• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • A map will be made of all districts, complete information including lab of corona examination, curfew will remain in the state from 9 am to 5 am

कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ्तार / सभी जिलों का बनेगा मैप, कोरोना जांच की लैब समेत होगी पूरी जानकारी, प्रदेश में रात 9 से सुबह पांच बजे तक रहेगा कर्फ्यू

गुड़गांव| कैंप लगाकर संदिग्ध पेशेंट की जांच करते स्वास्थ्य कर्मी। गुड़गांव| कैंप लगाकर संदिग्ध पेशेंट की जांच करते स्वास्थ्य कर्मी।
X
गुड़गांव| कैंप लगाकर संदिग्ध पेशेंट की जांच करते स्वास्थ्य कर्मी।गुड़गांव| कैंप लगाकर संदिग्ध पेशेंट की जांच करते स्वास्थ्य कर्मी।

  • प्रदेश में एक दिन में करीब 300 मामले आए सामने, सरकार ने जारी किए नए आदेश
  • प्रदेश में बढ़े कंटेनमेंट जोन, अकेले गुड़गांव में 100 से ज्यादा, अब सभी जिलों में 100-100 बेड और रिजर्व करने के आदेश

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

पानीपत. सभी डीसी अपने-अपने जिलों का आज रात तक एक मैप तैयार करेंगे, जिसमें फोन नंबर सहित कोविड-19 टेस्ट लैब की पूर्ण जानकारी हो। यदि कोई व्यक्ति किसी भी समय कोविड-19 का टेस्ट करवाना चाहता है तो उसे जानकारी होनी चाहिए कि उसे अपने जिले में प्राइवेट या सरकारी किस नजदीकी लैब में जाना है। सभी प्रकार की लैब्स, आइसोलेटिड वार्डस, होम क्वारंटाइन तथा कोविड-19 अस्पतालों में बैड की सुविधा सभी के मोबाइल नंबरों की जानकारी समेत पोस्टर के रूप में सार्वजनिक स्थलों पर डिस्पले की जानी चाहिए। यह आदेश चीफ सेक्रेटरी केशनी आनंद अरोड़ा ने जारी किए हैं। 


गुड़गांव और फरीदाबाद व अन्य जिलों में कम से कम 100 कोविड बेड के लिए अलग से हर समय उपलब्धता रहनी चाहिए। जो प्राइवेट अस्पतालों के साथ भी तालमेल कर इसकी व्यवस्था करेंगे। स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने बताया कि ए एंड एम लक्षण वाले मरीजों को 10 दिन अस्पताल में रखने के बाद डिस्चार्ज किया जाता था। मरीज का सैंपल तीन दिन पहले टेस्ट लैब में भेजा जाए ताकि 10वें दिन डिस्चार्ज से पहले रिपोर्ट प्राप्त हो जाए व ट्रू नेट मशीन से भी टेस्ट किया जाए और नेगेटिव आने पर डिस्चार्ज किया जाए।

रोहतक से सैंपल की रिपोर्ट आने में लगते हैं 3-4 दिन
अभी तक गुड़गांव के मरीजों की जांच कोरोना जांच पीजीआइ रोहतक में कराई जाती रही है। हर रोज सैंपल लेकर शाम को पीजीआइ में पहुंचाए जाते हैं और मरीजों की जांच रिपोर्ट तीन से चार दिन में आती है। स्वास्थ्य विभाग भी ज्यादा मरीजों के सैंपल इसलिए नहीं ले रहा था कि रोहतक में सैंपलों की संख्या ज्यादा होने के कारण जांच में देरी हो रही है। वहां पर अन्य जिलों से भी सैंपल आ रहे हैं। हरियाणा में सोमवार तक कुल 2440 पॉजिटिव केस हो चुके हैं, जिनमें अकेले गुड़गांव से 903 पॉजिटिव केस हैं। हालांकि राहत की बात है कि हरियाणा में मौतों का रेश्यो घटकर एक फीसदी से भी नीचे आ गया है।

ज्यादा भीड़ वाली जगह पर प्रशासन खुद तय करे नियम
गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदेश में सभी दुकानें सुबह नौ से सायं सात बजे खोलने की स्वीकृति प्रदान की गई है। दुकानें खोलने के संबंध में ऑड-ईवन या लेफ्ट-राईट का कोई फार्मूला नही होगा परन्तु तंग एवं भीड़भाड़ वाले बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए प्रशासन स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार निर्देश जारी करेंगे। केंद्र सरकार के निर्देशों के अनुसार रात्रि नौ से सुबह पांच बजे तक कफर्यू रहेगा और इस दौरान किसी भी प्रकार की गतिविधि नही की जा सकेगी। गृहमंत्री ने कहा कि राज्यभर में सैलून खोलने, शादियों इत्यादि के विषय में शीघ्र ही मानक तय किए जाएंगे। धार्मिक स्थलों के खोलने तथा उनकी व्यवस्था के संबंध में जल्द ही दिशा-निर्देश जारी होंगे। इसके अलावा रेस्टोरेंट, ढाबें इत्यादि में होम डिलीवरी ही की जा सकती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना