पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • 92.54 Percent Gave The Exam At 26 Centers, Reached The Room After Checking In 4 Levels, The Candidates' Photos Were Pasted On The Desk

एचसीएस व एलाइड सर्विस का एग्जाम:26 केंद्रों पर 92.54 प्रतिशत ने दी परीक्षा, 4 लेवल में जांच करा रूम तक पहुंचे, डेस्क पर चस्पा थे परीक्षार्थियों के फाेटाे

पानीपत10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत. आर्य काॅलेज से परीक्षा देकर बाहर निकलते परीक्षार्थी। - Dainik Bhaskar
पानीपत. आर्य काॅलेज से परीक्षा देकर बाहर निकलते परीक्षार्थी।
  • परीक्षार्थी जाे मास्क पहनकर आए थे, केंद्र के बाहर ही उतरवाए, आयाेग के अनुमति पत्र बिना केंद्र में किसी काे नहीं करने दिया प्रवेश

जिले के 26 सेंटर में 8212 परीक्षार्थियों में से करीब 7600 (92.54 %) ने एचसीएस और एलाइड सर्विस की परीक्षा दी। परीक्षा केंद्र के अंदर और बाहर पुलिस का सख्त पहरा रहा। परीक्षार्थी जाे मास्क घर से पहनकर आए थे, उन्हें बाहर ही उतरवा दिए। उन्हें यूज एंड थ्राे मास्क दिए गए। महिलाओं काे नाेज पिन, मंगलसूत्र भी गेट पर ही उतरवा लिए। डीसी सुशील सारवान ने बताया कि परीक्षा के लिए नोडल अधिकारी एडीसी वीना हुड्डा काे बनाया गया था। परीक्षा सुबह और शाम की दाे शिफ्टों में थी।

इसके लिए जिले में 26 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। दाेनाें ही शिफ्ट की परीक्षा के लिए दाे घंटे पहले ही परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों के लिए प्रवेश शुरू कर दिया गया। परीक्षा शुरू हाेने से 10 मिनट पहले गेट बंद कर दिए। उसके बाद एक भी परीक्षार्थी काे प्रवेश नहीं करने दिया गया। गेट से लेकर परीक्षा कक्ष तक 4 लेवल में परीक्षार्थियों की चेकिंग गहनता से की गई।

कर्मचारी चयन आयाेग ने पहले ही आदेश दे दिए थे कि किसी काे भी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, कड़ा, मंगलसूत्र, नाेज पिन पहनकर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। इसके बाद भी कई महिला परीक्षार्थी नाेज पिन और मंगलसूत्र पहनकर परीक्षा केंद्र पर पहुंच गईं। चेकिंग टीम ने उन्हें गेट पर ही राेक दिया। बहुत सारे ऐसे परीक्षार्थी ऐसे थे, जिनके हाथाें और गले में मन्नत के धागे बंधे थे। पुलिस कर्मियाें ने इन धागाें काे कटवा दिया।

परीक्षा में डिजिटल करेंसी से जुड़े सवाल भी थे पेपर में
सुबह की शिफ्ट में हुए पेपर में डिजिटल करेंसी से जुड़े दाे सवाल भी रहे। पहले सवाल में काैन सा मिलान गलत है, इस पर अभ्यर्थी काे टिक करना था। जिसका एक ऑप्शन बिटकाॅइन- क्रिप्टाे करेंसी था। वहीं, दूसरे सवाल ब्लाॅकचैन तकनीक काे लेकर सवाल पूछा गया। जिसके एक ऑप्शन में ब्लाॅकचैन एक क्रिप्टाे करेंसी रहा।

संदिग्ध वाहनाें काे किया चेक
एएसपी पूजा वशिष्ट ने बताया कि परीक्षा केंद्राें के आसपास खड़े 4 पहिया वाहनाें को हटवाया। केंद्र के पास भीड़ नहीं जुटने दी। अभ्यर्थियाें के साथ आए परिजन को भी दूर जाकर इंतजार करने के लिए निर्देश दिए गए।

चेकिंग टीम ने दिए मास्क
परीक्षा में किसी तरह की गड़बड़ी न हाे, इसलिए प्रशासन ने पहले ही पुख्ता इंतजाम कर लिए थे। इस कड़ी में परीक्षार्थियों काे उनके मास्क के साथ केंद्र में प्रवेश नहीं करने दिया गया। उन्हें गेट पर भी उतरवा दिया। टीम ने अपनी तरफ से यूज एंड थ्राे मास्क पहनाकर सेंटर में भेजा।

बस स्टैंड पर रही भीड़
बस स्टैंड तक परीक्षार्थी सीट पाने के लिए मशक्कत करते हुए नजर आए। शाम की शिफ्ट की परीक्षा खत्म हाेने के बाद बसस्टैंड, सिविल अस्पताल, स्काईलार्क चाैक, लालबत्ती चाैक, संजय चाैक व गाेहाना राेड चाैक के पास युवाओं की भीड़ हाेने के कारण कुछ देर के लिए जाम की स्थिति बन गई।

खबरें और भी हैं...