पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पानीपत में लौटी गर्मी:पांच दिन बाद तेज धूप के साथ हुई दिन की शुरूआत, एक डिग्री बढ़ा तापमान, इंतजार करा रही बारिश

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत में सुबह के समय खिली ते� - Dainik Bhaskar
पानीपत में सुबह के समय खिली ते�
  • पूर्वी हवाएं बढ़ने से रोक रही मानसून, धान रोपाई जोरों पर, बारिश न होने से बढ़ी चिंता

बारिश का इंतजार कर रहे पानीपत में शनिवार की शुरूआत तेज धूप के साथ हुई। बीते पांच दिनों ने बारिश तो बहुत कम हुई, लेकिन आसमान में छाए बादल और तेज हवाओं ने गर्मी से राहत दिलाई। लगातार कम होने के बाद अब तापमान में भी बढ़ोत्तरी शुरू हो गई है। मौसम विभाग ने रविवार को बारिश की उम्मीद जताई है। शनिवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस रहेगा।

बीते पांच दिनों से पानीपत में दिनभर बादल छाने और तेज हवाएं चलने के कारण गर्मी से राहत मिली हुई थी। शनिवार को सुबह से ही निकली तेज धूप ने तपिश बढ़ा दी। हवाएं शांत रहने के कारण धूप की चुभन अधिक रही। आज दिनभर धूप और लू सताएगी। शाम को बादल छाने के आसार हैं।

हरियाणा कृषि एवं मौसम विभाग के अनुसार देश के 80 फीसदी हिस्से में मानसून आ चुका है। हरियाणा में मानसून ने 13 जून को प्रवेश कर लिया था, लेकिन पूर्वी हवाओं ने मानसून को बढ़ने से रोक दिया। इसी कारण पानीपत समेत प्रदेश अन्य जिलों में बादल तो छाए, लेकिन बारिश नहीं हुई। विंड पैटर्न बदले और उत्तरी हवाएं चलने के बाद ही मानसून पूरे प्रदेश में पहुंचेगा।

धान किसानों की बढ़ी चिंता
कृषि विज्ञान केंद्र प्रभारी डॉ. राजबीर गर्ग ने बताया कि पानीपत में धान का रकबा करीब 72 हजार हेक्टेयर है। धान की रोपाई जोरों पर है। ऐसे में बारिश न होने से किसानों की चिंता बढ़ी है। आंधी के कारण कई हिस्सों में बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई है। जिस कारण फसल को पानी नहीं मिल पा रहा है। हालांकि मौसम विभाग ने रविवार को बारिश की उम्मीद जताई है।