पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Angry Over Non payment, Teachers Of SDVM School In Panipat Staged A Sit in Till Night, Said Forcibly Signing Affidavit Management

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिक्षकों का धरना:वेतन न मिलने से नाराज पानीपत के SDVM स्कूल के शिक्षकों ने रात तक दिया धरना, बोले- जबरन शपथ पत्र साइन करा रहा मैनेजमेंट

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रात में भी स्कूल के सामने धरने पर बैठे शिक्षक। - Dainik Bhaskar
रात में भी स्कूल के सामने धरने पर बैठे शिक्षक।
  • कोरोना काल में 38 शिक्षकों को जॉब से निकालने का आरोप
  • बोले- चहेते शिक्षकों को दिया जा रहा 90% तक वेतन

पानीपत के सेक्टर-12 स्थित नामी स्कूल SDVM के शिक्षक स्कूल के सामने ही शुक्रवार को धरने पर बैठ गए। शिक्षकों का आरोप है कि स्कूल मैनेजमेंट अपने चहेते शिक्षकों को 90% तक वेतन दे रहा है। जबकि कोरोना काल में 38 शिक्षकों को नौकरी से निकाल दिया गया। अब उन्हें भी वेतन के लिए परेशान किया जा रहा है। स्कूल मैनेजमेंट उनसे बिना डेट का शपथ पत्र साइन करा कर ले रहा है। ताकि वह अपने एरियर का दावा न कर सकें। उधर, स्कूल मैनेजमेंट ने शिक्षकों को स्कूल आने के लिए कहने पर धरने पर बैठने का आरोप लगाया है।

SDVM स्कूल के शिक्षक दोपहर 3 बजे से वेतन की मांग काे लेकर स्कूल के गेट पर जुटना शुरू हाे गये। कुछ ही देर में 3 दर्जन से अधिक शिक्षक वहां जमा हाे गए। उन्हाेंने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करना शुरू कर दिया। शिक्षक सतवीर विर्क, शकुंतला गर्ग, राजकुमार सेठी, संजय अराेड़ा, सतवीर शर्मा, देवेंद्र, कमल अग्रवाल, देवेंद्र, माेहित, सुधीर खुराना ने बताया कि वह पिछले कई सालाें से स्कूल में सेवा दे रहे हैं। शिक्षक सतवीर विर्क ने बताया कि उन्हाेंने 28 साल पहले स्कूल ज्वाइन किया था। उस वक्त स्कूल में 10-12 बच्चे ही पढ़ा करते थे। आज बच्चाें की संख्या करीब 3500 है। अब प्रबंधन उन्हें बाहर निकालने की तैयारी शुरू कर रहा है। शिक्षकाें ने आरोप लगाते हुए कहा कि स्कूल प्रबंधन ने नवंबर माह से वेतन नहीं दिया है। वह लाॅकडाउन से लेकर अभी तक घर पर रहकर बच्चाें काे ऑनलाइन पढ़ाई करा रहे हैं। सभी स्टूडेंट्स फीस जमा कर चुके हैं। जबकि उन्हें फीस के लिए प्रताड़ित किया जा रहा है। शिक्षकाें ने नए प्रधान सतीश चंद्रा पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। बताया कि जब से उन्हाेंने पद संभाला है, तभी से वेतन रिलीज नहीं हाेने दिया जा रहा है। उनसे जबरन शपथ पत्र भी साइन करने का दबाव बनाया जा रहा है। ताकि वह मनमानी तरीके से वेतन दे सकें।

शिक्षकों से कल तक का वक्त मांगा था, वह नहीं माने
स्कूल प्रिंसिपल सबिता चौधरी ने कहा कि वह पूरी तरह स्टाफ के साथ हैं। वह धरने पर शिक्षकों के बीच गई थीं और शिक्षकों से कल तक का समय मांगा था। ताकि वह मैनेजमेंट से बात कर सकें, लेकिन शिक्षकों ने उनकी बात नहीं मानी। सर्दी के मौसम में महिला शिक्षिकाएं अपने परिवार के साथ धरने पर बैठे, यह उन्हें अच्छा नहीं लग रहा। प्रिंसिपल ने कहा कि किसी शिक्षक को नौकरी से नहीं निकाला गया। हालांकि कुछ शिक्षकों को नो वर्क- नो पेमेंट पर किया गया था।

शिक्षकों का हर स्थिति में सहयोग किया
स्कूल प्रबंध समिति के प्रधान सतीश चंद्रा ने कहा कि हर स्थिति में शिक्षकों का सहयोग किया गया है। लाॅकडाउन से लेकर अब तक किसी का वेतन नहीं राेका गया है और न ही किसी काे नौकरी से निकाला है। शिक्षा निदेशालय द्वारा कक्षा 6 से 8वीं तक की कक्षाएं शुरू करने को कहा है। इसलिए स्टाफ को स्कूल बुलाया जा रहा है। वह स्कूल आने का विरोध कर रहे हैं और अपने आप ही बातें बना रहे हैं। जिसकी प्रबंधन को कोई जानकारी नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें