल्ली भेजना शुरू किया था। किराया 115 रुपए तय किया गया था। ये भी अब बंद हैं। दैनिक यात्री पवन व धर्मबीर का कहना है कि निजी टैक्सी वाले दिल्ली के लिए 300 से 400 रुपए तक वसूली कर रहे हैं।

बंद इंटरनेट ने पूरे सिस्टम को बिगाड़ा: हरियाणा चैंबर ऑफ काॅमर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रधान विनोद खंडेलवाल ने कहा कि इंटरनेट ने पूरे सिस्टम को बिगाड़ने का काम किया है। जहां पर वाई-फाई कनेक्शन था, वे तो ई-वे बिल काटने में सफल रहे, लेकिन जो मोबाइल इंटरनेट पर निर्भर थे। वे पूरी तरह से ठप रहे। करीब 19000 ई-वे बिल नहीं कटे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें