पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काेराेना संक्रमण:716 नए केस, हर 2 मिनट में एक नया मरीज, हर 4 घंटे में एक माैत

पानीपत11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हर 2 मिनट में एक केस मिल रहा है और हर 4 घंटे में एक माैत हाे रही है। - Dainik Bhaskar
हर 2 मिनट में एक केस मिल रहा है और हर 4 घंटे में एक माैत हाे रही है।
  • हैदराबादी में ऑक्सीजन खत्म, 16 मरीजों को थमाया डिस्चार्ज लेटर, हंगामा

जिले में काेराेना के पिछले सारे रिकाॅर्ड टूट रहे हैं। हाल यह है हर 2 मिनट में एक केस मिल रहा है और हर 4 घंटे में एक माैत हाे रही है। साेमवार काे 716 नए केस मिले हैं। इससे पहले 26 अप्रैल काे 675 केस मिले और 8 लाेगों की माैत हुई। उधर, हैदराबादी अस्पताल में दाेपहर करीब 1 बजे ऑक्सीजन कम होने पर डाॅक्टराेेंं ने हाथ खड़े कर दिए।

स्टाफ व मरीजों के परिजन दिनभर सड़कों पर धक्के खाते रहे। डाॅक्टराें ने मरीजाें के परिजनाें से लिखवाया कि ऑक्सीजन खत्म हाे चुकी है। मरीजाें काे कुछ हुआ ताे हम जिम्मेदार नहीं हैं। चाहे ताे आप ले जा सकते हैं। वहीं, डीसी धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि बहुत से निजी अस्पताल बिना बताए ज्यादा मरीज एडमिट कर लेते हैं। फिर मरीजाें काे दिक्कत हाेती है। हैदराबादी अस्पताल काे रविवार काे 15 और साेमवार काे 25 ऑक्सीजन सिलेंडर दिलाए गए हैं।

मरीजों से लिखवाया, कुछ हो गया तो डॉक्टर नहीं जिम्मेदार

डॉक्टरों ने मरीजों को ऑक्सीजन की कमी का मैसेज दिया। मरीजों को दूसरे अस्पताल में ले जाने को कहा तो परिजनों में हड़कंप मच गया। डॉक्टरों ने 16 मरीजों का डिस्चार्ज लेटर तैयार कर दिया। परिजनों ने कहा कि वो ऐसे समय में कहां लेकर जाए। कहीं भी जगह नहीं है। वो ऑक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था करेंगे। डॉक्टरों ने ‌मरीजों के परिजनों से लिखवाया कि अगर उनके मरीजों को ऑक्सीजन की कमी से कुछ हुआ तो डॉक्टर जिम्मेदार नहीं होंगे।

प्रशासन रहम करे: दिल्ली केे रोहित ने बताया कि उसके पिता का हैदराबादी अस्पताल में इलाज चल रहा है। बहुत मुश्किल से उसके पिता को यहां ऑक्सीजन बेड मिला है। अब अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी है। प्रशासन समय पर ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं करवा रहा है। मरीज जिंदगी और मौत के बीच में है, ऐसे में प्रशासन से अपील ह‌ै कि वो रहम करे और समय पर ऑक्सीजन उपलब्ध कराए।

कुल केसाें का आंकड़ा 22 हजार के पार

पानीपत में हर दाे दिन में हजार केसाें का आंकड़ा पार हाे रहा है। अब 22 हजार के पार केस हाे चुके हैं। अब-तक कुल 22 हजार 469 मरीज आ चुके हैं। साेमवार काे 1205 सैंपल लिए गए हैं। इनमें 5641 केेस एक्टिव हैं। अब-तक 16263 लोग रिकवर हुए हैं। 290 केस अनट्रेस हैं। अभी तक 275 मौतें हो चुकी हैं।

सोमवार को 8 की माैत काबड़ी रोड निवासी 32 वर्षीय युवक, रेलवे रोड समालखा निवासी 50 वर्षीय महिला, सेक्टर-6 निवासी 53 वर्षीय महिला, 52 वर्षीय पानीपत निवासी पुरुष, राजपुर निवासी 50 वर्षीय महिला, सुभाष नगर तहसील कैंप निवासी 47 वर्षीय पुरुष, बलाना गांव निवासी 67 वर्षीय पुरुष और कुटानी रोड निवासी 78 वर्षीय बुजुर्ग महिला की माैत हाे चुकी है।

अपनी रिपाेर्ट प्राप्त करने लिए ऐसे चेक करें

एसएमओ डाॅ. श्यामलाल ने बताया कि पानीपत स्वास्थ्य विभाग ने www.panipatcovid19report.in साइट बनाई है। इसपर अपना एसआरएफ नंबर (जाे आपके माेबाइल नंबर पर सैंपल कराने से पहले ऑनलाइन मैसेज में आता है) डालें। उसके बाद गेट रिपाेर्ट करें। आपकी रिपाेर्ट खुल जाएगी। अस्पताल में भीड़ लगाने की बजाए रिपाेर्ट ही ऑनलाइन बताएं। इससे संक्रमण से बचे रहेंगे और रिपाेर्ट भी मिल जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें