पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुकून भरा शनिवार:82 दिन बाद 8 नए केस, 46 दिन बाद काेई नई माैत नहीं

पानीपत6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जून महीने के 5 दिन में सिर्फ 9 नई माैताें हुई हैं। - Dainik Bhaskar
जून महीने के 5 दिन में सिर्फ 9 नई माैताें हुई हैं।
  • काेराेना केसाें का कुल आंकड़ा 30,922 पहुंचा, 29,967 रिकवर हुए

शनिवार का दिन जिले के लिए सुकून भरा रहा। क्याेंकि 82 दिन के बाद (15 मार्च के बाद) जिले में काेराेना के सबसे कम सिर्फ 8 नए केस मिले हैं। इससे पहले 15 मार्च काे 5 केस आए थे। वहीं, 46 दिन (20 अप्रैल के बाद) काेई नई माैत नहीं हुई है। इससे पहले 20 अप्रैल काे किसी की माैत नहीं हुई थी। हालांकि शनिवार काे तीन पुरानी माैताें काे आंकड़ाें में जरूर जाेड़ा गया है। जून महीने के 5 दिन में सिर्फ 9 नई माैताें हुई हैं। वहीं, विभाग ने 30 पुरानी माैताें काे भी आंकड़ाें में जाेड़ा है।

यानी जून में अब तक स्वास्थ्य विभाग ने कुल माैताें के आंकड़ाें में 39 लाेगाें की माैत की पुष्टि की है। अब कुल केसाें का आंकड़ा 30 हजार 922 पर पहुंच गया है। वहीं, शनिवार काे 34 लाेगाें की रिकवरी के बाद रिकवरी का अांकड़ा 29 हजार 967 पर पहुंच गया है। अब सिर्फ 368 केस यानी कुल केसाें में से सिर्फ 1.19 फीसदी केस ही एक्टिव बचे हैं।

कुल माैताें का आंकड़ा 569 पर पहुंच गया है। इधर, शनिवार काे 1 हजार 88 लाेगाें के सैंपल लिए गए। कुल सैंपलाें का आंकड़ा 3 लाख 7 हजार 300 हो गया है।

गांवाें का सर्वे पूरा हुआ, 250 टीमाें की स्क्रीनिंग में 142 पाॅजिटिव मिले

हरियाणा विलेज जनरल हेल्थ चेकअप स्कीम के तहत 250 टीमों ने गांवों में स्क्रीनिंग सर्वे पूरा किया। 1 लाख 26 हजार 954 घरों में जाकर 5.62 लाख ग्रामीणों का स्वास्थ्य जांचा। इसमें 2595 बीमार मिले। रैपिड एंटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट में 142 कोरोना पाॅजिटिव मिले।

नोडल अधिकारी डाॅ. ललित वर्मा ने बताया कि टीम-1 ने घरों में स्क्रीनिंग की, टीम-2 ने केंद्रों में मरीजों की देखभाल की। 2 हजार 595 ग्रामीण ऐसे चिह्नित किए गए जिन्हें खांसी-जुकाम व बुखार था। 1757 को आइसोलेशन केयर सेंटर भेजा गया। 1 हजार 801 के रैपिड एंटीजन किट से स्वाब सैंपल लिया गए। तो 91 की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। 1 हजार 240 ग्रामीणों का आरटीपीसीआर टेस्ट हुआ, इसमें 51 पॉजिटिव मिले।

20 गांवों में दोबारा स्क्रीनिंग की जाएगी

डाॅ. ललित वर्मा ने बताया कि जिले के सभी ब्लाॅकों में ऐसे गांव चिह्नित किए गए हैं, जहां 10 से अधिक केस पाॅजिटिव आए हैं। ऐसे लगभग 20 गांव हैं। इन गांवों में टीमें दोबारा घर-घर जाकर स्क्रीनिंग व सैंपलिंग करेगी।

खबरें और भी हैं...