• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Attack Of The 11th Student, Who Came To Kill The Student's Friend By Snatching A Sua In The Chest 50 Meters From The Police Station, Was Arrested In CCTV

पानीपत में ITI छात्रों में गैंगवार:थाने से 50 मीटर दूर सीने में सुआ घोंपकर 11वीं के स्टूडेंट की हत्या, स्टूडेंट के दोस्त को मारने आए थे हमलावर

पानीपत9 महीने पहले
सागर का फाइल फोटो।
  • ITI की ड्रेस पहने थे हमलावर, बस स्टैंड के पास हुई घटना CCTV में कैद
  • बस में छिपे दोस्त को फोन पर हमलावरों की लोकेशन बता रहा था स्टूडेंट

पानीपत के सिटी थाने से केवल 50 मीटर दूर बस स्टैंड के पास 8-10 युवकों ने 11वीं के स्टूडेंट के सीने में सुआ घोंपने के बाद जमकर लात-घुसे मारे। जान बचाने के लिए स्टूडेंट एक इलेक्ट्रोनिक्स की दुकान में घुस गया। व्यापारियों के विरोध के बाद हमलावर मौके से भाग गए। व्यापारियों ने स्टूडेंट को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां, कुछ देर बाद स्टूडेंट ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मौके से सुआ बरामद किया है। पूरी वारदात CCTV कैमरे में कैद हो गई है।।

जींद जिले के गांव कालवा निवासी 17 साल का सागर कुंडू अपनी मां के साथ मॉडल टाउन की मुखिजा कॉलोनी में रहता और कॉलोनी स्थित नवयुग इंटर कॉलेज में 11वीं में पढ़ता था। गुरुवार को करीब 2.50 बजे वह अपने एक दोस्त के साथ बस स्टैंड के पास ब्लैक डोर कैफे आया। सागर के दोस्त का कुछ युवकों से विवाद चल रहा था। वह युवक भी बस स्टैंड पर आ गए।

इन युवकों को देख सागर को दोस्त बस स्टैंड पर खड़ी बस में जाकर बैठ गया। जबकि सागर फोन पर अपने दोस्त को हमलावरों की लोकेशन बता रहा था। शक होने पर युवकों ने सागर पर हमला कर दिया। एक युवक ने सागर के सीने में बर्फ तोड़ने वाला सुआ घोंप दिया। जिसके बाद वह जमीन पर गिर गया। इसके बाद युवकों ने उस पर लात-घूसों से हमला किया।

सागर बचने के लिए पास स्थित ठकराल इलेक्ट्रानिक्स की दुकान में घुस गया। हमलावर भी उसे पकड़ने के लिए दुकान में घुसे। दुकान के व्यापारी और वर्करों के विरोध करने के बाद युवक दुकान से निकलकर भाग गए। व्यापारियों ने सागर को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां, डॉक्टरों ने उसका इलाज शुरू किया। हालत गंभीर होने के कारण डॉक्टर उसे रेफर करने की तैयारी कर ही रहे थे कि सागर ने दम तोड़ दिया।

अस्पताल पहुंचने के बाद सागर ने तोड़ा दम।
अस्पताल पहुंचने के बाद सागर ने तोड़ा दम।

सागर चिल्लाता रहा- मैं नहीं हूं भाई, मुझे मत मारो
जब हमलावरों ने सागर पर हमला किया तो वह चिल्ला-चिल्लाकर कहता रहा कि मैं नहीं हूं भाई, मुझे मत मारों, लेकिन हमलावरों ने एक न सुनी और सुआ घोंपने के बाद जमीन पर गिरे सागर पर जमकर लात-घूसे बरसाए।

ITI की ड्रेस पहने थे हमलावर, एक दिन पहले भी मारी थी गंडासी
सागर के दोस्तों ने बताया कि हमलावरों ने ITI की ड्रेस पहनी हुई थी। एक दिन पहले भी इन्ही युवकों ने सागर के दोस्त पर हमला किया था। कॉलोनी के दोस्त सागर के साथी का नाम-पता नहीं जानते।

पिता की हो चुकी मौत, मां के साथ रहता था
सागर के पिता की करीब 12 साल पहले मौत हो चुकी है। तभी से वह मुखिजा कॉलोनी में मां के साथ रहता था। बड़ा भाई देवेंद्र चंडीगढ़ में जॉब करता है। मामा ही उसकी पढ़ाई व परिवार का खर्च उठाते हैं।

मौके पर पड़ा सुआ, जिससे सागर की हत्या की गई।
मौके पर पड़ा सुआ, जिससे सागर की हत्या की गई।

CCTV में कैद हुई पूरी वारदात, मौके पर छोड़ गए सुआ
बस स्टैंड के पास स्थित दुकानों में लगे CCTV कैमरों में हत्या की पूरी वारदात कैद हुई है। पहले दो युवकों ने सागर पर हमला किया था। इसके बाद 7-8 युवक और आ गए। दो युवकों ने रुमाल से चेहरा ढक रखा था। जबकि, बाकी के चेहरे खुले थे। वारदात के बाद हत्यारे सुआ को मौके पर ही छोड़ गए। जिसे पुलिस ने बरामद किया है। अब पुलिस हत्यारों की तलाश कर रही है।

2:30 बजे हुई थी पड़ोसी दोस्त से बात
सागर के पड़ोस में रहने वाले दोस्त आकाश ने बताया कि उसने 2:30 बजे सागर को कॉल की थी। उसने नया बैंक अकाउंट खुलवाया है। उसके डेबिट कार्ड का पिन सेट करने के लिए उसने सागर को साथ चलने के लिए कहा। तब सागर ने बस स्टैंड पर होने और कुछ देर बाद घर आने की बात कही थी।

बोरे में भरकर लाए थे लाठी-डंडे
प्रत्यक्षदर्शी हरिओम ने बताया कि 8-10 युवक बोरे में लाठी-डंडे व अन्य हथियार लिये हुए थे। सागर के देखने के बाद वह उसकी ओर भागे और एक युवक ने सुआ मार दिया। सागर ने बचने की काेशिश की, लेकिन फिर पकड़ लिया। व्यापारियों के विरोध के बाद हमलावर भाग गए।

खबरें और भी हैं...