पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Board Should Tighten On Illegal Industries, Stop Burning Garbage And Spraying Water On Corporations And Plants Will Reduce Pollution Problem

अच्छी पहल:अवैध उद्योगों पर सख्ती करे बोर्ड, कूड़ा जलाना रोके और पेड़-पौधों पर निगम करे पानी का छिड़काव तो कम होगी प्रदूषण की समस्या

पानीपत14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर 25 में उड़ती धूल के कारण वायु प्रदूषण बढ़ रहा है। यहां रोजाना ऐसे ही हालात रहते हैं।
  • कूड़ा-करकट जलाने वालों की पहचान बताने पर 21 हजार का इनाम देगी डायर्स एसोसिएशन
  • पिछले 5 दिनों से शहर में वायु की गुणवत्ता तय मानक से 3 गुना ज्यादा

शहर की हवा प्रदूषित हाेती जा रही है। लगातार 5वें दिन वायु गुणवत्ता इंडेक्स अधिकतम तय मानक 3 गुना ज्यादा रहा। शनिवार को एक्यूआई 295 रहा, जो अधिकतम 100 रहना चाहिए। प्रदूषण को रोकने के लिए हरियाणा स्टेट पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (एचएसपीसीबी) और जिला प्रशासन के आदेश तो हुए ही हैं, उद्यमियों ने भी अच्छी पहल की है।

डायर्स एसोसिएशन ने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को लिखकर दिया है कि जो कोई भी उनके एरिया में कूड़ा-करकट जलाने की सही सूचना देगा, ऐसे लोगों का नाम गुप्त रखकर उसे 21 हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा। एसोसिएशन के प्रधान भीम सिंह राणा ने कहा कि अधिकृत रूप से चल रही इंडस्ट्रीज नियमों के दायरे में ही चल रही है। अवैध रूप से चल रही इंडस्ट्री पर लगाम लगाने की जरूरत है तो शहर का वातावरण ठीक रहेगा।

अब विभागों पर इसे लागू कराने की जिम्मेदारी

  • निगम कमिश्नर को रोड, मैदान, सड़क किनारे के पेड़-पौधों पर टैंकर से छिड़काव करने, गार्बेज बर्निंग के चालान काटने और सख्ती से रोकथाम करने के निर्देश दिए।
  • एनएचएआई को निर्देश दिए कि लगातार टैंकर से सड़क की धुलाई करवाएं। हाईवे किनारे के पेड़-पौधों पर छिड़काव करवाएं।
  • हाईवे पर जितनी भी कंस्ट्रक्शन साइट हैं उन पर नजर रखें। हवा के साथ धूल न उड़े इसलिए छिड़काव करवाएं। एंटी फॉग गन का प्रयोग करें।
  • एडीसी को जिम्मेदारी सौंपी। कहा कि पराली प्रबंधन को लेकर किसानों को जागरूक करें। ग्राम पंचायत आदि की मदद लें। गांव-गांव जाकर किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित करें।
  • पीडब्ल्यूडी को भी निर्देश दिए हैं कि रोड पर छिड़काव करवाएं।

5 पाॅइंट पर काम हो तो बदल सकती है शहर की सूरत

1 प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 350 उद्योग को नोटिस दिया और दो-तीन दिनों में ही 310 उद्यमियों ने अंडरटेकिंग दे दी कि वह अधिकृत फ्यूल जलाएंगे। प्रदूषण की असली वजह रिहायशी एरिया में अवैध रूप से चल रही इंडस्ट्री है जो किसी नियमों को नहीं मानते। इसलिए, बोर्ड को यहां हिट करने की जरूरत है।

2 प्रदूषण नियंत्रित करने की आधी जिम्मेदारी तो नगर निगम की है। खाली समय में सड़कों की नियमित सफाई सुनिश्चित करनी है। जिसे पेड़-पौधों पर लगातार पानी का छिड़काव कराना है। और सबसे महत्वपूर्ण- कूड़ा जलाने पर पूर्ण रोक लगानी है। सेक्टर्स हो या अन्य जगह, आज भी कूड़े जलाए जा रहे।

3 पानीपत बीबीएमबी-नांगलखेड़ी से ही हाईवे का निर्माण चल रहा है। जो सोनीपत तक 45 किलोमीटर के दायरे में चल रहा है। इसलिए एनएचएआई को सुनिश्चित करना है कि हाईवे की सफाई को ताकि धूल उड़ने से रोका जाए। साथ ही पेड़-पौधों व सड़क पर पानी का छिड़काव करवाना होगा।

4 प्रदूषण के लिए इंडस्ट्री को ही सबसे बड़ा गुनहगार समझा जाता है, लेकिन वाहन सबसे बड़ा कारण है। धुआं उगलते वाहन आज भी शहर में बेधड़क दौड़ रहे हैं। ट्रैक्टर हो या लोडिंग वाहन। सड़कों पर दौड़ रहे ऑटो में से बहुत कम होंगे, जिसके पास प्रदूषण सर्टिफिकेट हो। पुलिस को धुआं फेंकने वाले वाहनों पर कार्रवाई करनी होगी।

5 जिले में आज भी पराली जलाई जा रही है। सेटेलाइट इमेज से 12 से अधिक जगह चिन्हित किए गए हैं, हालांकि कृषि विभाग के साथ ही अन्य जिम्मेदार पहचान नहीं कर पा रहे हैं। प्रशासन को यह सुनिश्चित करना होगा कि पराली जलाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाए। तभी प्रदूषण नियंत्रण में रहेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप अपने अंदर भरपूर विश्वास व ऊर्जा महसूस करेंगे। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। तथा अपने सभी कार्यों को समय पर पूरा करने की भी कोशिश करेंगे। किसी नजदीकी रिश्तेदार के घर जाने की भी योजना बनेगी। तथ...

और पढ़ें