• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Admission Is Being Done Through Open Counseling In Degree Colleges After Two Merits, Seats Are Getting Less If Everyone Has Passed In 12th, DHE Sent Letter To Start Class From October 1

पानीपत के कॉलेजों की 10% सीटें बढ़ाने की मांग:दो मेरिट लिस्ट के बाद ओपन काउंसिलिंग से हो रहे एडमिशन; लेकिन आवेदक ज्यादा सीटें कम, इसलिए लिखा गया लेटर

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत के प्रमुख डिग्री कॉलेजों ने UG की 10 प्रतिशत सीटें बढ़ाने के लिए कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी को लेटर लिखा गया है। दरअसल कोरोना काल में 12वीं के सभी स्टूडेंट्स के पास हो जाने के कारण डिग्री कॉलेजों में सीटें कम पड़ गई हैं। दो मेरिट लिस्ट के बाद डिग्री कॉलेजों में ओपन काउंसिलिंग से एडमिशन प्रक्रिया जारी है। BA की सीटें करीब-करीब फुल हो चुकी हैं।

उधर, डायरेक्टर ऑफ हायर एजुकेशन (DHE) ने एक अक्टूबर से क्लास शुरू करने के लिए लेटर जारी कर दिया है, लेकिन पोर्टल के स्लो होने के कारण ओपन काउंसिलिंग से एडमिशन प्रक्रिया धीमी चल रही है। कॉलेजों ने 4 अक्टूबर से क्लास शुरू करने का सुझाव दिया है। लेकिन एडमिशन को लेकर मारामारी मची हुई है। आलम यह है कि डिग्री कॉलेजों में दो मेरिट के बाद ही 95 प्रतिशत सीटें भर गईं।

10 प्रतिशत सीटें बढ़ाने की मांग

आर्य डिग्री कॉलेज के प्राचार्य डॉ. जगदीश गुप्ता ने बताया कि कॉलेज में BA की सीटें लगभग फुल हो चुकी हैं। बाकी कोर्स का भी यही हाल है। जबकि एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स की अभी कतार लगी है। इस कारण कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से सभी कोर्स में 10 प्रतिशत सीटें बढ़ाने की मांग की गई है। अनुमति मिलने के बाद बढ़ी हुई सीटों पर ओपन काउंसिलिंग से एडमिशन लिए जाएंगे।

ओपन काउंसिलिंग में 94.8% प्रतिशत पहुंची मेरिट

ओपन काउंसिलिंग में भी BA की मेरिट लिस्ट 94.8 प्रतिशत है। ऐसे में कम अंकों वाले स्टूडेंट्स को प्रवेश मिलना मुश्किल हो रहा है। कम अंकों वाले स्टूडेंट्स को प्राइवेट पढ़ाई करनी पड़ेगी।

खबरें और भी हैं...