लापरवाही ने ली जान:पानीपत में टक्कर के बाद  250 मीटर तक बाइक को घसीटता रहा कैंटर चालक, सुपरवाइजर की मौत

पानीपत10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रवि शर्मा का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
रवि शर्मा का फाइल फोटो।
  • सेक्टर-29 में हाईवे की सर्विस रोड पर हुआ हादसा, दोस्त घायल
  • टक्कर के बाद चालक को लोगों ने पीटा, मौका पाकर भाग गया

सेक्टर-29 क्षेत्र के हाईवे की सर्विस रोड पर कैंटर चालक ने बाइक को सामने से टक्कर मार दी। कैंटर चालक बाइक को 250 मीटर तक घसीटता ले गया। इस हादसे में एक फैक्ट्री के सुपरवाइजर की मौत हो गई। जबकि उसका दोस्त घायल हुआ। लोगों ने चालक को पकड़कर पीटा, लेकिन वह मौका पाकर भाग निकला। पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनों को सौंपा है।

सिविल अस्पताल में विलाप करते रवि के परिजन।
सिविल अस्पताल में विलाप करते रवि के परिजन।

एकता विहार कॉलोनी का रवि शर्मा (24) सेक्टर-25 स्थित वरटैक्स फैक्ट्री में सुपरवाइजर था। रवि के भाई किशोर ने बताया कि रवि विकास नगर निवासी दोस्त नीरज पांडेय की बाइक सर्विस कराने की बात कहकर घर से निकला था। करीब 3 बजे नीरज के भाई ने उसके मोबाइल पर कॉल की तो किसी पुलिस वाले ने फोन उठाया और हादसे की जानकारी दी। नीरज के भाई ने ही रवि के परिजनों को बताया। तब तक पुलिस दोनों घायलों को एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करा चुकी थी। जहां, डॉक्टरों ने रवि को मृत घोषित कर दिया।

किशोर ने बताया कि मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सर्विस रोड पर सामने से आ रहे कैंटर चालक ने बाइक को टक्कर मारी। जिससे रवि और नीरज उछलकर सड़क पर जा गिरे। टक्कर के बाद भी कैंटर चालक बाइक को करीब 250 मीटर तक घसीट कर ले गया। लोगों ने बुलेट लगाकर कैंटर को रोका और चालक को नीचे उतारकर खूब पिटाई की। लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले ही चालक मौका पाकर भाग निकला। पुलिस ने दोनों घायलों को एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल पहुंचने से पहले ही रवि ने दम तोड़ दिया, जबकि नीरज का उपचार चल रहा है।

सात साल पहले हुई थी पिता की मौत
किशोर ने बताया कि उनका परिवार मूलरूप से UP के औरेया जिले के गांव पुखासा का रहने वाला है। बीते 12 साल से वह पानीपत में रह रहे हैं। करीब 7 साल पहले बीमारी के चलते पिता किशनलाल शर्मा की मौत हो गई थी। दोनों भाइयों पर परिवार की जिम्मेदारी थी। दोनों ने मिलकर 3 बहनों की शादी की।