• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • 6 new cases, including mother, daughter and son, 10 were cured, {the first 100 cases took 90 days, the next hundred took just 15 days

कोरोना की डबल सेंचुरी / मां, बेटी व बेटा समेत 6 नए केस, 10 ठीक हुए; पहले 100 केस आने में 90 दिन लगे, अगला सैकड़ा महज 15 दिनाें में लगा

यह तस्वीर शहर के शिवाजी स्टेडियम की है। यहां खिलाड़ी दौड़ लगाने और अन्य अभ्यास करने आ रहे हैं। मगर चिंता की बात है कि मंगलवार को यहां न तो किसी ने मास्क लगा रखा था न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया। ऐसा लापरवाह रवैया घातक हो सकता है। यह तस्वीर शहर के शिवाजी स्टेडियम की है। यहां खिलाड़ी दौड़ लगाने और अन्य अभ्यास करने आ रहे हैं। मगर चिंता की बात है कि मंगलवार को यहां न तो किसी ने मास्क लगा रखा था न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया। ऐसा लापरवाह रवैया घातक हो सकता है।
X
यह तस्वीर शहर के शिवाजी स्टेडियम की है। यहां खिलाड़ी दौड़ लगाने और अन्य अभ्यास करने आ रहे हैं। मगर चिंता की बात है कि मंगलवार को यहां न तो किसी ने मास्क लगा रखा था न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया। ऐसा लापरवाह रवैया घातक हो सकता है।यह तस्वीर शहर के शिवाजी स्टेडियम की है। यहां खिलाड़ी दौड़ लगाने और अन्य अभ्यास करने आ रहे हैं। मगर चिंता की बात है कि मंगलवार को यहां न तो किसी ने मास्क लगा रखा था न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया। ऐसा लापरवाह रवैया घातक हो सकता है।

  • 121 मरीज ठीक होकर लौट चुके घर, अब तक 7 की जा चुकी जान अाैर 72 मरीजों का अभी चल रहा है इलाज

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:00 AM IST

पानीपत. जिले में मंगलवार काे कोरोना के 6 पाॅजिटिव मामले आए। अब केसाें का दाेहरा शतक पूरा हाे चुका है। प्रदेश में अब 200 या उससे ज्यादा मामलाें में पानीपत 12वें नंबर पर आ गया है। जिले में कुल 200 केस हाे गए हैं। पहले 100 केस आने में आने 90 दिन(19 मार्च पहले केस से लेकर 15 जून 100वें केस तक) लगे। लेेकिन अगले 100 केस आने में सिर्फ 15 दिन ही लगे। यानी अब काेराेना 5 गुणा से भी ज्यादा रफ्तार से बढ़ रहा है।

पहले 100 केसाें में 5 की माैत हुई थी और अंतिम 100 केसाें में 2 लाेगाें की काेराेना से माैत हुई है। मंगलवार काे 10 लाेगाें ने काेराेना काे हराया भी है। इनमें तहसील कैंप की 1 साल की बच्ची भी है। जिले में कुल रिकवरी केस भी 121 हाे गए हैं। अब तक कुल 7 लाेगाें की काेराेना से माैत हुई है। अब भी जिले में 72 एक्टिव केस हैं। सीएमओ डाॅ. संतलाल वर्मा ने बताया कि मंगलवार काे 243 सैंपल भेजे गए हैं। 263 रिपाेर्ट पेंडिंग है।  

इतने केस बढ़ने के 2 बड़े कारण....
सबसे बड़ी वजह: घरों में पहुंचा वायरस-जून में राेजाना 4 से भी औसत से 30 दिनाें में 138 पाॅजिटिव केस मिले। इसकी सबसे बड़ी वजह रहे परिवार। क्याेंकि सिर्फ जून में 21 परिवाराें में काेराेना पहुंचा। इनमें 21 परिवाराें में 70 से ज्यादा लाेग संक्रमित मिले। इसमें एल्डिकाे के एक परिवार में एक उद्यमी की माैत भी हाे चुकी है। जून महीने में कुल 5 लाेगाें की काेराेना से माैत हुई है। अंतिम 16 दिनाें में 3 की माैत हुई है। 

कंटेनमेंट जाेन में काेई प्लान ही नहीं: जिले में कंटेनमेंट जाेन का काेई ठाेस प्लान नहीं है। न एक्टिव प्लान है। जब भी काेराेना पाॅजिटिव किसी एरिया से मिलता है। ताे स्वास्थ्य विभाग की एक टीम डीसी काे उस एरिया काे सील कर कंटेनमेंट जाेन बनाने की सिफारिश करता है। लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि डीसी उस एरिया काे कंटेनमेंट जाेन घाेषित करने में दाे-दाे दिन लगा रहे हैं। तब तक लाेग बे-राेक टाेक घूमते हैं।

मॉडल टाउन सहित इन इलाकों में मिले केस

  • माॅडल टाउन से तीन केस मिले: 12 वर्षीय बेटी, 22 वर्षीय बेटा और 44 वर्षीय मां पाॅजिटिव मिली है। परिवार से 4 दिन पहले एक सदस्य पाॅजिटिव मिला था। सभी घर पर आइसाेलेट हैं। 
  • एक-एक केस यहां से: दाे केस दाे गांवाें से और एक केस काॅलाेनी से आया है। इनमें भरत नगर बबैल रोड के 32 वर्षीय पुरुष, महाराणा गांव के 40 वर्षीय पुरुष, भैंसवाल गांव की 22 वर्षीय युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। इनकाे सिविल अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया है।
  • ये 10 किए गए डिस्चार्ज: जिले में 10 और लाेगाें ने काेराेना काे हराया है। इसमें एक डेढ़ साल की बच्ची भी है। डिस्चार्ज होने वालों में केसाें में तहसील कैंप का 22 वर्षीय युवक, सेक्टर 13-17 से 22-23 साल के दाे भाई, 46 वर्षीय मां और 20 वर्षीय बेटी, जिला जेल से 34 वर्षीय पुरुष, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी से 22 वर्षीय युवक, तहसील कैंप की 1 वर्षीय बच्ची, दुष्यंत नगर की 30 वर्षीय महिला और बेगा गांव के 43 वर्षीय पुरुष ने काेराेना काे हराया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना